Sports Ministry launches Injury Management System for players | खेल मंत्रालय ने खिलाड़ियों की चोट प्रबंधन प्रणाली लांच की
खेल मंत्रालय ने खिलाड़ियों की चोट प्रबंधन प्रणाली लांच की

नयी दिल्ली, 11 जून खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने टूर्नामेंट या ट्रेनिंग के दौरान चोटिल होने वाले शीर्ष खिलाड़ियों को विश्व स्तरीय उपचार और रिहैबिलिटेशन मुहैया कराने की महत्वकांक्षी पहल शुक्रवार को शुरू की।

केंद्रीकृत एथलीट चोट प्रबंधन प्रणाली (सीएआईएमएस) का उद्देश्य खिलाड़ियों का समय पर उच्च स्तरीय उपचार कराने और रिहैबिलिटेशन के अलावा चोट की रोकथाम और निदान की जानकारी प्रदान करना तथा ‘ऑनलाइन एथलीट प्रबंधन प्रणाली’ के जरिये उनकी चोट का रिकार्ड रखना है।

भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) देश के शीर्ष चिकित्सीय विशेषज्ञों के साथ मिलकर इस प्रणाली पर काम करेगा जिसे शुरू में 2024 पेरिस ओलंपिक के लिये खिलाड़ियों के डेवलपमेंटल ग्रुप पर इस्तेामल किया जायेगा और बाद में इसका विस्तार किया जायेगा।

रीजीजू ने एक ऑनलाइन टूर्नामेंट के दौरान कहा, ‘‘मैंने ऐसे खिलाड़ियों को देखा है जिनका कैरियर सामान्य सी चोटों के समय पर उचित उपचार की कमी से खत्म हो गया या फिर छोटा हो गया। कुछ चोटों के लिये हमारे देश में उपचार उपलब्ध नहीं है और खिलाड़ियों को विदेश जाना होगा। इसलिये यह इन्हें दूर करने के लिये अच्छी शुरूआत है। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे उम्मीद है कि यह पहल हमें उस प्रणाली तक ले जायेगी जहां हम खिलाड़ियों की चोटों का प्रबंधन पेशेवर तरीके से कर पायेंगे। ’’

भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने खेल मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण की इस पहल के लिये प्रशंसा की।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Sports Ministry launches Injury Management System for players

अन्य खेल से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे