सपा का यूपी के बाहर विस्तार करने में जुटे अखिलेश!, गुजरात में 20 उतारे उम्मीदवार, मध्य प्रदेश और राजस्थान पर फोकस

By राजेंद्र कुमार | Published: November 20, 2022 05:28 PM2022-11-20T17:28:31+5:302022-11-20T17:30:50+5:30

मुलायम सिंह यादव ने महाराष्ट्र, बिहार, मध्य प्रदेश, राजस्थान और उत्तराखंड में पार्टी उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा भी था, लेकिन कुछ एक सीटों पर ही. ऐसे में उक्त राज्यों में सपा को चंद सीटों पर जीत हासिल हुई लेकिन पार्टी का मजबूत आधार महाराष्ट्र को छोड़ अन्य राज्यों में नहीं बन सका.

uttar pradesh Samajwadi Party chief Akhilesh Yadav expansion outside UP fielded candidates 20 seats in Gujarat | सपा का यूपी के बाहर विस्तार करने में जुटे अखिलेश!, गुजरात में 20 उतारे उम्मीदवार, मध्य प्रदेश और राजस्थान पर फोकस

लखनऊ पहुंचे गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्षों ने अखिलेश यादव के इस प्लान का खुलासा किया है.

Next
Highlightsयूपी के अलावा अन्य राज्यों में चुनाव लड़ने की कवायद शुरू कर दी है.मध्य प्रदेश और राजस्थान में होने वाले चुनावों में भी सपा अपने उम्मीदवारों को चुनाव में खड़ा करेंगी. लखनऊ पहुंचे गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्षों ने अखिलेश यादव के इस प्लान का खुलासा किया है.

लखनऊः करीब एक माह पहले समाजवादी पार्टी (सपा) के तीसरी बार राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते समय अखिलेश यादव ने सपा को राष्ट्रीय पार्टी बनाये जाने का ऐलान किया था. अब अखिलेश यादव ने अपने इस वादे को पूरा करने के लिए यूपी के अलावा अन्य राज्यों में चुनाव लड़ने की कवायद शुरू कर दी है.

जिसके चलते अखिलेश ने गुजरात विधानसभा के चुनावों में 20 सीटों पर सपा प्रत्याशियों को उतारा है. मध्य प्रदेश और राजस्थान में होने वाले चुनावों में भी सपा अपने उम्मीदवारों को चुनाव में खड़ा करेंगी. लखनऊ पहुंचे गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्षों ने अखिलेश यादव के इस प्लान का खुलासा किया है.

उक्त राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों के अनुसार, महाराष्ट्र की तर्ज पर ही अखिलेश अन्य राज्यों में पार्टी का विस्तार करना चाहते हैं. ऐसे नहीं है कि सपा को राष्ट्रीय पार्टी बनाने का सपना सिर्फ अखिलेश यादव ने देखा है. अखिलेश के पिता और सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव की भी यही मंशा थी कि सपा को राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल हो.

इसके लिए मुलायम सिंह यादव ने महाराष्ट्र, बिहार, मध्य प्रदेश, राजस्थान और उत्तराखंड में पार्टी उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा भी था, लेकिन कुछ एक सीटों पर ही. ऐसे में उक्त राज्यों में सपा को चंद सीटों पर जीत हासिल हुई लेकिन पार्टी का मजबूत आधार महाराष्ट्र को छोड़ अन्य राज्यों में नहीं बन सका.

अब अखिलेश यादव ने पुख्ता प्लान के साथ यूपी के बाहर अन्य राज्यों में चुनाव लड़ने की तैयारी की है. इसी के तहत जहां अखिलेश यादव मैनपुरी लोकसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में अपनी पत्नी डिंपल यादव को चुनाव लड़ा रहे हैं, वही दूसरी तरफ उन्होंने गुजरात में हो रहे विधानसभा चुनावों में भी उम्मीदवार उतारे हैं. 

गुजरात प्रदेश के अध्यक्ष देवेंद्र उपाध्याय के अनुसार, पार्टी ने गुजरात की 182 सीटों में से 30 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं. इनमें से 10 उम्मीदवारों के पर्चे अलग-अलग कारणों से खारिज हो गए हैं. अब 20 सीट पर पार्टी के प्रत्याशी मैदान में हैं. देवेंद्र उपाध्याय बताते हैं कि गुजरात की कुतियाना सीट पर निर्वतमान विधायक कांधल भाई जडेजा इस बार सपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.

इसके अलावा गुजरात की अबदासा, तेजपुर, तेजपुर, पाटन, अमराई बाड़ी सहित अन्य सीटों पर भी पार्टी के मजबूत उम्मीदवार चुनाव मैदान में है. देवेंद्र उपाध्याय को भरोसा है कि पार्टी छह से आठ सीटों पर जीत हासिल करेंगी. इसी प्रकार अखिलेश ने इस बार मध्य प्रदेश की सभी 230 सीटों पर सपा चुनाव लड़ने का फैसला किया है.

इनमें से 50 सीटों पर पार्टी ने मजबूती से चुनाव लड़ने की रणनीति बनाई गई है. इन सीटों पर पार्टी उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित हो सके, इसके लिए मध्य प्रदेश में जिला स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन शुरू हो गए हैं, इसमें यूपी के नेताओं को भी भेजा जा रहा है. मध्य प्रदेश के प्रदेश महासचिव डॉ. मनोज यादव के अनुसार उक्त 50 सीटों पर यादव-मुस्लिम एवं अन्य पिछड़ी जातियों की संख्या अधिक है.

ये सीटें यूपी की सीमा से भी सटी हैं. यहां पहले भी सपा को जनता का समर्थन मिलता रहा है. इसलिए यहां माइक्रो लेवल पर तैयारी हो रही है. आगामी विधानसभा चुनावों में इस बार सपा तीसरे नंबर की पार्टी बन जाए यह टार्गेट लेकर चला जा रहा है.

सपा नेताओं के अनुसार, अखिलेश चाहते हैं कि यूपी के बाहर जिस तरह से महाराष्ट्र में पार्टी का संगठन है वैसा ही मजबूत आधार पार्टी का अन्य राज्यों में भी हो. सपा महाराष्ट्र में निरंतर चुनाव लड़ती रही है. यहां पार्टी के विधायक और सांसद भी हैं. ऐसे में अब महाराष्ट्र की तर्ज पर ही राजस्थान, छत्तीसगढ़, दिल्ली सहित अन्य राज्यों में भी पार्टी नेताओं को चुनावी तैयारी तेज करने के निर्देश दिए गए हैं. 

Web Title: uttar pradesh Samajwadi Party chief Akhilesh Yadav expansion outside UP fielded candidates 20 seats in Gujarat

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे