#MeToo open letter from industry power full women says we have spent few fays in pain | कॉर्पोरेट सेक्टर की 12 टॉप पॉवरफुल महिलाओं ने ओपेन लेटर लिखकर #MeToo मूवमेंट का किया सपोर्ट
कॉर्पोरेट सेक्टर की 12 टॉप पॉवरफुल महिलाओं ने ओपेन लेटर लिखकर #MeToo मूवमेंट का किया सपोर्ट

#MeToo मूवमेंट के तहत राजनीति, बॉलीवुड से लेकर मीडिया कंपनियों तक कोई भी ऐसा क्षेत्र नहीं बचा जहां, महिलाओं ने #MeToo के तहत आरोप ना लगाए हो। अभिनेत्री से लेकर पत्रकार महिलाओं ने सेक्सुअल हैरसमेंट के आरोप लगे हैं। सारे आरापों में एक बात कॉमन है, अधिकतर मामलों में महिलाओं  साथ काम करने वाले लोगों ने ही उनके साथ यौन शोषण किया है। 

अब इस #MeToo मूवमेंट के तहत मीडिया, एड कंपनियां, डिजाइनिंग कंपनियां, कॉर्पोरेट सेक्टरों में काम करने वाली महिलाएं एक साथ मिलकर सामने आई हैं। इन महिलाओं ने कार्यस्थल पर हो रहे यौन उत्पीड़न के खिलाफ एक ओपेन लेटर (खुला पत्र ) लिखा है। 

ओपेन लेटर लिखने में वाली सारी 12 महिलाएं अपने क्षेत्र की पावरफुल महिलाएं हैं। नीचे दी गई तस्वीर में उन महिलाओं के नाम लिखें हैं। 

ओपेन लेटर 

''डियर महिलाएं

हम सब पिछले कई दिनों से दर्द और दुख भरे माहौल में जी रहे हैं। खासकर जब से #MeToo में आपने  सेक्सुअल हैरसमेंट को लेकर जो बातें बताई हैं, वह एक काफी डरावना सच है। ये सब बातें जानने के बाद हम खुद से सवाल कर रहे हैं और हम में उसके बाद गुस्सा  और दुख दोनों है। गुस्सा इस बात के लिए कि हमें ये सारी बातें पता नहीं चली और दुख इस बात के लिए कि आपने ये सब झेला। 

किसी भी तरह का  सेक्सुअल हैरसमेंट बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। किसी के पास भी अपने पावर के गलत इस्सेतमाल का हक नहीं है, ना ही कोई जेंडर को लेकर भेदभाव कर सकता है। इस इंडस्ट्री में हम लेकिन इस बात से अब तक बाहर नहीं निकल पाए हैं। लेकिन हम सब लोग मिलकर  काम करने की जगह को सबके लिए सहज बना सकते हैं। 

हमें ये महसूस किया है कि हम जिस ऑफिस या कार्यस्थल पर काम करते हैं, जहां पर आकर आप अपनी इन मसलों पर बात कर सकते हैं। इसलिए हम अब चीजों को बदलने की कोशिश कर रहे हैं। वो सारी महिलाएं, जिन्होंने खुल यौन शोषण को लेकर खुलकर बात रखी, हम उनके साथ हैं। ''

इन लोगों पर लग चुके हैं आरोप 

अमेरिका से शुरू हुआ #MeToo मूवमेंट करीब दो साल बाद भारत में दोबारा शुरू हो चुका है। भारत में इसे शुरू करने का श्रेय अभिनेत्री तनुश्री दत्ता को दिया जा रहा है। तनुश्री दत्ता ने अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन शोषण का आरोप लगा कर मधुमक्खी के छत्ते में पत्थर मार दिया।

उसके बाद फिल्म फिल्म अभिनेता आलोक नाथ,  गायक कैलाश खेर,  डायरेक्टर विकास बहल,  गायक रघु दीक्षित,  कमेंटेटर और लेखक सुहेल सेठ, गायक अभिजीत भट्टाचार्य, एआईबी के कॉमेडियन उत्सव चक्रवर्ती, लेखक चेतन भगत,  टीवी चैनल आज तक के निदेशक सुप्रियो प्रसाद, कोरियोग्राफर गणेश आचार्य, फिल्म डायरेक्टर राकेश सारंग, अभिनेता रजत कपूर, फिल्म मसान के लेखक वरुण ग्रोवर और संगीतकार अनु मलिक, डायरेक्टर लवरंजन इत्यादी पर #MeToo के तहत आरोप लगे हैं। 


Web Title: #MeToo open letter from industry power full women says we have spent few fays in pain
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे