lok sabha election 2019 more than 3000 crore seized by ec highest ever in ls polls | लोकसभा चुनाव 2019: टूट गए पिछले सभी रिकॉर्ड, चुनाव आयोग ने इस बार जब्त किये इतने करोड़ रुपये
चुनाव आयोग (फाइल फोटो)

Highlightsचुनाव आयोग ने इस बार 10 मार्च के बाद जब्त किये 3000 करोड़ से ज्यादा रुपयेविपक्षी पार्टियों के भी निशाने पर खूब रहा चुनाव आयोग, पीएम मोदी और शाह के खिलाफ नरमी बरतने के लगे आरोपपश्चिम बंगाल हिंसा के कारण पहली बार चुनाव आयोग ने आर्टिकल-324 का किया इस्तेमाल

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के लिए प्रचार अभियान शुक्रवार शाम खत्म हो गया। हालांकि, इससे पहले तक चुनाव आयोग ने आचार संहिता लागू होने के बाद से देश भर से 3439 करोड़ रुपये जब्त किये। यह अपने आम में एक रिकॉर्ड है।

इससे पहले 2104 के लोकसभा चुनाव में 1,200 करोड़ रुपये जब्त किये गये थे। वैसे, मौजूदा आंकड़ा में और बढोतरी हो सकती है क्योंकि ये चुनाव प्रचार खत्म होने से ठीक पहले के हैं जबकि आखिरी चरण का चुनाव 19 मई को होना बाकी है।

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार तमिलनाडु से इस बार सबसे सबसे ज्यादा 950 करोड़ रुपये जब्त हुए। वहीं, गुजरात इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। यहां से 552 करोड़ रुपये चुनाव आयोग ने जब्त किये। दिल्ली से 426 करोड़ रुपये जब्त हुए। यही नहीं, चुनाव आयोग के पास इस दौरान 10 मार्च के बाद से आचार संहित उल्लंघन की करीब 500 शिकायतें पहुंची। इसमें से करीब आधा दर्जन से ज्यादा तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ शिकायत चुनाव आयोग के पास पहुंची।

वैसे, चुनाव आयोग इस बार विपक्षी पार्टियों के निशाने पर भी खूब रहा। कई पार्टियों ने ये आरोप लगाये कि चुनाव आयोग पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ कड़े फैसले लेने से बचता रहा। वहीं, दूसरी ओर चुनाव आयोग ने पहली बार अनुच्छेद-324 का इस्तेमाल किया, जिसके तहत पश्चिम बंगाल में तय समय से 19 घंटे पहले ही चुनाव प्रचार रोक दिया गया।

इस दौरान चुनाव आयोग ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, बसपा सुप्रीमो मायावती, एसपी नेता आजम खान, कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू जैसे नेताओं पर कुछ तय घंटों के लिए चुनाव प्रचार करने पर भी रोक लगाई।  

शिकायतों के बाद सोशल मीडिया से 10 मार्च से लेकर अब तक करीब 645 फेसबुक पोस्ट, 160 ट्वीट, 31 शेयरचैट पोस्ट और तीन व्हाट्सएप मैसेज भी चुनाव आयोग द्वार हटाये गये। चुनाव प्रचार खत्म होने से ठीक पहले साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का नाथूराम गोडसे पर दिया बयान भी विवादों में रहा।

बता दें कि लोकसभा के सातवें और आखिरी चरण का मतदान 19 मई को है। इसके तहत 8 राज्यों के 59 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे।


Web Title: lok sabha election 2019 more than 3000 crore seized by ec highest ever in ls polls