Indian Railways launched Mobile App To Book and Unreserved Tickets | रेल यात्रियों को टिकट के लिए नहीं करना होगा भाग-दौड़, रेलवे ने लॉन्च किया मोबाइल ऐप, मिलेंगी ये सुविधाएं

Highlightsजनरल टिकट लेने और उसे रद्द कराने में मिलेगी मददगूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है रेलवे की नई ऐप

नई दिल्ली, 14 जून: ट्रेनों में अनारक्षित टिकट बुक कराने के लिए भारतीय रेलवे ने एक नई मोबाइल ऐप्लिकेशन को शुरू किया है। यह ऐप सेंटर फॉर रेलवे इन्फॉर्मेशन सिस्टम (क्रिस) की ओर से बनाई गई है। रेलवे ने इस ऐप का नाम  'अटसनमोबाइल' रखा है। इस ऐप से रेल यात्री मोबाइल के जरिए जनरल टिकट के अलावा प्लेटफॉर्म टिकट भी बुक करा सकते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं, यात्री इस ऐप की मदद से सीजन टिकट का  रिन्यूअल और रेलवे वॉलेट में बैलेंस भी डाल सकते हैं।

आपको बता दें कि रेलवे ने आरक्षित टिकट बुक कराने के लिए इससे पहले ‘रेल कनेक्ट’ नाम का ऐप जनवरी 2017 में री-लॉन्च किया था।

ये भी पढ़ें- ऐपल ने पुलिस की सेंध रोकने के लिए मजबूत किये आईफोन के सुरक्षा फीचर

एंड्रॉयड और विंडो यूजर कर सकेंगे इस्तेमाल

रेलवे के इस मोबाइल ऐप का इस्तेमाल एंड्रॉयड और विंडो दोनों यूजर्स कर पाएंगे। यह ऐप Google Play Store पर डाउनोलड के लिए उपलब्ध है। हालांकि इस ऐप को इस्तेमाल करने के लिए यूजर को सबसे पहले इसमें रजिस्ट्रेशन कराना होगा। ऐप में यूजर के नाम, मोबाइल नंबर, शहर, टिकट टाइप, यात्रियों की संख्या और वो ज्यादातर किस मार्ग पर सफर करता है, इससे जुड़ी जानकारी देनी होगी।

ऐप की खास बातें:

1. 'अटसनमोबाइल' एप्लिकेशन अनारक्षित टिकटों की बुकिंग और रद्द करने, सावधिक और प्लेटफॉर्म टिकटों के नवीनीकरण, आर-वॉलेट की बकाया राशि की जांच और लोड करने में सक्षम है। यह उपयोगकर्ता के वि‍वरण और बुकिंग की जानकारी कायम रखने में सहायक है।

2. बहुत आसान और नि:शुल्‍क 'अटसनमोबाइल' एप्लिकेशन एंड्रॉइड और विंडोज स्मार्ट फोन पर उपलब्ध है। उपयोगकर्ता इस ऐप को गूगल प्‍ले स्‍टोर या विन्‍डोज स्‍टोर से निःशुल्क डाउनलोड कर सकते हैं।

3. सबसे पहले यात्री अपना मोबाइल नंबर, नाम, शहर, रेल की डिफ़ॉल्ट बुकिंग, श्रेणी, टिकट का प्रकार, यात्रियों की संख्या और बार-बार यात्रा करने के मार्गों का विवरण देकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

4. पंजीकरण कराने पर यात्री का जीरो बैलेंस का रेल वॉलेट (आर-वॉलेट) स्‍वत: ही बन जाएगा। आर-वॉलेट बनाने के लिए कोई अतिरिक्त शुल्‍क नहीं देना होगा।

5. आर-वॉलेट को किसी भी यूटीएस काउंटर पर या वेबसाइट https://www.utsonmobile.indianrail.gov.in पर उपलब्ध विकल्प के माध्यम से रिचार्ज किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें- Google ला रहा है Android का सबसे बड़ा अपडेट, पूरी तरह से बदल देगा आपका स्मार्टफोन

6. मोबाइल का इंटरनेट कनेक्शन काम नहीं करने की स्थिति में टिकट बुकिंग नहीं हो सकेगी।

7 अग्रिम टिकट बुकिंग की अनुमति नहीं है अर्थात् हमेशा वर्तमान तिथि में ही यात्रा की जायेगी।

8. पेपरलेस टिकट: यात्री टिकट का प्रिंट लिए बगैर (हार्डकॉपी) भी यात्रा कर सकते हैं। टिकट जांच कर्मी द्वारा टिकट मांगने पर यात्री ऐप में 'टिकट दिखाएं' विकल्प का उपयोग कर टिकट दिखायेंगे।

9. पेपर टिकट: यात्री इस मोबाइल ऐप के माध्यम से टिकट बुक कर सकता है। टिकट बुक करने पर, यात्री को अन्य टिकट विवरणों के साथ बुकिंग आईडी मिल जाएगी। बुकिंग विवरण बुकिंग हिस्‍ट्री में भी उपलब्ध होंगे। बुकिंग आईडी एसएमएस के माध्यम से भी बताया जाएगा।


टेकमेनिया से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे