Lakha Sidhana, wanted in the case of Republic Day violence, said: not running away from arrest | गणतंत्र दिवस हिंसा के मामले में वांछित लाखा सिधाना ने कहा : गिरफ्तारी से भाग नहीं रहा
(फोटो सोर्स- सोशल मीडिया)

Highlightsइस वर्ष गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हजारों प्रदर्शनकारियों की पुलिस के साथ झड़प हो गई थी।इस दौरान अनेक प्रदर्शनकारी लाल किले पर पहुंच गए थे और उसके गुंबद पर धार्मिक झंडा फहरा दिया था।

गणतंत्र दिवस हिंसा के मामले में वांछित, गैंगस्टर से सामाजिक कार्यकर्ता बना लाखा सिधाना शुक्रवार को फिर सामने आया और उसने पत्रकारों से कहा कि अगर सरकार उसे गिरफ्तार करना चाहती है तो वह गिरफ्तारी से भाग नहीं रहा है।

अपने समर्थकों के साथ यहां खुले वाहन में सवार सिधाना ने टीवी पत्रकार से कहा कि वह शनिवार को केन्द्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ हरियाणा के कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेसवे को बंद करने के लिये किसानों के साथ शामिल होने जा रहा है।

सिधाना से जब पूछा गया कि क्या वह गिरफ्तारी से डर रहा है, तो उसने कहा, ''जब भी कोई बड़ा आंदोलन होता है तो सरकार फर्जी मामले दर्ज करती है। वह आंदोलन को कमजोर करने के लिये हथकंडे के तौर पर इसे इस्तेमाल करती है। इसमें कोई नयी बात नहीं है।''

उसने कहा, ''अगर सरकार मुझे गिरफ्तार करना चाहती है तो मैं भाग नहीं रहा। मुख्य बात यह है कि यह आंदोलन सफल होना चाहिये।''लाखा सिधाना नयी दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के सिलसिले में वांछित है। 

Web Title: Lakha Sidhana, wanted in the case of Republic Day violence, said: not running away from arrest

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे