Lucknow Building Collapse: एक महिला की मौत, यूपी के पूर्व मंत्री और सपा नेता शाहिद मंजूर के बेटे को हिरासत में लिया गया, जांच समिति गठित

By अनिल शर्मा | Published: January 25, 2023 10:34 AM2023-01-25T10:34:20+5:302023-01-25T13:14:13+5:30

Lucknow Building Collapse: मंडलायुक्त ने यह भी आदेश दिए हैं कि लखनऊ शहर में यजदान बिल्डर द्वारा बनवाई गई अन्य इमारतों को चिह्नित कर उनकी जांच की जाए और अवैध निर्माण या खराब गुणवत्ता वाले निर्माण की स्थिति में तत्काल ध्वस्तीकरण कराया जाए।

Lucknow Building Collapse Former UP minister SP leader Shahid Manzoor's son arrested in14 people rescued | Lucknow Building Collapse: एक महिला की मौत, यूपी के पूर्व मंत्री और सपा नेता शाहिद मंजूर के बेटे को हिरासत में लिया गया, जांच समिति गठित

Lucknow Building Collapse: एक महिला की मौत, यूपी के पूर्व मंत्री और सपा नेता शाहिद मंजूर के बेटे को हिरासत में लिया गया, जांच समिति गठित

Next
Highlightsस घटना में अब तक 14 लोगों को मलबे से निकाले जाने की खबर है।चार मंजिला इमारत में 12 फ्लैट थे जिनमें से नौ में लोग रह रहे थे।अपार्टमेंट का जमीन दस्तावेज शाहिद के बेटे नवाजिश और भतीजे तारिक के नाम था।

Lucknow Building Collapse: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज इलाके में मंगलवार शाम एक बहुमंजिला इमारत ढहने के मामले में यूपी के पूर्व मंत्री और सपा नेता शाहिद मंजूर के बेटे नवाजिश मंजूर को हिरासत में ले लिया गया है। डीजी ऑफिस के मुताबिक अपार्टमेंट का जमीन दस्तावेज शाहिद के बेटे नवाजिश और भतीजे तारिक के नाम था।

इस हादसे में एक बुजुर्ग महिला की मौत हो चुकी है। प्रदेश के पुलिस महानिदेशक डी. एस. चौहान ने संवाददाताओं को बताया कि मलबे से आज सुबह निकाली गई बेगम हैदर (87) को अस्पताल पहुंचाया गया था जहां इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि उन्हें अंदरूनी चोटें आई थीं।

उन्होंने बताया "अभी हादसे में एक ही मौत होने की पुष्टि हुई है। इसके अलावा हमें दो और व्यक्तियों के बारे में पता चला है। उनकी पहचान अभी स्पष्ट नहीं है, लेकिन एक बैंक के कर्मचारी दुर्घटनाग्रस्त इमारत में किसी ग्राहक के यहां काम से आए थे और उनके साथ में एक और व्यक्ति था। उनको भी हम लोग पता कर रहे हैं ।’’ गौरतलब है कि मंगलवार शाम हुए इस हादसे में अबतक 14 लोगों को जिंदा बाहर निकाला जा चुका है। वहीं कई अभी भी दबे हैं। मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर बुधवार को मंडलायुक्त की अगुवाई में तीन सदस्यीय जाँच समिति गठित की गई।

मामले में प्रशासन ने अपार्टमेंट के बिल्डर और भवन मालिकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के आदेश दिए हैं। लखनऊ की मंडलायुक्त रोशन जैकब ने लखनऊ विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को बुधवार को निर्देश दिया कि हजरतगंज की वजीर हसन रोड पर बनाए गए ‘अलाया’ अपार्टमेंट के ढहने के मामले में उसके भवन मालिक मोहम्मद तारीफ, नवाजिश और शाहिद के साथ-साथ अपार्टमेंट के बिल्डर यजदान के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए।

मंडलायुक्त ने यह भी आदेश दिए हैं कि लखनऊ शहर में यजदान बिल्डर द्वारा बनवाई गई अन्य इमारतों को चिह्नित कर उनकी जांच की जाए और अवैध निर्माण या खराब गुणवत्ता वाले निर्माण की स्थिति में तत्काल ध्वस्तीकरण कराया जाए। गौरतलब है कि लखनऊ के हजरतगंज क्षेत्र वजीर हसन मार्ग पर मंगलवार को एक बहुमंजिला इमारत ढह गई।

इस घटना में अब तक 14 लोगों को मलबे से निकाले जाने की खबर है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) के दल मौके पर बचाव अभियान चला रहे हैं। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने बताया कि जिले के सभी अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि चार मंजिला इमारत में 12 फ्लैट थे जिनमें से नौ में लोग रह रहे थे।

Web Title: Lucknow Building Collapse Former UP minister SP leader Shahid Manzoor's son arrested in14 people rescued

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे