पाकिस्तानः आजादी मार्च के दौरान आगजनी, तोड़फोड़ को लेकर इमरान खान समेत कई वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: May 27, 2022 08:13 AM2022-05-27T08:13:14+5:302022-05-27T08:16:46+5:30

अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है, लेकिन यदि खान ने घोषणा के अनुसार छह दिन बाद दूसरा विरोध प्रदर्शन शुरू किया तो सरकार कुछ नेताओं को पकड़ने के लिए इन मामलों का इस्तेमाल कर सकती है।

Azadi March Case filed against Imran Khan other leaders for arson by party supporters | पाकिस्तानः आजादी मार्च के दौरान आगजनी, तोड़फोड़ को लेकर इमरान खान समेत कई वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज

पाकिस्तानः आजादी मार्च के दौरान आगजनी, तोड़फोड़ को लेकर इमरान खान समेत कई वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज

Next
Highlightsइमरान खान पाकिस्तान में जल्द आमचुनाव कराने को लेकर आजादी मार्च निकाल रहे हैंमार्च के दौरान कई जगहों पर समर्थकों ने आगजनी और तोड़फोड़ की थीसरकार ने रेड जोन इलाके में सेना की तैनाती कर रखी है

इस्लामाबादः पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान और उनकी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अन्य वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ बृहस्पतिवार को पुलिस ने आगजनी और तोड़फोड़ के दो अलग-अलग मामलों में वाद दर्ज किये। इन आरोपों को इस्लामाबाद में बुधवार रात 'आजादी' रैली के दौरान पीटीआई समर्थकों द्वारा कई जगहों पर आग लगाये जाने की घटनाओं से जोड़ा गया है।

पहले मामले में जिन्ना एवेन्यू पर आगजनी और तोड़फोड़ को लेकर एक प्राथमिकी दर्ज की गई है, जबकि शहर के एक्सप्रेस चौक इलाके में आगजनी और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने को लेकर दूसरी प्राथमिकी दर्ज की गई है। दोनों प्राथमिकी पुलिस अधिकारियों की शिकायत पर दर्ज की गईं, लेकिन दूसरे मामले में स्पष्ट रूप से इमरान खान और पीटीआई के वरिष्ठ नेताओं असद उमर, इमरान इस्माइल, राजा खुर्रम नवाज, अली अमीन गंडापुर और अली नवाज अवान के नाम शामिल हैं।

अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है, लेकिन यदि खान ने घोषणा के अनुसार छह दिन बाद दूसरा विरोध प्रदर्शन शुरू किया तो सरकार कुछ नेताओं को पकड़ने के लिए इन मामलों का इस्तेमाल कर सकती है। इससे पहले दिन में, खान ने चेतावनी दी कि यदि ‘‘आयातित सरकार’’ ने छह दिनों की समय सीमा के भीतर नये आम चुनावों की घोषणा नहीं की तो वह ‘‘पूरे देश के साथ’’ पाकिस्तान की राजधानी लौटेंगे। इसके बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने पलटवार करते हुए कहा कि उनकी धमकी का कोई असर नहीं होगा और चुनाव की तारीख संसद तय करेगी। 

Web Title: Azadi March Case filed against Imran Khan other leaders for arson by party supporters

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे