महंत नरेंद्र गिरि मौत: सुसाइड नोट में खुलासा, आनंद गिरि कर रहे थे ब्लैकमेल, फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी दी थी...

By सतीश कुमार सिंह | Published: September 21, 2021 07:37 PM2021-09-21T19:37:07+5:302021-09-21T19:39:45+5:30

Narendra Giri death: उत्तर प्रदेश के एडीजी (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा कि आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज होने के बाद आनंद गिरि को सोमवार रात हिरासत में लिया गया।

Narendra Giri death 8-page note confirms seer's suicide bid clearly names Anand Giri release morphed image and video | महंत नरेंद्र गिरि मौत: सुसाइड नोट में खुलासा, आनंद गिरि कर रहे थे ब्लैकमेल, फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी दी थी...

साधुओं के सबसे बड़े संगठन अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष थे। 

Next
Highlightsसुसाइड नोट भी एक तरह की वसीयत है।बलबीर गिरि को अपना उत्तराधिकारी बनाया है।प्रयागराज के बाघंबरी मठ में सोमवार को शीर्ष संत महंत नरेंद्र गिरि मृत पाए गए थे।

प्रयागराजः अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि कथित आत्महत्या के मामले में उनके शिष्य आनंद गिरि को हरिद्वार से हिरासत में लिया है। इस बीच 8 पेज का सुसाइड नोट सामने आया है। महंत पिछले सप्ताह ही आत्महत्या करने की सोच रहे थे। 

महंत नरेंद्र गिरि के हस्तलिखित नोट में स्पष्ट रूप से कहा गया है किआत्महत्या की थी और उन्होंने अपने अलग हुए शिष्य आनंद गिरि और हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या तिवारी और उनके बेटे संदीप तिवारी का नाम का उल्लेख किया है। नोट में कहा गया है कि मानसिक रूप से परेशान किया गया था और आनंद गिरि द्वारा ब्लैकमेल किया जा रहा था।

सुसाइड नोट में खुलासा हुआ है कि आनंद गिरि एक महिला के साथ मेरी एक मॉर्फ्ड इमेज और वीडियो जारी करने जा रहे थे, जो मेरी छवि को खराब करेगा। उन्होंने उत्तर प्रदेश प्रशासन से भी अपील की है कि आनंद गिरि को सजा दी जाए, तभी उन्हें शांति मिलेगी।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने सुसाइड नोट में लिखा है कि मैंने पिछले हफ्ते आत्महत्या करने की कोशिश की थी, लेकिन हिम्मत नहीं जुटा पाई। महंत ने लिखा कि उन्होंने अपना जीवन सम्मान और गरिमा के साथ जिया है और अब अपमान नहीं सह सकते।

शिष्य आनंद गिरि को हरिद्वार से हिरासत में लिया गया

उत्तर प्रदेश पुलिस ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की कथित आत्महत्या के मामले में उनके शिष्य आनंद गिरि को हरिद्वार से हिरासत में लिया है। अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने मंगलवार को बताया कि आनंद गिरि के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज होने के बाद उन्हें सोमवार रात हिरासत में लिया गया।

सोमवार को अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने अपने श्रीमठ बाघंबरी गद्दी में कथित तौर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। पुलिस के मुताबिक, महंत नरेंद्र गिरि के शव के पास सात-आठ पेज का एक सुसाइड नोट पाया गया जिसमें उन्होंने कई बातें लिखी थीं।

कुमार ने बताया कि सुसाइड नोट में तीन लोगों के नाम थे और प्राथमिकी के आधार पर आनंद गिरि को हिरासत में लिया गया हैं । उन्होंने बताया, "उसे आगे की जांच के लिए इलाहाबाद लाया जा रहा है।" उन्होंने कहा कि मामले में सबूत एकत्र किए जा रहे हैं। कुमार ने कहा कि मामले की 'निष्पक्ष और पारदर्शी' जांच जारी है और राज्य पुलिस मामले को संभालने में सक्षम है। 

Web Title: Narendra Giri death 8-page note confirms seer's suicide bid clearly names Anand Giri release morphed image and video

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे