Rajasthan Assembly Election: BSP Supremo Mayawati leads on Congress by 3 MLAs | राजस्‍थान चुनावः इन 3 विधायकों के दम पर कांग्रेस को तेवर दिखा रही हैं बीएसपी सुप्रीमो मायावती
राजस्‍थान में बीएसपी

जयपुर, 14 सितंबरः राजस्थान विधानसभा चुनाव में उतरने की तैयारी में जुटीं सभी पार्टियां अब खुलकर जनता के सामने उतरने लगी हैं। बीते ‌11 सितंबर को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने राजस्‍थान का दौरा किया और ताबड़तोड़ चार कार्यक्रमों में संबोधन किया। अब खबर है कि 20 सितंबर को कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी राजस्‍थान पहुंचने वाले हैं। राजस्‍थान करीब 25 सालों से इन्हीं दोनों पार्टियों के बीच सत्ता की अलटा-पलटी चल रही है। लेकिन आगामी विधानसभा चुनाव में तीसरी पार्टी बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अपनी जमीन बढ़ाने की पूरी तैयारी कर चुकी है। बीएसपी ने इस साल आए कर्नाटक विधानसभा चुनाव में महज 1 सीट जीती, लेकिन 1 सीट पर ही मंत्री पद लेने में कामयाब रही, जबकि कई कर्नाटक कांग्रेस नेता इस बात पर अर्से तक नाराज रहे कि उन्हें मंत्री पद क्यों नहीं दिया जा रहा है।

राजस्‍थान की मौजूद विधानसभा
पार्टीजीती सीटें
बीजेपी163
कांग्रेस21
बीएसपी3

बहुजन समाज पार्टी को 2013 चुनावों में केवल 3 सीटों पर जीत मिली थी।

राजस्‍थान की धौलपुर विधानसभा सीट 2013 रिजल्ट
उम्मीदवारपार्टीवोटवोट फीसदी
बीएल कुशवाहबीएसपी4953437.86
बनवारी लाल शर्माकांग्रेस4068330.87
अब्दुल सागिर खानबीजेपी3535126.82
राजस्‍थान की सादुलपुर विधानसभा सीट 2013 रिजल्ट
उम्मीदवारपार्टीवोटवोट फीसदी
मनोज कुमारबीएसपी5962438.21
कमलाबीजेपी5479835.12
कृष्‍णा पुनियाकांग्रेस3040119.48

 

राजस्‍थान की खेतड़ी विधानसभा सीट 2013 रिजल्ट
उम्मीदवारपार्टीवोटवोट फीसदी
पूरणमल सैनीबीएसपी42,43233
जितेंद्र सिंहकांग्रेस34,58227
दातारामबीजेपी25,22719

उल्लेखनीय है कि राजस्थान विधानसभा में कुल 200 सीटें हैं। इनमें 142 सामान्य, 33 अनुसूचित जाति और 25 अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं। मायावती चाहती हैं कि कांग्रेस उन्हें प्रमुखता से 33 अनुसूचित जाति और 25 अनुसूचित जनजाति की आरक्षित सीटों पर चुनाव लड़ने दे। क्योंकि देश की मौजूदा राजनीति में कांग्रेस समझौतों के लिए तैयार दिख रही है। यह संयोग ही है कि आगामी तीन प्रमुख राज्यों के विधानसभा चुनावों मध्य प्रदेश, राजस्‍थान और छत्तीसगढ़ में बीजेपी और कांग्रेस के बाद तीसरी पार्टी बीएसपी ही है। कांग्रेस मायावती से लोकसभा चुनावों जो करीब इन्हीं चुनावों के कुछ महीनों के बाद होने के आसार हैं, में गठबंधन की बांट जोह रही है। मायावती इसका फायदा उठाते हुए बाकयदे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर कह चुकी हैं गठबंधन को लेकर कांग्रेस नेता अपने मन से बयान ना दें, उनकी पार्टी तभी गठबंधन करेगी जब उन्हें सम्मानजनक परिस्थितियां दी जाएंगी।

ऐसे में पिछले 2013 राजस्‍थान विधानसभा चुनाव में महज तीन सीटें जीतने वाली बीएसपी इस वक्त बीजेपी और कांग्रेस के बीच खड़ी है। उन्होंने दिल्ली में आयोजित एक प्रेस कॉन्फेंस में कहा था कि राजस्‍थान की सभी 200 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए बीएसपी तैयारी बना चुकी है। इन्हीं तेवरों को देखते हुए फिलहाल कांग्रेस बीएसपी से गठबंधन को तैयार बताई जा रही है। माना जा रहा है कि चुनाव आयोग की ओर से अधिसूचना जारी करते ही स्थिति साफ हो जाएगी।

English summary :
All the parties are in preparation for the Rajasthan assembly elections and can be seen openly before the public. On September 11, the National President of Bharatiya Janata Party (BJP), Amit Shah, visited Rajasthan and addressed the four consecutive programs for Rajasthan assembly elections. Now as per the latest news, on September 20 Congress Party's national president Rahul Gandhi will also go to Rajasthan for the upcoming assembly elections in the state. In this upcoming assembly elections, the third party Bahujan Samaj Party (BSP) has also made full preparations to increase its seat in the upcoming election.


Web Title: Rajasthan Assembly Election: BSP Supremo Mayawati leads on Congress by 3 MLAs
राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे