कांग्रेस का दावा- RSS प्रमुख का मुस्लिम धर्मगुरु से मिलना 'भारत जोड़ो यात्रा' का प्रभाव, गौरव वल्लभ ने कहा- सत्ता द्वारा बनाई गई विभाजन गायब...

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: September 23, 2022 09:10 AM2022-09-23T09:10:37+5:302022-09-23T09:16:42+5:30

कांग्रेस नेता गौरव वल्लभ ने कहा कि जब तक भारत जोड़ो यात्रा पूरी हो जाएगी, तब तक देश से नफरत और सत्ता द्वारा बनाई गई विभाजन गायब हो जाएगी।

rss mohan bhagwat meets muslim cleric congress gaurav calls it impact of Bharat Jodo Yatra | कांग्रेस का दावा- RSS प्रमुख का मुस्लिम धर्मगुरु से मिलना 'भारत जोड़ो यात्रा' का प्रभाव, गौरव वल्लभ ने कहा- सत्ता द्वारा बनाई गई विभाजन गायब...

कांग्रेस का दावा- RSS प्रमुख का मुस्लिम धर्मगुरु से मिलना 'भारत जोड़ो यात्रा' का प्रभाव, गौरव वल्लभ ने कहा- सत्ता द्वारा बनाई गई विभाजन गायब...

Next
Highlightsआरएसएस प्रमुख ने गुरुवार को दिल्ली में मस्जिद और मदरसे का दौरा किया था।कांग्रेस का कहना है कि यह राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का प्रभाव है।कांग्रेस ने भागवत को यात्रा में शामिल होने और देश को एकजुट करने में योगदान देने की बात कही।

नई दिल्ली: आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के मुस्लिम नेताओं के साथ हुई मुलाकात को लेकर कांग्रेस दावा किया कि यह भारत जोड़ो यात्रा का प्रभाव है कि इस यात्रा को शुरू हुए अभी 15 दिन ही हुए हैं और नतीजे आ चुके हैं। गौरतलब है कि मुसलमानों के साथ संपर्क बढ़ाने के अभियान में लगे आरएसएस प्रमुख ने गुरुवार को दिल्ली में मस्जिद और मदरसे का दौरा किया और अखिल भारतीय इमाम संगठन के प्रमुख इमाम डॉ उमर अहमद इलियासी से मुलाकात की। इस दौरान इमाम ने भागवत को राष्ट्रपिता कहा।

कांग्रेस नेता गौरव वल्लभ ने गुरुवार को दावा किया कि अखिल भारतीय इमाम संगठन के अध्यक्ष के साथ आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत की बैठक पार्टी की भारत जोड़ो यात्रा का प्रभाव है। वल्लभ ने आरएसएस प्रमुख से कहा कि देश को एकजुट करने में राहुल गांधी का साथ दें। कांग्रेस नेता ने कहा कि यह पहली बार है कि वह किसी मदरसे में गए हैं।

मीडियाकर्मियों से बात करते हुए वल्लभ ने कहा कि 'पार्टी की भारत जोड़ी यात्रा के नतीजे इस बात से जाहिर होते हैं कि भागवत पहली बार किसी मदरसे में गए हैं। भारत जोड़ो यात्रा को शुरू हुए अभी 15 दिन ही हुए हैं और नतीजे आ चुके हैं। भाजपा के एक प्रवक्ता ने टेलीविजन पर गोडसे मुर्दाबाद कहा है। मोहन भागवत दूसरे धर्म के व्यक्ति के घर गए। यह भारत जोड़ो यात्रा का प्रभाव है।'

गौरव वल्लभ ने कहा कि जब तक भारत जोड़ो यात्रा पूरी हो जाएगी, तब तक देश से नफरत और सत्ता द्वारा बनाई गई विभाजन गायब हो जाएगी। बकौल कांग्रेस नेता- हम मोहन भागवत से आग्रह करना चाहते हैं कि अगर इस 15 दिन की यात्रा का आप पर इतना प्रभाव पड़ा है, तो आप एक घंटे के लिए भारत जोड़ो यात्रा में भाग लें और राहुल गांधी के साथ हाथ में तिरंगा लेकर चलें।

उधर, कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने भी एक ट्वीट में कहा, "भारत जोड़ो यात्रा शुरू हुए केवल 15 दिन हुए हैं और भाजपा प्रवक्ता "गोडसे मुर्दाबाद" कहने लगे हैं। मीडिया के माध्यम से फैली नफरत पर मंत्री चिंतित हो गए हैं और भागवत इमामों के पास पहुंच गए हैं। देखते हैं आगे क्या होता है।"

कस्तूरबा गांधी मार्ग पर एक मस्जिद का दौरा करने के बाद आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पुरानी दिल्ली में आजाद मार्केट मदरसा ताजवीदुल कुरान गए जहांबच्चों के साथ बातचीत की। मदरसा के निदेशक महमूदुल हसन ने एएनआई से बात करते हुए कहा, "प्रमुख लगभग एक घंटे तक मदरसे के अंदर रहे और शिक्षक और बच्चों से मिले।" 

Web Title: rss mohan bhagwat meets muslim cleric congress gaurav calls it impact of Bharat Jodo Yatra

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे