कांग्रेस ने कहा- भाजपा को भुगतने होंगे राहुल गांधी के खिलाफ दुष्प्रचार करने के परिणाम, छह राज्यों में FIR दर्ज

By रुस्तम राणा | Published: July 4, 2022 04:45 PM2022-07-04T16:45:15+5:302022-07-04T16:47:05+5:30

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने कहा कि उसने झारखंड, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली सहित छह राज्यों में शिकायतें दर्ज की हैं और भाजपा सांसद राज्यवर्धन राठौर, सुब्रत पाठक, भोला सिंह और विधायक कमलेश सैनी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

BJP to face consequences of spreading propaganda against Rahul Gandhi says Congress | कांग्रेस ने कहा- भाजपा को भुगतने होंगे राहुल गांधी के खिलाफ दुष्प्रचार करने के परिणाम, छह राज्यों में FIR दर्ज

कांग्रेस ने कहा- भाजपा को भुगतने होंगे राहुल गांधी के खिलाफ दुष्प्रचार करने के परिणाम, छह राज्यों में FIR दर्ज

Next
Highlightsभाजपा सांसद राज्यवर्धन राठौर, सुब्रत पाठक, भोला सिंह के खिलाफ FIR दर्जझारखंड, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली सहित छह राज्यों में शिकायत दर्जकांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर साधा निशाना

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी पर राहुल गांधी के खिलाफ दुष्प्रचार फैलाने का आरोप लगाते हुए दावा किया कि सोशल मीडिया पर एक फर्जी समाचार रिपोर्ट को फैलाने का भगवा ब्रिगेड को इसका परिणाम भुगतना होगा। कांग्रेस ने कहा कि उसने झारखंड, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली सहित छह राज्यों में शिकायतें दर्ज की हैं और छत्तीसगढ़ में भाजपा सांसद राज्यवर्धन राठौर, सुब्रत पाठक, भोला सिंह और विधायक कमलेश सैनी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

कांग्रेस की सोशल मीडिया प्रमुख सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि सवाल सीधे (प्रधानमंत्री) मोदी जी से है। उन्होंने सांसदों और विधायक को सस्ते ट्रोल के रूप में क्यों रिहा किया है? एक सच्चाई यह है कि उनके पास करने के लिए कोई काम नहीं है और दूसरा यह कि आप जितना नफरत, दुश्मनी और झूठ फैलाएंगे, उतनी ही जल्दी उन्हें पार्टी के भीतर बढ़ावा दिया जाएगा।

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फेक न्यूज फैलाना एक बात है, लेकिन प्लेटफॉर्म का "आतंकवादियों के साथ" इस्तेमाल करना असहनीय है। राहुल गांधी का नाम एक संवेदनशील मुद्दे (उदयपुर हत्या) के साथ ऐसे प्रतिकूल समय में जोड़ने का आपमें दुस्साहस है? श्रीनेत ने इसे एक साजिश करार दिया है। उन्होंने कहा कि सच्चाई दिखाने, आतंकवाद के खिलाफ लड़ने और देश की पवित्रता बनाए रखने की जिम्मेदारी एक निर्वाचित प्रतिनिधि की होती है।

दरअसल, राहुल गांधी का वीडियो एक समाचार चैनल पर प्रसारित हुआ था। कांग्रेस का कहना है कि राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र वायनाड स्थित उनके कार्यालय पर एसएफआई के कार्यकर्ताओं द्वारा कथित तौर पर किए गए हमले के संदर्भ में उसके पूर्व अध्यक्ष ने एक टिप्पणी की, जिसे एक चैनल ने उदयपुर की घटना से जोड़कर पेश कर दिया। बाद में इस चैनल ने अपनी गलती के लिए माफी मांगी।

Web Title: BJP to face consequences of spreading propaganda against Rahul Gandhi says Congress

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे