General Bipin Rawat: साल 2012 में वायुसेना के बेड़े शामिल, जानें एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर के बारे में

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: December 8, 2021 09:02 PM2021-12-08T21:02:40+5:302021-12-08T21:04:59+5:30

General Bipin Rawat: भारतीय वायु सेना ने कहा कि जनरल रावत, उनकी पत्नी मधुलिका और हेलीकॉप्टर में सवार 11 अन्य लोगों की बुधवार को तमिलनाडु में कुन्नूर के पास एक दुर्घटना में मौत हो गई।

General Bipin Rawat Mi-17V5 helicopter year 2012 Air Force joined russia 4000 kg | General Bipin Rawat: साल 2012 में वायुसेना के बेड़े शामिल, जानें एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर के बारे में

एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर 4,000 किलोग्राम वजनी सामग्री ले जाने में सक्षम है।

Next
Highlights वायुसेना ने कहा कि दुर्घटना की ‘कोर्ट ऑफ इंक्वायरी’ के आदेश दे दिए गए हैं।वेलिंगटन के लिए रवाना हुआ और चालक दल सहित हेलीकॉप्टर में 14 लोग सवार थे।एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर सुलूर से सीडीएस वेलिंगटन में डिफेंस स्टाफ कॉलेज जा रहे थे

General Bipin Rawat: प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत को ले जा रहा भारतीय वायुसेना का दुर्घटनाग्रस्त हुआ एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर एक उन्नत सैन्य परिवहन हेलीकॉप्टर है जोकि वर्ष 2012 से वायुसेना के बेड़े में शामिल है।

रशियन हेलीकॉप्टर की सहायक कंपनी 'कजान' द्वारा निर्मित एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर मौसम रडार के साथ ही नवीनतम पीढ़ी के 'नाइट विजन' उपकरणों से लैस है। इसमें पीकेवी-8 स्वचालित पायलट प्रणाली की भी सुविधा है। एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर 4,000 किलोग्राम वजनी सामग्री ले जाने में सक्षम है।

भारत ने 2008 में मानवीय तथा आपदा राहत अभियानों और परिवहन कार्यों के मद्देनजर अपने हेलिकॉप्टर बेड़े को मजबूत करने के लिए 80 एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर की खरीद के लिए रूस के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। हालांकि, बाद में इनकी संख्या बढ़ाकर 151 कर दी गई थी।

इन हेलीकॉप्टर की पहली खेप सितंबर 2011 में भारत पहुंची थी। भारतीय वायुसेना ने फरवरी 2012 में औपचारिक रूप से एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर को अपने बेड़े में शामिल किया था। ये हेलीकॉप्टर कई तरह के हमलों से बचाव के लिए आत्म-रक्षा प्रणाली से भी लैस है। एमआई श्रेणी का ये हेलीकॉप्टर 250 किलोमीटर प्रतिघंटा की अधिकतम रफ्तार पकड़ सकता है।

जनरल रावत का असामयिक निधन सशस्त्र बलों, देश के लिए अपूरणीय क्षति: राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तमिलनाडु में हेलीकॉप्टर दुर्घटना में प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत की मृत्यु हो जाने पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए बुधवार को कहा कि उनका असामयिक निधन सशस्त्र बलों और देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है। सिंह ने ट्वीट किया, "तमिलनाडु में आज एक बेहद दुर्भाग्यपूर्ण हेलीकॉप्टर दुर्घटना में सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और सशस्त्र बलों के 11 अन्य कर्मियों के आकस्मिक निधन से गहरा दुख हुआ।"

रक्षा मंत्री ने कहा, "उनका असामयिक निधन हमारे सशस्त्र बलों और देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है।" सिंह ने कहा कि जनरल रावत ने असाधारण साहस और लगन से देश की सेवा की है। उन्होंने कहा, "पहले सीडीएस के रूप में उन्होंने हमारे सशस्त्र बलों को एक सूत्र में पिरोने की योजना तैयार की थी।" सिंह ने कहा, "इस दुर्घटना में अपने प्रियजनों को खोने वालों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है। ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं, जिनका वर्तमान में सैन्य अस्पताल, वेलिंगटन में इलाज चल रहा है।"

जनरल रावत के योगदान, प्रतिबद्धता को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता: शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मौत पर बुधवार को शोक प्रकट किया और वह देश के उन बहादुर सैनिकों में थे जिन्होंने अत्यंत लगन से मातृभूमि की सेवा की।

शाह ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘देश के लिए आज का दिन बहुत दुखद है क्योंकि हमने अपने सीडीएस जनरल बिपिन रावत को एक दुखद हादसे में खो दिया। वह बहादुर सैनिकों में एक थे, जिन्होंने अत्यंत लगन से मातृभूमि की सेवा की। उनके उत्कृष्ट योगदानों और प्रतिबद्धता को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। मुझे गहरा आघात पहुंचा है।’’

Web Title: General Bipin Rawat Mi-17V5 helicopter year 2012 Air Force joined russia 4000 kg

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे