New inteligence report says Pakistan setting up missile systems in PoK with help of Chinaलद्दाख में भारत उलझा चीन इन दिनों पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में भी काफी सक्रिय है। भारत के रिसर्च एंड एलालिसिस विंग (रॉ) के सूत्रों के अनुसार पिछले महीने | PoK में भारत के खिलाफ पाकिस्तान की नई साजिश, मिसाइल सिस्टम लगाने में जुटा, चीन कर रहा है मदद
चीन और पाकिस्तान रच रहे हैं भारत के खिलाफ साजिश! (फाइल फोटो)

Highlightsपाकिस्तान और चीन मिलकर भारत के खिलाफ बना रहे हैं कोई योजना! सूत्रों के हवाले से कई हैरान करने वाली जानकारी आई सामनेपीओके में मिसाइट सिस्टम लगाने में पाकिस्तान की मदद कर रहा है चीन, भारत की इंटेलिजेंस एजेंसियों की दोनों देशों की हर हरकत पर नजर

लद्दाख में भारत उलझा चीन इन दिनों पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में भी काफी सक्रिय है। भारत के रिसर्च एंड एलालिसिस विंग (रॉ) के सूत्रों के अनुसार पिछले महीने की एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन पीओके में एक नया मिसाइल सिस्टम लगाने में पाकिस्तान की मदद कर रहा है। भारतीय सुरक्षा एजेंसियां दोनों देशों की हरकत पर नजर बनाए हुई हैं। 

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार सूत्रों ने बताया है कि चीन की सेना पीएलए और पाकिस्तानी सेना पीओके में लासाडाना ढोक के करीब सतह से हवा में मार करने वाली एक मिसाइल को इंस्टॉल करने के लिए मिल कर काम कर रहे हैं।

रिपोर्ट के अनुसार इस काम में करीब पाकिस्तानी सेना के करीब 130 लोग लगे हैं। साथ ही 25 से 40 नागरिक भी इस कंस्ट्रक्शन साइट पर मौजूद हैं। सूत्रों के अनुसार  इस मिसाइल सिस्टम का कंट्रोल रूम बाघ जिले के पाकिस्तानी सेना के ब्रिगेड मुख्यालय में होगा।

कंट्रोल रूम में पीएलए के 10 लोग मौजूद होंगे। इनमें तीन अधिकारी हैं। रॉ के सूत्रों के अनुसार ऐसे ही निर्माण की जानकारी झेलम जिले में चिनारी और पीओके के हटियान बाला के चाकोटी में मिली है। इससे पहले जून में ऐसी जानकारी सामने आई थी कि पाकिस्तान ने अपने एक सीनियर अधिकारी को बीजिंग में पीएलए के मुख्यालय में भेजा था। इसका मकसद दोनों देशों में सेनाओं के बीच तालमेल को और बेहतर बनाना था।

इसी साल 5 फरवरी को भारतीय तटरक्षक बल ने पाकिस्तानी जलक्षेत्र में एक चीनी युद्धपोत को देखा। जियांगवी-इल फ्रिगेट को पोरबंदर से बहुत दूर नहीं, लगभग पाकिस्तानी जलक्षेत्र में 11 नॉट्रिक्सल मील की दूरी पर देखा गया था।

पाकिस्तानी और चीनी नौसेनाओं ने जनवरी में द्विपक्षीय अभ्यास भी किया था। सूत्रों ने कहा कि चीन पाकिस्तान को नौसेना से जुड़ी मदद भी कर रहा है। फिलहाल, पाकिस्तान आठ युआन वर्ग की पनडुब्बियों और चार 054A फ्रिगेट हासिल करने का इंतजार कर रहा है।

तीन दिन पहले, भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने भी कहा था कि भारत इस बात से अवगत है कि चीन और पाकिस्तान सैन्य क्षेत्र में बेहद करीबी सहयोगी के तौर पर काम कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने साथ ही कहा दोनों मिलकर फिलहाल भारत के लिए एक साथ खतरा नहीं बनेंगे। उन्होंने कहा कि ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है। साथ ही उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि भारत हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है।

Web Title: New inteligence report says Pakistan setting up missile systems in PoK with help of Chinaलद्दाख में भारत उलझा चीन इन दिनों पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में भी काफी सक्रिय है। भारत के रिसर्च एंड एलालिसिस विंग (रॉ) के सूत्रों के अनुसार पिछले महीने
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे