विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने बताया, भारत को कोविड-19 महामारी के दौरान बतौर एफडीआई 20 अरब डॉलर प्राप्त हुए

By भाषा | Published: September 16, 2020 07:33 AM2020-09-16T07:33:50+5:302020-09-16T07:33:50+5:30

विदेश सचिव ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने पिछले छह वर्षों के दौरान भारत में व्यापार को आसान बनाने के लिए कई ऐतिहासिक सुधार किए हैं। आज, भारत दुनिया की सबसे खुली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। हमने एक पारदर्शी और स्थिर कर व्यवस्था लागू की है।’’

India received $ 20 billion as FDI during Kovid-19 epidemic says Foreign Secretary | विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने बताया, भारत को कोविड-19 महामारी के दौरान बतौर एफडीआई 20 अरब डॉलर प्राप्त हुए

फाइल फोटो।

Next
Highlightsविदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान भारत को बतौर एफडीआई 20 अरब डॉलर से अधिक राशि प्राप्त हुई।उन्होंने कहा कि इससे दर्शाता है कि देश निवेश के लिए दुनिया के सर्वाधिक आकर्षक स्थानों में से एक है।

नयी दिल्लीः विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान भारत को बतौर एफडीआई 20 अरब डॉलर से अधिक राशि प्राप्त हुई, यह दर्शाता है कि देश निवेश के लिए दुनिया के सर्वाधिक आकर्षक स्थानों में से एक है। ब्रिटेन में सीआईआई के एक कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए संबोधित करते हुए उन्होंने भारत द्वारा किए गए कई संरचनात्मक सुधारों का उल्लेख किया और कहा कि अंतरिक्ष, रक्षा और परमाणु ऊर्जा जैसे अभी तक प्रतिबंधित क्षेत्रों को निजी भागीदारी के लिए खोला गया है।

विदेश सचिव ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने पिछले छह वर्षों के दौरान भारत में व्यापार को आसान बनाने के लिए कई ऐतिहासिक सुधार किए हैं। आज, भारत दुनिया की सबसे खुली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। हमने एक पारदर्शी और स्थिर कर व्यवस्था लागू की है।’’

श्रृंगला ने इस दौरान वस्तु एवं सेवा कर, आधार बायोमेट्रिक परियोजना, कृषि क्षेत्र में बुनियादी सुधार और रेलवे, बंदरगाहों तथा हवाई अड्डों के लिए बुनियादी ढांचे के निर्माण जैसी विभिन्न महत्वाकांक्षी योजानाओं को लागू करने के बारे में विस्तार से चर्चा की।

उन्होंने कहा, ‘‘महामारी के दौरान हमने इस साल 20 अरब डॉलर से अधिक की एफडीआई हासिल की। वैश्विक स्तर पर 2019 में एफडीआई में एक प्रतिशत की कमी आई, जबकि इस दौरान भारत में एफडीआई में 20 प्रतिशत का इजाफा हुआ।’’

उन्होंने कहा कि गूगल और फेसबुक सहित कई वैश्विक तकनीकी कंपनियों ने भारत में उल्लेखनीय निवेश की घोषणा की है। भारत और ब्रिटेन के संबंधों पर उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच अगले दशक में रणनीतिक साझेदारी को मजबूत बनाने के लिए एक व्यापक मसौदा तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यूरोप में व्यापार, निवेश, रक्षा, विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी जैसे विविध क्षेत्रों में ब्रिटेन प्रमुख साझेदार है।

Web Title: India received $ 20 billion as FDI during Kovid-19 epidemic says Foreign Secretary

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे