जलगांवः छह दिवसीय ‘बंजारा महाकुम्भ’ का आयोजन, आरएसएस ने कहा-10 लाख लोग लेंगे हिस्सा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, तेलंगाना विधानसभा चुनाव पर दिखेगा असर!

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: January 25, 2023 03:46 PM2023-01-25T15:46:47+5:302023-01-25T15:48:05+5:30

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ बंजारा महाकुंभ का आयोजन ऐसे समय में कर रहा है जब 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव तथा इस वर्ष कुछ राज्यों में आसन्न विधानसभा चुनाव को लेकर जनजातीय समुदायों को खास तवज्जो दी जा रही है।

Jalgaon six-day Banjara Mahakumbh RSS said 10 lakh people will take part impact will be seen Karnataka, Madhya Pradesh, Telangana assembly elections | जलगांवः छह दिवसीय ‘बंजारा महाकुम्भ’ का आयोजन, आरएसएस ने कहा-10 लाख लोग लेंगे हिस्सा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, तेलंगाना विधानसभा चुनाव पर दिखेगा असर!

कर्नाटक, मध्य प्रदेश, तेलंगाना जैसे राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं जहां इस समुदाय के लोग बड़ी संख्या में रहते हैं।

Next
Highlightsआयोजन में अनुमानित 10 लाख लोगों के हिस्सा लेने की उम्मीद है।महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उप मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस हिस्सा लेंगे।कर्नाटक, मध्य प्रदेश, तेलंगाना जैसे राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं जहां इस समुदाय के लोग बड़ी संख्या में रहते हैं।

नई दिल्लीः राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) महाराष्ट्र के जलगांव में बुधवार से घुमंतु जातियों पर केंद्रित छह दिवसीय ‘बंजारा महाकुम्भ’ का आयोजन कर रहा है। संघ के पदाधिकारियों को इस आयोजन में अनुमानित 10 लाख लोगों के हिस्सा लेने की उम्मीद है।

 

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ बंजारा महाकुंभ का आयोजन ऐसे समय में कर रहा है जब 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव तथा इस वर्ष कुछ राज्यों में आसन्न विधानसभा चुनाव को लेकर जनजातीय समुदायों को खास तवज्जो दी जा रही है। आरएसएस के पदाधिकारी ने बताया कि कार्यक्रम में संघ के वरिष्ठ प्रचारक सुरेश भैय्याजी जोशी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उप मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस हिस्सा लेंगे।

महाकुंभ की तैयारियों में शामिल पदाधिकारियों के अनुसार, इस सम्मेलन का आयोजन मिशनरियों द्वारा बंजारा समुदाय के लोगों के धर्मांतरण के बढ़ते मामलों के खिलाफ जागरूकता फैलाने के साथ इस समुदाय के लोगों तक पहुंच बनाने की कोशिशों के तहत किया जा रहा है।

इस महाकुंभ के आयोजन का महत्व तब बढ़ जाता है जब कर्नाटक, मध्य प्रदेश, तेलंगाना जैसे राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं जहां इस समुदाय के लोग बड़ी संख्या में रहते हैं। संघ के पदाधिकारी ने कहा कि इस महाकुंभ में गोड बंजारा, लाबना और नैकदा जैसी घुमंतु जातियों के 10 लाख से अधिक लोगों के हिस्सा लेने की उम्मीद है।

आरएसएस के एक वरिष्ठ प्रचारक ने कहा कि महाराष्ट्र और गोवा से भी इस समुदाय के लोग सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। उन्होंने बताया कि घुमंतु जातियों के साधु संत एवं समाज के गणमान्य लोग इन समुदायों तक पहुंच रहे हैं और उन्हें महाकुंभ में हिस्सा लेने के लिये आमंत्रित कर रहे हैं।

इनके ठहरने के लिये व्यापक इंतजाम किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों से ईसाई मिशनरियों द्वारा बंजारा समुदाय को गुमराह करके धर्मांतरण कराया जा रहा है। इस महाकुंभ की तैयारियों में बंजारा समुदाय के युवा और आरएसएस के 3000 स्वयंसेवक पिछले दो महीने से लगे हुए हैं। इसका आयोजन जलगांव के गोदरी गांव में 500 एकड़ क्षेत्र में किया जा रहा है।

Web Title: Jalgaon six-day Banjara Mahakumbh RSS said 10 lakh people will take part impact will be seen Karnataka, Madhya Pradesh, Telangana assembly elections

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे