Apara Ekadashi 2022: अपरा एकादशी व्रत 26 मई को, इस दिन भूल से भी न करें ये 6 काम

By रुस्तम राणा | Published: May 23, 2022 02:09 PM2022-05-23T14:09:54+5:302022-05-23T14:10:33+5:30

इस बार अपरा एकादशी व्रत 26 मई गुरुवार को रखा जाएगा। धार्मिक मान्यता है कि जो कोई भक्त अपरा एकादशी व्रत को सच्चे मन से करता है उसे मनोवांछित फल प्राप्त होते हैं।

Apara Ekadashi 2022 Apra Ekadashi vrat niyam | Apara Ekadashi 2022: अपरा एकादशी व्रत 26 मई को, इस दिन भूल से भी न करें ये 6 काम

Apara Ekadashi 2022: अपरा एकादशी व्रत 26 मई को, इस दिन भूल से भी न करें ये 6 काम

Next

Apara Ekadashi 2022: ज्येष्ठ माह कृष्ण पक्ष की एकादशी को अपरा एकादशी के नाम से जाना जाता है। शास्त्रों में इसे अचला एकादशी व्रत के नाम से भी जाना जाता है। इस बार अपरा एकादशी व्रत 26 मई गुरुवार को रखा जाएगा। इस दिन विधि-विधान के साथ भगवान विष्णु जी की पूजा की जाती है। धार्मिक मान्यता है कि जो कोई भक्त अपरा एकादशी व्रत को सच्चे मन से करता है उसे मनोवांछित फल प्राप्त होते हैं। शास्त्रों में निहित नियमानुसार, अपरा एकादशी के दिन कुछ विशेष कार्यों को भूलकर भी नहीं करना चाहिए। ये कार्य इस प्रकार हैं - 

1. नियमानुसार, अपरा एकादशी के दिन चावल नही खाना चाहिए। मान्यता है कि एकदशी के दिन चावल खाने से अगला जन्म रेंगने वाले जीव योनि में होता है। द्वादशी के दिन चावल खाना चाहिए। 

2. एकादशी तिथि स्वयं में पवित्र तिथि होती है। इसलिए शारीरिक संबंध या गलत विचारों आदि से दूर रहना चाहिए। इस दिन ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए और जगत के पालनहार विष्णु जी का स्मरण करना चाहिए। 

3. क्रोध व्यक्ति के विवेक को मार देता है। अपरा एकादशी के दिन व्रती श्रद्धालु को क्रोध नहीं करना चाहिए। कहा जाता है कि इस दिन क्रोध करने से भगवान विष्णु अप्रसन्न होते हैं जिससे जीवन की खुशियां चली जाती है।

4. इस दिन महिलाओं का अपमान नहीं करना चाहिए। ऐसा कहते हैं कि इससे मां लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं। इसके अलावा इस दिन नहाते समय साबुन का प्रयोग नहीं करना चाहिए और न ही नाखून और बाल काटना चाहिए। 

5. अपरा एकादशी के दिन देर तक नहीं सोना चाहिए। इस दिन जल्दी उठकर गंगाजल से स्नान करना चाहिए और पीले वस्त्र धारण करना चाहिए। विष्णु जी की पूजा करें।  

6. इस दिन तुलसी की पूजा करना न भूलें। शाम को तुलसी के समीप शुद्ध घी का दीपक जलाएं। इस दिन ऊँ वासुदेवाय नमः मंत्र का जाप करें और तुलसी की 11 बार परिक्रमा करें। मान्यता है कि ऐसा करने से आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।

Web Title: Apara Ekadashi 2022 Apra Ekadashi vrat niyam

पूजा पाठ से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे