UP Assembly elections: सपा-RLD गठबंधन पर बड़ा हमला, चंद्रशेखर आजाद बोले-हम लोगों के साथ छल हुआ, बदला लेंगे

By सतीश कुमार सिंह | Published: January 18, 2022 07:19 PM2022-01-18T19:19:55+5:302022-01-18T19:21:28+5:30

UP Assembly elections: आजाद समाज पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने शनिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए कई विपक्षी दलों का तीसरा मोर्चा बनाने की कोशिश की जा रही है।

UP Assembly elections attack SP-RLD alliance Chandrashekhar Azad deceived people will take revenge | UP Assembly elections: सपा-RLD गठबंधन पर बड़ा हमला, चंद्रशेखर आजाद बोले-हम लोगों के साथ छल हुआ, बदला लेंगे

सपा-RLD गठबंधन से आजाद समाज पार्टी लोहा लेगी।

Next
Highlightsअखिलेश यादव को हमारी जरूरत नहीं है।हमने महसूस किया कि हमारी उम्मीदें टूट गई हैं।चंद्रशेखर ने अखिलेश को दलित विरोधी बताया था।

UP Assembly elections: आजाद समाज पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने मंगलवार को नोएडा में सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर जमकर हमला किया। कहा कि चुनाव में सपा-RLD गठबंधन के खिलाफ प्रचार करेंगे। सपा-RLD गठबंधन को हराने का काम करूंगा।

चंद्रशेखर ने कहा कि हम लोगों के साथ छल हुआ है और इसका बदला लिया जाएगा। ओम प्रकाश राजभर जहां से लड़ेंगे, वहां प्रत्याशी नहीं उतारूंगा। गठबंधन के प्रत्याशियों के खिलाफ मजबूती से लड़ेंगे।सपा-RLD गठबंधन से आजाद समाज पार्टी लोहा लेगी।

चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि हम लोग मेहनत करके यहां पहुंचे हैं। हमें कुछ भी खैरात में नहीं मिला है। अब सपा 100 सीट भी दे तो भी नहीं जाऊंगा। स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ नहीं लड़ूंगा। पार्टी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव अपने दम पर लड़ेगी और समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करेगी।

उन्होंने ग्रेटर नोएडा में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी आजाद समाज पार्टी के 33 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की।सपा या उसके प्रमुख का नाम लिए बिना आजाद ने कहा कि गठबंधन के लिए 25 सीटों पर चर्चा हुई थी लेकिन बाद में उन्हें "धोखा" दिया गया।  हालांकि, उन्होंने कहा कि अन्य छोटी पार्टियों के लिए विकल्प खुले हैं।

उन्होंने कहा, "मेरी लड़ाई आरएसएस और भाजपा से है और चुनाव के बाद हम उन्हें रोकने के लिए गठबंधन के लिए तैयार हैं।" चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि पिछले दो महीने में हमारे साथ छल हुआ. कुछ लोगों के हंसी का विषय होगा कि चंद्रशेखर को बेवकूफ बना दिया. लेकिन मैंने इस बार भी मंत्रिपद और बाकी चीजों को ठोकर मार दी।

इससे पहले आजाद के साथ गठबंधन की रणनीति साफ नहीं होने पर अखिलेश यादव ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि वह आजाद को विधानसभा की तीन सीटें, एक विधान परिषद की सीट और मंत्री पद देने को तैयार थे लेकिन उन्हें किसी का फोन आया और उसके बाद वे पीछे हट गए। वहीं, समाजवादी पार्टी से गठबंधन न होने पर चंद्रशेखर ने अखिलेश को दलित विरोधी बताया था।

Web Title: UP Assembly elections attack SP-RLD alliance Chandrashekhar Azad deceived people will take revenge

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे