Death Threat to PM Narendra Modi again, time of attack written in email! | पीएम नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा हमले का वक्त!
पीएम नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा हमले का वक्त!

नई दिल्ली, 13 अक्टूबरः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी मिली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को एक ई-मेल मिला है। 1 लाइन के इस मेल में पीएम मोदी पर हमले का वक्त भी लिखा गया है। बताया जा रहा है कि कथित रूप से 2019 के किसी महीने का जिक्र किया गया है। इस ईमेल में मौजूद की सभी जानकारियों को अभी तक जारी नहीं किया गया है।

इंडिया टुडे ने अपनी रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से लिखा है कि यह धमकी असम की किसी जेल से भेजी गई है। प्रधानमंत्री को एक धमकी मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियों अलर्ट कर दी गई हैं और मामले की पड़ताल जारी है। नरेंद्र मोदी को पहले भी जान से मारने की धमकियां मिलती हैं। 

कुछ महीने पहले मीडिया में एक चिट्ठी जारी की गई थी जिसमें नक्सलियों की ओर से पीएम मोदी की हत्या की साजिश रचने का दावा किया गया था। पुलिस के मुताबिक यह चिट्ठी नक्सलियों के संपर्क में रहने वाले रोना जैकब विल्सन के पास से बरामद की गई थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था देखने के लिए इस वीडियो को देखिए- 

6 लेयर में है पीएम का सुरक्षा कवच

- पीएम की सुरक्षा की पहली लेयर SPG की होती है। SPG कमांडो देश केपीएम की सुरक्षा नहीं करते बल्कि पीएम के परिवार वालों की भी रक्षा करते हैं। SPG में लगभग 3000 जवान हैं। इसके जवानों को अमेरिका की सिकेट सर्विस की तर्ज पर ट्रेनिंग मिलती है। SPG पर प्रधानमंत्री की चौबीस घंटे की सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है।

- पीएम मोदी की सुरक्षा कवच की दूसरी परत निजी सुरक्षा है। SPG कर्मियों की तरह इन्हें आसपास के लोगों के शरीर या इशारों में किसी भी तरह के कारक का आकलन करके संभावित खतरों को समझने के लिए अत्यधिक प्रशिक्षित किया जाता है।

- तीसरा सुरक्षा कवर राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) के कमांडो द्वारा होती है। इन्हें भी उच्च स्तरीय प्रशिक्षण के बाद पीएम को कवर के लिए तैनात किए जाता हैं।

ये भी पढ़ें: माओवादी रच रहे हैं पीएम मोदी की हत्या की साजिश, ईमेल में शेयर किया मर्डर का 'बेस्ट प्लान'

- चौथी परत अर्धसैनिक बलों और विभिन्न राज्य की पुलिस अधिकारियों कर्मियों द्वारा दी जाती है। अगर पीएम किसी सम्मेलन को संबोधित करने वाले हैं तो पहले सारे इलाके की छानबीन दिल्ली पुलिस की सिक्यॉरिटी ब्रांच एक दिन पहले करती है। और यह सुनिश्चित करती है कि वीवीआईपी के करीब कोई भी घटना न हो।

- इसके अलावा पीएम मोदी के काफिले के आसपास कई गाड़ियाँ और विमानों भी घूमते हैं जिसमे विशेष रूप से किसी भी प्रकार के हवाई या भूमि-आधारित हमलों का सामना करने वाले रासायनिक और जैविक खतरों से निपटने के लिए डिज़ाइन किए हुए हथियार होते हैं।

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी की हत्या की साजिश वाले पत्र पर सवाल, माओवादी ईमेल पर नहीं लिखते अपने नाम

- इसके बाद अगर पीएम मोदी रोड शो करते हैं तो बुलेटप्रुफ बीएमडब्ल्यू 7 में सफर करते हैं। इसके अलावा उनके काफिले में साथ दो डमी कारें भी चलती हैं। पीएम मोदी की गाड़ी के ऊपर बहुत-से ऐंटेना फिट रहते हैं। ये सड़क के दोनों तरफ 100 मीटर की दूरी पर रखे विस्फोटकों को डिफ्यूज़ कर सकते हैं।

- पीएम के साथ चलने वाली सब गाड़ियों में एनएसजी के अचूक निशाने वाले कमांडो होते हैं। मतलब ये कि सिक्यॉरिटी देखने के लिए प्रधानमंत्री के साथ करीब 100 लोगों की टीम चल रही होती है। जब पीएम पैदल चलते हैं, तो भी उनके आस-पास और आगे-पीछे वर्दी और सादे कपड़ों में एनएसजी के कमांडो चलते हैं।

English summary :
Prime Minister Narendra Modi has received the death threat through e-mail claiming assassination of PM. According to media reports, Delhi Police Commissioner Amulya Patnaik received an e-mail. In this mail of 1 Line, time for attack on PM Modi has also been written. Information contained in this email has not been released yet.


Web Title: Death Threat to PM Narendra Modi again, time of attack written in email!
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे