is the corona vaccine are safe know here NITI Aayog members thinking | कितनी सुरक्षित है कोरोना वैक्सीन? जानिए क्या कहते हैं नीति आयोग के सदस्य
(फाइल फोटो)

Highlightsमनीष तिवारी ने कहा है कि लोगों पर तीसरा ट्रायल नहीं होना चाहिए, भारतीय कोई गिनी पिग नहीं हैं। गिनी पिग एक चूहे जैसा दिखने वाला जानवर है। वैज्ञानिक इनका इस्तेमाल अधिकतर किसी शोध या ट्रायल के लिए करते हैं।

दो दिन बाद यानि शनिवार से देश में वैक्सीनेशन अभियान शुरू होने वाला है। मकर संक्रांति के दिन देश के सभी वैक्सीननेशन सेंटर पर कोरोना वैक्सीन की खेप पहुंच जाएगी। वैक्सीनेशन से पहले हर किसी के जहन में एक ही सवाल है कि कोरोना वैक्सीन कितनी सुरक्षित है और कोविशील्ड व कोवाक्सीन में से कौन सी वैक्सीन ज्यादा असरदार है? नीति आयोग के सदस्य डा.वीके पॉल ने इन सवालों के जवाब पर कहा है कि डीजीसीआई ने कोरोना वैक्सीन को सही माना है और मंजूरी दी है।

कोविशील्ड और कोवाक्सीन दोनों ही वैक्सीन का ट्रायल हजारों लोगों पर किया गया है। जिससे इस बात की पुष्टि हुई है कि यह दोनों ही वैक्सीन सुरक्षित हैं। डा. वीके पॉल ने कहा कि लोगों को वैक्सीनेशन अभियान से जुड़ना चाहिए और यह भली भांति समझना चाहिए कि आप और आपके परिवार इससे सुरक्षित रहेंगे। लेकिन वैक्सीन लगवाने लोग इस बात का पूरा ध्यान रखें कि वैक्सीन की पहली डोज और दूसरी डोज लगने के बाद भी करीब 20 दिनों तक दो गज की दूरी, मास्क पहनने और हाथ धोने के नियमों में किसी तरह की कोताही न बरतें । क्योंकि टीका लगते ही शरीर में एकदम से एंटीबॉडी तैयार नहीं होगी। 

पहली डोज लगने के 14 दिन बाद उसका असर दिखने लगता है। दूसरी डोज 28 दिन बाद लगेगी और फिर जाकर शरीर में एंटीबॉडी बनेंगी। आपके शरीर में मौजूद यही एंटीबॉडी आपकी कोरोना वायरस से सुरक्षा करेंगी। उधर कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्द्धन को ट्वीट करते हुए कहा है कि सरकार बोल रही है कि किसी के पास वैक्सीन चुनने का ऑप्शन नहीं होगा। 

जबकि भारत सरकार ने ही कोवैक्सीन को इस्तेमाल की मंजूरी दी है। जब कोवैक्सीन का तीसरा ट्रायल भी पूरा नहीं हुआ है, ऐसे में उसे मंजूरी देने पर सवाल खड़े हो रहे हैं। अगर वैक्सीन का अभियान शुरू हो रहा है, तो लोगों में विश्वास पैदा करना जरूरी है। 

Web Title: is the corona vaccine are safe know here NITI Aayog members thinking

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे