छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने उठाया 'अग्निपथ' पर सवाल, बोले- 'मोदी सरकार देश की सुरक्षा से खिलवाड़ कर रही है'

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: June 19, 2022 02:18 PM2022-06-19T14:18:11+5:302022-06-19T14:21:37+5:30

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 'अग्निपथ' योजना की आलोचना करते हुए कहा कि मोदी सरकार इस योजना के जरिये से न केवल देश के युवाओं के भविष्य के साथ खेल रही है, बल्कि यह तो सीधे तौर पर देश की सुरक्षा के साथ बड़ा समझौता है।

Chhattisgarh CM Bhupesh Baghel raised questions on 'Agneepath', said- 'Modi government is playing with the security of the country' | छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने उठाया 'अग्निपथ' पर सवाल, बोले- 'मोदी सरकार देश की सुरक्षा से खिलवाड़ कर रही है'

फाइल फोटो

Next
Highlights'अग्निपथ' की मुखर आलोचना करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि केंद्र की मंशा ठीक नहीं हैमोदी सरकार इस योजना के जरिये से केवल देश के युवाओं के भविष्य के साथ खेल रही है'अग्निपथ' की अल्पकालिक सेवा से रिटायर होने के बाद बेरोजगार युवा अपराध की ओर मुड़ सकते हैं

रायपुर: 'अग्निपथ' विवाद में फंसे केंद्र सरकार पर हमलावर कांग्रेस पार्टी के आक्रामक तेवर को सही ठहराते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने इसे युवाओं के भविष्य को बर्बाद करने वाला बताया है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तरह रक्षा मंत्रालय के द्वारा सेना के तीनों अंगों में शुरू किये जा रहे नए भर्ती अभियान 'अग्निपथ' की मुखर आलोचना करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि केंद्र की मंशा ठीक नहीं है।

सीएम बघेल ने कहा कि मोदी सरकार इस योजना के जरिये से न केवल देश के युवाओं के भविष्य के साथ खेल रही है, बल्कि यह तो देश की सुरक्षा के साथ भी बड़ा समझौता है।

उन्होंने कहा, “आखिर सरकार को यह आसान बात क्यों नहीं समझ में आ रही है कि चार साल बाद हथियारों का प्रशिक्षण लेकर जब 23-24 साल के युवा सिविल सोसाइटी में वापस आएंगे और उनके पास कोई रोजगार नहीं होगा तो वह आखिर क्या करेंगे। अगर उन्हें रोजगार नहीं मिला तो वह किसी आपराधिक गिरोह का हिस्सा बनकर इसी समाज के लिए घातक हो सकते हैं।"

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा, "सरकार का यह फैसला समझ से परे है कि सेना में सैनिकों की नियमित पूर्णकालिक भर्ती की जगह नई अल्पकालीन आखिर किय लिये की जा रही है। इस तरह का फैसला फौरन वापस लिया जाना चाहिए''

मुख्यमंत्री ने कहा देश के युवा पूरी क्षमता के साथ राष्ट्र की सेवा करने का संकल्प लेकर सशस्त्र बलों में शामिल होते हैं लेकिन अगर उनकी भर्तियां अल्पकालिक होंगी तो उनके जज्बे में कमी आ सकती है, उनमें वो प्रतिबद्धता नहीं रहेगी जैसा कि पूर्णकालिक सैनिकों में होती है।

इसके साथ ही भूपेश बघेल ने भाजपा शासित राज्यों की भी आलोचना, जो अपने यहां की पुलिस सेवाओं में 'अग्निवर' को वरीयता देने की घोषणा कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “सेना और पुलिस दो अलग-अलग उद्देश्य वाले पेशे हैं। एक सेना का आदमी केवल दो चीजें जानता है- दोस्त और दुश्मन लेकिन पुलिस आमतौर पर समाज में कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध होती है ऐसे में दोनों के दृष्टिकोण एक जैसे नहीं हो सकते हैं।”

हालांकि छत्तीसगढ़ में विपक्षी भाजपा नेताओं ने मुख्यमंत्री बघेल के इस बयान की कड़ी आलोचना की है। भाजपा नेताओं का कहना है बघेल की टिप्पणी केंद्र प्रति हताशा और निराशा को दर्शा रहा है।

राज्य भाजपा के अध्यक्ष विष्णु देव साई ने कहा, "मुख्यमंत्री महोदय को यह बात समझनी होगी कि 'अग्निवीर' सेना में शामिल हो रहे हैं न कि कांग्रेस पार्टी में"। (समाचार एजेंसी पीटीआई के इनपुट के साथ)

Web Title: Chhattisgarh CM Bhupesh Baghel raised questions on 'Agneepath', said- 'Modi government is playing with the security of the country'

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे