IIMC अमरावती के निदेशक के खिलाफ SC-ST एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज, असिस्टेंट प्रोफेसर ने दर्ज कराई शिकायत

By विशाल कुमार | Published: February 22, 2022 07:54 AM2022-02-22T07:54:39+5:302022-02-22T07:56:30+5:30

अनिल कुमार सौमित्र के खिलाफ सहायक प्रोफेसर विजय सोनुले ने शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत 16 फरवरी को मिली थी और शिक्षण एवं गैर-शिक्षण कर्मचारियों के अलावा दोनों पक्षों के बयान दर्ज कर लिए गए हैं।

fir-against-iimc-amravati-director-under-sc-st-act-after-assitant-professor-complaint | IIMC अमरावती के निदेशक के खिलाफ SC-ST एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज, असिस्टेंट प्रोफेसर ने दर्ज कराई शिकायत

IIMC अमरावती के निदेशक के खिलाफ SC-ST एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज, असिस्टेंट प्रोफेसर ने दर्ज कराई शिकायत

Next
Highlightsसौमित्र के खिलाफ महाराष्ट्र में यहां अत्याचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।अनिल कुमार सौमित्र के खिलाफ सहायक प्रोफेसर विजय सोनुले ने शिकायत दर्ज कराई है।सोनुले ने कहा कि उन्हें अवैध तरीके से निलंबित किया गया।

अमरावती: भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के पश्चिमी क्षेत्रीय केंद्र के निदेशक अनिल कुमार सौमित्र के खिलाफ महाराष्ट्र में यहां अत्याचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी।

फ्रेजरपुरा थाने के निरीक्षक अनिल कुरालकर ने कहा, ‘‘अनिल कुमार सौमित्र के खिलाफ सहायक प्रोफेसर विजय सोनुले ने शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत 16 फरवरी को मिली थी और शिक्षण एवं गैर-शिक्षण कर्मचारियों के अलावा दोनों पक्षों के बयान दर्ज कर लिए गए हैं। सभी पहलुओं की जांच करने के बाद हमें लगा कि अत्याचार अधिनियम के तहत शिकायज दर्ज की जानी चाहिए।’’

सौमित्र के खिलाफ अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम की धारा (तीन) (एक) आर के तहत मामला दर्ज किया गया है। सोनुले ने कहा कि उन्हें अवैध तरीके से निलंबित किया गया।

उन्होंने कहा, ‘‘यह सब जुलाई में शुरू हुआ था। मैंने (सूचना एवं प्रसारण) मंत्रालय और आईआईएमसी मुख्यालय के पास भी शिकायत की थी। हालांकि दो सदस्यीय समिति यहां भेजी गई थी, लेकिन आईआईएमसी ने दो महीने बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की। इसलिए मैं न्याय के लिए पुलिस के पास गया।’’

इससे पहले जब सौमित्र भाजपा के सक्रिय सदस्य थे तब उन्होंने महात्मा गांधी को ‘‘पाकिस्तान का पिता’’ कहकर 2019 में विवाद खड़ा किया था। इसके बाद उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया था। इसके बाद अक्टूबर, 2020 में सौमित्र को आईआईएमसी का प्रोफेसर नियुक्त किया गया।

Web Title: fir-against-iimc-amravati-director-under-sc-st-act-after-assitant-professor-complaint

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे