पलानीस्वामी ने वीके शशिकला को एआईएडीएमके में शामिल किये जाने की संभावना से किया इनकार, पन्नीरसेल्वम ने बीते दिनों की थी तारीफ

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: March 27, 2022 09:37 PM2022-03-27T21:37:30+5:302022-03-27T21:45:39+5:30

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने शशिकला के अन्नाद्रमुक में शामिल होने की संभावना पर टिप्पणी करते हुए कहा कि ऐसा होने की कोई संभावना नहीं है। यह सब खत्म हो गया है। इस सवाल का जवाब पहले भी कई बार दिया जा चुका है।

Palaniswami denies the possibility of VK Sasikala being included in AIADMK, Panneerselvam praised the past | पलानीस्वामी ने वीके शशिकला को एआईएडीएमके में शामिल किये जाने की संभावना से किया इनकार, पन्नीरसेल्वम ने बीते दिनों की थी तारीफ

पलानीस्वामी ने वीके शशिकला को एआईएडीएमके में शामिल किये जाने की संभावना से किया इनकार, पन्नीरसेल्वम ने बीते दिनों की थी तारीफ

Next
Highlightsपलानीस्वामी जयललिता की बेहद करीबी शशिकला के मुखर विरोधी माने जाते हैंवहीं ओ पन्नीरसेल्वम को शशिकला का परोक्ष समर्थक समझा जाता हैतमिलनाडु की राजनीति में इस समय एआईएडीएमके प्रमुख विपक्षी पार्टी है

चेन्नई: ऑल इण्डिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) के वरिष्ठ नेता और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने रविवार को दोहराया कि पार्टी में वीके शशिकला के लिए कोई जगह नहीं है।

पलानीस्वामी ने अपने वरिष्ठ सहयोगी और पार्टी के समन्वयक ओ पन्नीरसेल्वम द्वारा कुछ दिनों पूर्व व्यक्तिगत रूप से शशिकला के लिए सम्मान और प्रशंसा करने के बाद इस तरह की टिप्पणी की है।

दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता की विश्वासपात्र रहीं वीके शशिकला के संबंध में पलानीस्वामी ने स्पष्ट कहा है कि अब पार्टी में शशिकला के लिए कोई गुंजाइश नहीं है।

पलानीस्वामी ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि पार्टी आलाकमान ने पहले ही उन्हें संगठन में शामिल करने के खिलाफ एक प्रस्ताव पारित कर दिया है और राज्य भर में पार्टी की जिला इकाइयों ने इसका समर्थन भी किया है।

उन्होंने याद किया कि वीके शशिकला को पार्टी में शामिल न किये जाने के निर्णय को उन्होंने ओ पन्नीरसेल्वम के साथ मिलकर किया था, जिसे पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने स्वीकार किया और उसके बाद जिला इकाइयों द्वारा उस पारित प्रस्ताव को अनुमोदित करवाया गया था। पलानी स्वामी ने कहा कि शशिकला को पार्टी से दूर करने का अनुमोद केवल दो पार्टी इकाइयों ने नहीं किया था।

पलानीस्वामी ने शशिकला के अन्नाद्रमुक में शामिल होने की संभावना पर टिप्पणी करते हुए कहा, "ऐसा होने की कोई संभावना नहीं है। यह सब खत्म हो गया है। इस सवाल का जवाब पहले भी कई बार दिया जा चुका है। कोई भी उस फैसले को नहीं पलट सकता है, जिसे पार्टी ने मिलकर लागू किया हो।"

खबरों के मुताबिक ओ पन्नीरसेल्वम को शशिकला का परोक्ष समर्थक समझा जाता है और माना जाता है कि पन्नीरसेल्वम चाहते हैं कि शशिकला को पार्टी में पिर से शामिल करने पर विचार किया जाए। वहीं पलानीस्वामी इस बात के मुखर विरोधी माने जाते हैं, जिनका स्पष्ट रूप से अन्नाद्रमुक में काफी अहम दखल है।

मालूम हो कि कुछ दिन पहले पनीरसेवलम ने जयललिता की मौत की जांच के लिए बनी जस्टिस ए अरुमुघस्वामी कमेटी के समक्ष गवाही देने के लिए पहुंचे थे। जिसमें अपना बयान दर्ज करवाते समय उन्होंने व्यक्तिगत रूप से शशिकला की प्रशंसा की थी। पहले भी ओ पन्नीरसेल्वम संकेत दे चुके हैं कि वो शशिकला के दोबारा पार्टी में शामिल किये जाने के पक्ष में हैं।

उन्होंने कहा था कि यह एक ऐसा सवाल है जिस पर पार्टी नेतृत्व को विचार करने और निर्णय लेने की जरूरत है। इसके बाद एआईएडीएमके ने 1 दिसंबर 2021 को ओ पन्नीरसेल्वम और पलानीस्वामी ने पार्टी के नियमें में कई बदलाव किये थे।

ओ पन्नीरसेल्वम ने जांच आयोग के सामने यह भी कहा था कि उन्हें जयललिता की मौत के आसपास की परिस्थितियों पर 'कोई संदेह नहीं है' और उन्होंने केवल जनता की राय को देखते हुए जांच की वकालत की थी।

जस्टिस ए अरुमुघस्वामी कमेटी जयललिता की मौत की परिस्थितियों की जांच कर रहा है। एआईएडीएमके की पूर्व प्रमुख और तत्कालीन मुख्यमंत्री जयललिता का 5 दिसंबर, 2016 को चेन्नई के अपोलो अस्पताल में निधन हो गया था।

वहीं अगर हम मौजूद समय में तमिलनाडु की राजनीति की बात करें तो एआईएडीएमके राज्य में प्रमुख विपक्षी पार्टी है और एमके स्टालिन के नेतृत्व में डीएमके इस समय राज्य के सत्ता का संचालन कर रही है। 

Web Title: Palaniswami denies the possibility of VK Sasikala being included in AIADMK, Panneerselvam praised the past

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे