jharkhand ranchi Lalu Prasad Yadav's alleged audio goes viral three sevadars Irfan's former CM calls BJP MLA | लालू प्रसाद यादव का कथित ऑडियो वायरल, तीन सेवादार, इरफान के फोन से राजद प्रमुख ने भाजपा विधायक को किया था फोन
लालू प्रसाद यादव, इरफान अंसारी को बिहार में सरकार बनने के बाद एमएलसी बनाना चाहते थे. (file photo)

Highlightsलालू यादव के कई सेवादारों के नाम सामने आते रहे हैं. करीब 2 मिनट तक दोनों के बीच दो कॉल में बात हुई है.रांची रिम्स में लालू प्रसाद यादव के तीन सेवादार हैं.

पटनाः चारा घोटाला मामले में बतौर सजायाफ्ता कैदी के रूप में रांची रिम्स में इलाजरत राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के द्वारा बिहार में भाजपा विधायक को किये गये फोन के बाद जारी सियासत में अब इरफान की भी इंट्री हो गई है.

सुशील कुमार मोदी ने लालू यादव के ऊपर आरोप लगाते हुए जो मोबाइल नंबर जारी किया वह 8051216302 है. अब तक यह साफ नहीं हो पाया है कि यह नंबर किसके नाम पर लिया गया है, लेकिन एंड्रॉयड फोन में इस्तेमाल किए जाने वाले ट्रूकॉलर एप्लीकेशन में यह नंबर किसी 'इरफान रांची लालू जी' के नाम से शो कर रहा है. 

ऐसे में अब यह सवाल उठने लगा है कि आखिर इरफान नाम का यह शख्स कौन है? इसके पहले भी लालू यादव के कई सेवादारों के नाम सामने आते रहे हैं. ऐसे में सियासी गलियारे के अंदर इस बात को लेकर भी चर्चा है कि इरफान लालू यादव का कोई सेवादार है, जो इस वक्त भी रिम्स निदेशक के बंगले में उनके साथ मौजूद है और किसी के नंबर से लालू यादव लगातार सब के संपर्क में हैं.

मोबाइल से राजद सुप्रीमो ने बिहार में एनडीए के विधायक से बात की थी

बताया जा रहा है कि जिस मोबाइल से राजद सुप्रीमो ने बिहार में एनडीए के विधायक से बात की थी, वह उनके सेवादार नंबर 1 इरफान अंसारी का है. इरफान ने ही विधायक के पीए से बात कर लालू से उनकी बात करवाई थी. करीब 2 मिनट तक दोनों के बीच दो कॉल में बात हुई है. बताया जा रहा है कि रांची रिम्स में लालू प्रसाद यादव के तीन सेवादार हैं. इसमें इरफान अंसारी का स्थान पहले नंबर पर है. 

सूत्रों के अनुसार लालू प्रसाद यादव, इरफान अंसारी को बिहार में सरकार बनने के बाद एमएलसी बनाना चाहते थे. उनकी ही सिफारिश के बाद इरफान अंसारी को पार्टी में झारखंड प्रदेश का महासचिव बनाया गया था. जेल से सेवादार के रूप में अधिकृत इस महासचिव के कंधे पर ना ही लालू प्रसाद यादव की सेवा का जिम्मा है, बल्कि बाहर के काम की व्‍यवस्‍था भी इरफान ही करते हैं.

किसकी चिट्ठी अंदर जाएगी, कौन मोबाइल से बात करेगा?

लालू प्रसाद यादव से कौन मुलाकात करेगा, किसकी चिट्ठी अंदर जाएगी, कौन मोबाइल से बात करेगा? इरफान ही इन सारी चीजों को तय करने का काम करता है. जेल प्रशासन को जानकारी होने के बाद भी कभी कोई कार्रवाई नहीं की गई. सूत्रों की मानें तो लालू प्रसाद यादव अपने तीनों सेवादारों के मोबाइल से ही बात करते हैं. 

सूत्रों ने दावा किया है कि असगर नामक सेवादार के मोबाइल से भी राजद प्रमुख बात करते हैं. यही नहीं, स्मार्टफोन से ट्विटर की गतिविधियों पर भी नजर रखते हैं. जेल प्रशासन हर सप्ताह बंगले का निरीक्षण करता है, लेकिन कभी उन्हें मोबाइल नहीं मिला. लालू के ऑडियो को लेकर झारखंड के जेल आइजी बीरेंद्र भूषण ने कहा कि यह जिम्मेदारी जेल अधीक्षक की है कि कोई कैदी नियम नहीं तोडे़.

किसी भी सूरत में कैदी के पास मोबाइल नहीं पहुंच सकता है. एक बार शिकायत मिलने पर पेइंग वार्ड में छापेमारी भी की गई थी. तब लालू यादव के पास मोबाइल नहीं मिला था. अगर अभी वे मोबाइल से बात कर रहे हैं तो यह नियमों के खिलाफ है. इसपर उचित कार्रवाई की जायेगी.

Web Title: jharkhand ranchi Lalu Prasad Yadav's alleged audio goes viral three sevadars Irfan's former CM calls BJP MLA

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे