Cyclone Vayu: Cyclonic storm 'vayu' will hit Gujarat coast today, know 10 big things | Cyclone Vayu: चक्रवाती तूफान 'वायु' के दिशा बदलने से थोड़ी राहत, जानिए 10 बड़ी बातें
Cyclone Vayu: चक्रवाती तूफान 'वायु' के दिशा बदलने से थोड़ी राहत, जानिए 10 बड़ी बातें

Highlights तटीय क्षेत्रों से लगभग 3 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए अभियान छेड़ दिया गया है. सीएम रूपाणी ने तूफान से प्रभावित होने वाले दस जिलों के निवासियों से कहा है कि वे सुरक्षित स्थानों पर शिफ्टिंग में सहयोग करें.

गुजरात की ओर 150 किलोमीटर की रफ्तार से बढ़ रहे चक्रवाती तूफान 'वायु' ने रौद्र रूप धारण कर लिया है. 'वायु' के असर से राज्य के तटीय क्षेत्रों गीर सोमनाथ, वलसाड के तीथल, पोरबंदर, दीव सहित दरिया के तूफानी हवाओं के साथ बारिश हो रही है. समुद्र में ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही है. तेज हवाओं के कारण धूल के गुबार उठ रहे हैं. हाईअलर्ट की घोषणा के बीच एनडीआरएफ, सेना सहित विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों ने मोर्चा संभाल लिया है. इस मौसम विभाग ने वायु की दिशा में परिवर्तन से थोड़ी राहत की सांस ली है। फिलहाल मौसम विभाग की ताजा अपडेट के मुताबिक वायु ने अपने दिशा बदल दी है। उम्मीद जताई जा रही है कि शायद चक्रवाती तूफान गुजरात तट से ना टकराए। जानिए चक्रवाती तूफान वायु से जुड़ी 10 बड़ी बातें...

- तटीय क्षेत्रों से लगभग 3 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए अभियान छेड़ दिया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह तूफान से जुड़ी स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए हैं. मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने भी कंट्रोल रूम में मोर्चा संभाल लिया है. वे प्रशासनिक अधिकारियों के साथ तालमेल बनाकर राहत व्यवस्थाओं की निगरानी कर रहे हैं. 

- सीएम रूपाणी ने तूफान से प्रभावित होने वाले दस जिलों के निवासियों से कहा है कि वे सुरक्षित स्थानों पर शिफ्टिंग में सहयोग करें. 'वायु' के गुरुवार को किसी समय गुजरात तट से टकराने की सूचना मौसम विभाग ने दी है.

-  'वायु' के असर से राज्य के तटीय क्षेत्रों गीर सोमनाथ, वलसाड के तीथल, पोरबंदर, दीव सहित दरिया के तूफानी हवाओं के साथ बारिश हो रही है. समुद्र में ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही है. तेज हवाओं के कारण धूल के गुबार उठ रहे हैं.

- मौसम विभाग के अनुसार भीषण चक्रवाती तूफान वायु अरब सागर के पूर्वी तट को पार कर चुका है। आज दोपहर सौराष्ट्र के तट से 135-140 किमी की रफ्तार वाली हवाएं टकराने का अनुमान है।

- सौराष्ट्र और कच्छ आने जाने वाली सभी ट्रेन और विमान सेवाएं 14 जून तक रद्द कर दी गई हैं. भावनगर, भुज, गांधीधाम, वेरावल, पोरबंदर और ओखा को जोड़ने वाली रेल सेवाएं शाम 6 बजे से रद्द हैं. अहमदाबाद में एक राहत ट्रेन को स्टैंड बाय रखा है. 

- सौराष्ट्र के हर स्टेशन से जुड़ी इस ट्रेन से जरूरत पड़ने पर पानी टैंकर और जेसीबी को ले जाया जा सकेगा. ट्रेन में अधिकतम 8 बोगियां जोड़ी जा सकेंगी. कांडला, मुंद्रा और साबरमती की भी सभी उड़ानें रद्द कर दी गई हैं. सौराष्ट्र और कच्छ के लिए एयरपोर्ट ऑपरेशन रोक दिए गए हैं. 

- गुजरात के सभी समुद्री तटों और बीच पर 120 एंबुलेंस तैनात कर दी गई हैं. ये 108 एंबुलेंस सेवा 24 घंटे उपलब्ध रहेंगी. इसके अतिरिक्त 600 कर्मचारियों को किसी भी आपात स्थिति के लिए तैयार रखा गया है.

-सरकारी कंपनी ओएनजीसी ने अरब सागर के ऊपर चक्रवात तैयार होने के मद्देनजर पश्चिमी तट पर स्थित अपने सभी संयंत्रों को हाई अलर्ट कर दिया है. कंपनी ने हेलिकॉप्टरों की उड़ान पर भी रोक लगा दी है. कंपनी ने मुंबई और गुजरात के हाजरा में आपातकालीन नियंत्रण कक्ष स्थापित किए हैं. 

- ओडिशा सरकार ने गुजरात सरकार को हर तरह की मदद की पेशकश की है. गुजरात के मुख्य सचिव जे. एन. सिंह ने ओडिशा के अपने समकक्ष ए.पी. पाधी से फोन पर बात की और युद्ध-स्तर पर चक्रवाती तूफान से निपटने के लिए ओडिशा से सलाह मांगी. बहरहाल, सिंह ने कहा है कि वे स्थिति को ध्यान में रखते हुए जरूरत हुई तो और मदद लेंगे. 

- पीएम प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट में कहा, ''चक्रवात वायु से प्रभावित होने वाले सभी लोगों की सुरक्षा और हित के लिए प्रार्थना करता हूं. सरकार और स्थानीय एजेंसी जानकारी मुहैया करा रही हैं, जिसका मैं प्रभावित इलाकों में रहने वाले लोगों से अनुसरण करने का अनुरोध करता हूं.''


Web Title: Cyclone Vayu: Cyclonic storm 'vayu' will hit Gujarat coast today, know 10 big things
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे