Nikita Tomar Murder case 14-day judicial custody accused Rehan case fast track court | Nikita Tomar Murder case: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में आरोपी रेहान, मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने का फैसला
फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ में गत सोमवार को उसके कॉलेज के सामने एक युवक ने हत्या कर दी थी जो उस पर शादी के लिए दबाव बना रहा था। (file photo)

Highlights बृहस्पतिवार को अदालत ने तौसीफ और अजरू को भी 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा था।हत्याकांड को लेकर लोगों के रोष को देखते हुए हरियाणा सरकार ने यह मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने का फैसला किया है।सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराई जाएगी, ताकि प्रतिदिन सुनवाई हो सके और जल्द से जल्द आरोपियों को सजा दिलवाई जा सके।

फरीदाबादः हरियाणा के फरीदाबाद में हुए निकिता तोमर हत्याकांड के आरोपी रेहान को शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सत्र अदालत में पेश किया गया।

अदालत ने सुनवाई के बाद रेहान को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। पुलिस छात्रा की हत्या मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। इनमें से मुख्य आरोपी तौसीफ और रेहान को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार किया था, वहीं, तीसरे आरोपी अजरू को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया था।

इससे पहले बृहस्पतिवार को अदालत ने तौसीफ और अजरू को भी 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा था। तौसीफ ने बीते सोमवार को छात्रा निकिता की कथित तौर पर गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस बीच हत्याकांड को लेकर लोगों के रोष को देखते हुए हरियाणा सरकार ने यह मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने का फैसला किया है। प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि निकिता हत्याकांड की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराई जाएगी, ताकि प्रतिदिन सुनवाई हो सके और जल्द से जल्द आरोपियों को सजा दिलवाई जा सके।

बल्लभगढ़ हत्या : विहिप ने ‘लव जेहाद’ पर चिंता जताई, शीघ्र न्याय की मांग की

 विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने ‘लव जेहाद’ की घटनाओं पर चिंता जताते हुए शुक्रवार को बल्लभगढ़ में छात्रा की हुई हत्या के में शीघ्र सुनवाई और परिवार को एक करोड़ रुपये की सहायता देने की मांग की। पुलिस के मुताबिक 21 वर्षीय निकिता की फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ में गत सोमवार को उसके कॉलेज के सामने एक युवक ने हत्या कर दी थी जो उस पर शादी के लिए दबाव बना रहा था। कुमार ने बृहस्पतिवार को पीड़ित परिवार से मुलाकात की थी।

विहिप द्वारा शुक्रवार को जारी बयान के मुताबिक कुमार ने कहा, ‘‘एक युवा प्रतिभाशाली छात्रा जिसकी महत्वकांक्षा आसमान को छूने की थी, उसकी एक इस्लामिक जेहादी ने दिनदहाड़े सार्वजनिक स्थान पर हत्या कर दी। इस क्षति को सहन करना मुश्किल है।’’

इसमें कहा गया, ‘‘लव जेहाद की बढ़ती घटनाएं, धर्मांतरण और हिंदुओं पर अत्याचार’’ चिंता का विषय है। बयान के मुताबिक आलोक कुमार ने निकिता के परिवार को एक करोड़ रुपये का मुआवजा देने और धोखाधड़ी या धमका कर धर्मांतरण कराने और ‘लव जेहाद’ के खिलाफ प्रभावी कानून की मांग की।

कुमार ने कहा कि विहिप ने 30 दिनों के भीतर जांच पूरी कर और अदालत में आरोप पत्र दाखिल करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि इस मामले की फास्ट ट्रैक अदालत में दैनिक आधार पर सुनवाई होनी चाहिए। उल्लेखनीय है कि पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी तौसीफ और रेहान को गिरफ्तार किया है

Web Title: Nikita Tomar Murder case 14-day judicial custody accused Rehan case fast track court

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे