Child Rights Commission wrote a letter to the Chief Secretary of Bengal on targeting children in violence after elections | बाल अधिकार आयोग ने चुनाव बाद हिंसा में बच्चों को निशाना बनाने पर बंगाल के मुख्य सचिव को पत्र लिखा
बाल अधिकार आयोग ने चुनाव बाद हिंसा में बच्चों को निशाना बनाने पर बंगाल के मुख्य सचिव को पत्र लिखा

नयी दिल्ली, चार मई राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर शिकायत के आधार पर राज्य में चुनाव बाद हिंसा से बच्चों के प्रभावित होने का मुद्दा उठाया और इसकी जांच की मांग की।

पश्चिम बंगाल में सोमवार को बड़े पैमाने पर हिंसा हुई जिसमें संघर्ष के दौरान भाजपा के कई कार्यकर्ता कथित रूप से घायल हो गए और कई की मौत हो गई, दुकानें लूटी गयीं। केन्द्र सरकार ने इन घटनाओं पर और विपक्षी दल के कार्यकर्ताओं पर हुए हमलों को लेकर तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है।

आयोग ने कहा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद तीन मई को हुई हिंसा में लोगों के मरने संबंधी कई खबरें मीडिया में आयी हैं।

एनसीपीसीआर के प्रमुख प्रियांक कानूनगो ने एक पत्र में कहा, ‘‘राज्य में चुनाव परिणाम की अंतिम तारीख दो मई थी, इसके बाद से राज्य में हिंसा की कई घटनाएं हुई हैं, जिससे लोगों के लिए खतरा पैदा हुआ है और उन्हें खतरा है, खास तौर से बच्चों को।’’

आयोग ने अपने पत्र के साथ उसे मिली शिकायत की एक प्रति भी भेजी है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Child Rights Commission wrote a letter to the Chief Secretary of Bengal on targeting children in violence after elections

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे