गुजरात: हार्दिक पटेल ने भाजपा में शामिल होने को विकल्प बताया, कहा- आम आदमी पार्टी की चुनावी रणनीति कांग्रेस से बेहतर

By विशाल कुमार | Published: May 25, 2022 07:46 AM2022-05-25T07:46:52+5:302022-05-25T07:50:01+5:30

कांग्रेस के 28 वर्षीय पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने कहा कि ऑफर और सौदे कमजोर लोगों के लिए हैं। मजबूत लोग अपने लिए जगह बनाते हैं। उनके अनुसार, गुजरात चुनाव दिलचस्प नहीं होगा क्योंकि यह एकतरफा होगा लेकिन वह 2017 की तुलना में बेहतर भूमिका निभाएंगे।

gujarat hardik-patel-congress bjp aap politics | गुजरात: हार्दिक पटेल ने भाजपा में शामिल होने को विकल्प बताया, कहा- आम आदमी पार्टी की चुनावी रणनीति कांग्रेस से बेहतर

गुजरात: हार्दिक पटेल ने भाजपा में शामिल होने को विकल्प बताया, कहा- आम आदमी पार्टी की चुनावी रणनीति कांग्रेस से बेहतर

Next
Highlightsकांग्रेस के 28 वर्षीय पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि ऑफर और सौदे कमजोर लोगों के लिए हैं।हार्दिक ने आम आदमी पार्टी की चुनावी रणनीति को कांग्रेस से बेहतर बताते हुए उसकी प्रशंसा की।हार्दिक ने 18 मई को कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था।

अहमदाबाद:गुजरात में कांग्रेस से इस्तीफा देने के कुछ दिनों बाद पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने मंगलवार को कहा कि वह इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे और उन्होंने इस मुकाबले को भाजपा के पक्ष में एकतरफा बताया।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, यह पूछे जाने पर कि क्या वह भाजपा को एक विकल्प के रूप में विचार कर रहे हैं, इस पर हार्दिक ने कहा कि ऐसा क्यों नहीं होना चाहिए?

कांग्रेस के 28 वर्षीय पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि ऑफर और सौदे कमजोर लोगों के लिए हैं। मजबूत लोग अपने लिए जगह बनाते हैं। अपने लिए सभी विकल्प खुले रखने की बात करते हुए हार्दिक आम आदमी पार्टी की चुनावी रणनीति को कांग्रेस से बेहतर बताते हुए उसकी प्रशंसा की।

हालांकि, आप में शामिल होने के बारे में निश्चिंत न होने की बात कहते हुए उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में वह कांग्रेस को कहीं नहीं देखते हैं। उनके अनुसार, गुजरात चुनाव दिलचस्प नहीं होगा क्योंकि यह एकतरफा होगा लेकिन वह 2017 की तुलना में बेहतर भूमिका निभाएंगे।

हार्दिक को 2019 में कांग्रेस में शामिल किया गया था और 2020 में राज्य इकाई का कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया गया। 18 मई को उन्होंने ट्विटर पर अपना त्याग पत्र पोस्ट करते हुए कहा कि पार्टी के शीर्ष नेता अपने मोबाइल (फोन) पर प्राप्त संदेशों में अधिक रुचि रखते हैं और ऐसा व्यवहार करते हैं जैसे वे गुजरात और गुजरातियों से नफरत करते हैं जबकि राज्य के नेता उनके लिए चिकन  सैंडविच की व्यवस्था में अधिक ध्यान केंद्रित करते हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को संबोधित पत्र में हार्दिक ने बिना नाम लिए राहुल गांधी पर भी कटाक्ष किया कि जब भी हमारे देश को चुनौतियों का सामना करना पड़ता है और जब कांग्रेस को नेतृत्व की जरूरत थी, तो कांग्रेस नेता विदेशों में आनंद ले रहे थे।

Web Title: gujarat hardik-patel-congress bjp aap politics

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे