WhatsApp on backfoot after controversy over privacy policy update, now this big announcement | प्राइवेसी पॉलिसी अपडेट को लेकर हो रहे विवाद के बाद बैकफुट पर व्हाट्सऐप, अब किया ये बड़ा ऐलान
सांकेतिक तस्वीर (फाइल फोटो)

Highlightsव्हाट्सऐप ने कहा कि अभी यूजर्स से किसी भी तरह की प्राइवेसी अपडेट की शर्तों को स्वीकार करने के लिए नहीं कहा जाएगा। व्हाट्सऐप ने कहा कि हमलोग अपने यूजर्स के बीच फैले भ्रम को दूर करने का प्रयास करेंगे।

नई दिल्ली: अपनी नई गोपनीयता नीति पर यूजर्स की बढ़ती चिंताओं के बीच लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप ने शुक्रवार (15 जनवरी) को घोषणा की है कि उसने ऐप के प्राइवेसी अपडेट को फिलहाल स्थगित करने का फैसला किया है। 

व्हाट्सऐप ने ऐसा करने के पीछे यह वजह बताया है कि इससे उनके यूजर्स को इस नए प्राइवेसी अपडेट के बारे में जानने और समझने का अधिक समय मिलेगा, जिसके बाद वह इस नए नियम को स्वीकार करने का बारे में आराम से फैसला ले सकेंगे। 

व्हाट्सऐप ने फिलहाल इस नए अपडेट को रोका-

यह जानना जरूरी है कि व्हाट्सऐप फिलहाल फेसबुक के मालिकाना हक वाली कंपनी है। व्हाट्सएप ने कहा कि फिलहाल इस नए प्राइवेसी अपडेट को रोकने का फैसला इसलिए लिया गया है क्योंकि उनका मानना है कि लोगों के बीच इस अपडेट को लेकर कई तरह के भ्रम फैलाए जा रहे हैं। कंपनी ने अपनी सफाई में कहा कि अभी यूजर्स से किसी भी तरह की प्राइवेसी अपडेट की शर्तों को स्वीकार करने के लिए नहीं कहा जाएगा। 

कंपनी ने साफ किया कि किसी भी यूजर्स के अकाउंट फिलहाल सस्पेंड नहीं होगा-

यही नहीं कंपनी ने साफ किया कि किसी भी यूजर्स का खाता 8 फरवरी को प्राइवेसी नियमों को नहीं स्वीकार करने पर सस्पेंड नहीं किया जाएगा। व्हाट्सऐप ने कहा कि हमलोग अपने यूजर्स के बीच फैले भ्रम को दूर करने का प्रयास करेंगे। पर गोपनीयता और सुरक्षा कैसे काम करती है। कंपनी ने नए अपडेट की प्रक्रिया को तीन माह के लिए आगे बढ़ा दिया है। साथ ही कहा कि हम 15 मई को नए बिजनेस विकल्पों को शुरू करने से पहले धीरे-धीरे लोगों के बीच जाकर अपनी नीति की समीक्षा करेंगे। 

जानें क्या है पूरा मामला

व्हाट्सएप ने हाल ही में अपने उपयोक्ताओं को सेवा की शर्तों और गोपनीयता की नीति के बारे में अपडेट देना शुरू किया था। व्हाट्सएप ने इसमें बताया था कि वह कैसे उपयोक्ताओं के डेटा का प्रसंस्करण करती है और उन्हें (डेटा को) फेसबुक के साथ किस तरह से साझा करती है।

अपडेट में यह भी कहा गया कि व्हाट्सएप की सेवाओं का उपयोग जारी रखने के लिये उपयोक्ताओं को 8 फरवरी, 2021 तक नई शर्तों और नीति से सहमत होना होगा। इसने इंटरनेट पर व्हाट्सएप के फेसबुक के साथ उपयोगकर्ताओं की जानकारियां साझा करने को लेकर बहस की शुरुआत कर दी।
 

Web Title: WhatsApp on backfoot after controversy over privacy policy update, now this big announcement

टेकमेनिया से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे