Bihar Legislative Assembly rjd congress cpim protests attacking Nitish kumar how is the police mafia doing an encounter | बिहार विधानसभाः विपक्ष ने किया जोरदार प्रदर्शन, नीतीश पर हमला, कहा-शराब माफिया ही कैसे कर रहे पुलिस का एनकाउंटर?
विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि वह इस मामले में दोषी पुलिस अधिकारी के भूमिका की जांच करेंगे। (file photo)

Highlightsथाना प्रभारी की तरफ से धक्का-मुक्की किए जाने की घटना को लेकर जमकर बवाल हुआ है।राजद ने कानून व्यवस्था और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को लेकर सरकार के खिलाफ विधानसभा के मुख्य द्वार पर जोरदार प्रदर्शन किया। वाम दलों के विधायकों ने भी विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने के पहले ही सदन के बाहर हंगामा किया।

पटनाः बिहार विधानसभा में शून्यकाल के दौरान आज जबर्दस्त हंगामा देखने को मिला है। भाकपा-माले के विधायक महबूब आलम के साथ विधान मंडल परिसर में थाना प्रभारी की तरफ से धक्का-मुक्की किए जाने की घटना को लेकर जमकर बवाल हुआ है।

वहीं, राजद ने कानून व्यवस्था और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को लेकर सरकार के खिलाफ विधानसभा के मुख्य द्वार पर जोरदार प्रदर्शन किया। वाम दलों के विधायकों ने भी विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने के पहले ही सदन के बाहर हंगामा किया। उधर, विधानसभा में महबूब आलम ने इसकी जानकारी दी और आरोप लगाया कि मीडिया को प्रतिक्रिया देते वक्त उनके साथ एक पुलिस अधिकारी ने धक्का-मुक्की की।

इस मामले की जानकारी होने के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी सदन में उठ खडे़ हुए, उन्होंने आशन से यह मांग की कि दोषी पुलिस अधिकारी के ऊपर तत्काल कार्रवाई की जाए। तेजस्वी ने आरोप लगाया कि विधानसभा परिसर में तैनात जिस पुलिस अधिकारी ने महबूब आलम के साथ धक्का-मुक्की कि वह इसके पहले भी पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवाज पर आने वाले लोगों के साथ बदतमीजी कर चुके हैं।

इसके पहले वहां आने वाले लोगों के साथ दुर्व्यवहार किया गया है और इसको लेकर जानकारी उनके पास भी आई थी। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने विधानसभा अध्यक्ष से उक्त अधिकारी पर तुरंत कार्रवाई करने की मांग की, उन्होंने कहा कि यह पक्ष-विपक्ष का मामला नहीं है, सदन की गरिमा का सवाल है।

जनहित के मकसद से लाखों लोग चुनकर हम सबको सदन में भेजते हैं किंतु अधिकारी ने एक विधायक के साथ जिस तरह से धक्का-मुक्की की वह जनता का अपमान है। विधानसभा में इस मामले ने इतना तूल पकड़ा कि विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि वह इस मामले में दोषी पुलिस अधिकारी के भूमिका की जांच करेंगे।

उन्होंने कहा कि वह सीसीटीवी फुटेज मंगाकर इस पूरे मामले को खुद देखेंगे अगर किसी पुलिस अधिकारी ने माननीय सदस्य के साथ दुर्व्यवहार किया है तो विशेषाधिकार हनन का मामला बनता है और दोषी पुलिसकर्मी पर एक्शन लिया जाएगा। वहीं, सदन में लगातार प्रदर्शन कर रहे वामदलों के विधायकों ने समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी से सदन में माफी मांगने की मांग करते रहे।

वे अपनी मांग पर अडे़ हुए दिखे। विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने सभी सदस्यों से अपील की है कि वह एक दूसरे की भावनाओं का आदर करें और आपत्तिजनक बातों से किसी को आहत ना करते हुए अपने मुद्दों को सबके समक्ष रखें।

उधर, कानून- व्यवस्था और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को लेकर राजद के विधायकों ने सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया. अपने हाथों में प्लेकार्ड लिए राजद के विधायक सरकार के ऊपर यह आरोप लगाया कि राज्य में बेरोजगारों की अनदेखी की जा रही है. लगातार युवाओं को रोजगार से वंचित किया जा रहा है।

Web Title: Bihar Legislative Assembly rjd congress cpim protests attacking Nitish kumar how is the police mafia doing an encounter

राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे