बिहारः वजन 6 टन, लालटेन की उंचाई 11 फीट, 4 साल बाद राजद कार्यालय पहुंचे लालू प्रसाद यादव, देखें वीडियो

By एस पी सिन्हा | Published: November 24, 2021 09:00 PM2021-11-24T21:00:10+5:302021-11-24T21:09:35+5:30

लालू यादव ने ऐलान कर दिया कि बिहार में उनकी पार्टी सरकार बनाकर रहेगी. उन्होंने कहा कि इस लालटेन को हेरिकेन लैंप कहा जाता है, जो तूफान में भी नहीं बुझता है.

Bihar Lalu Prasad Yadav Weight 6 tons height lantern 11 feet reached RJD office after 4 years watch video | बिहारः वजन 6 टन, लालटेन की उंचाई 11 फीट, 4 साल बाद राजद कार्यालय पहुंचे लालू प्रसाद यादव, देखें वीडियो

हमारे 75 विधायक हैं. हमसे बड़ी ताकत बिहार में किसी के पास नहीं आज नहीं तो कल हमारी सरकार बिहार में बनकर रहेगी.

Next
Highlightsराजद के लिए तेजस्वी और सभी कार्यकर्ता बड़ी मेहनत करते हैं. किसानों की जीत हुई है और नरेंद्र मोदी की हार हुई है. नीतीश कुमार ने मेरे जेल में रहते हुए बिहार के जनादेश पर डाका डाल लिया.

पटनाः बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव आज करीब चार साल बाद पार्टी के कार्यालय पहुंचे. इस दौरान उन्होंने पार्टी कार्यालय में गुलाबी संगमरमर से बनी 6 टन की लालटेन का लोकार्पण किया. इस लालटेन की उंचाई 11 फीट है.

संगमरमर राजस्थान से मंगाया गया था. लालटेन की लौ चैबीसों घंटे जलती रहेगी. इस दौरान लालू यादव ने ऐलान कर दिया कि बिहार में उनकी पार्टी सरकार बनाकर रहेगी. उन्होंने कहा कि इस लालटेन को हेरिकेन लैंप कहा जाता है, जो तूफान में भी नहीं बुझता है. उन्होंने कहा कि राजद के लिए तेजस्वी और सभी कार्यकर्ता बड़ी मेहनत करते हैं. इन लोगों ने विपक्षियों को धूल चटा दिया है.

लालू ने कहा है कि जब हम रेल मंत्री बने थे तो घाटे के सौदे वाले रेल को भी फायदे में लाया. 90 प्रतिशत पूल का अप्रोच हमने बनवाया है. साथ ही किसान आंदोलन के बारे में उन्होंने कहा कि आज किसानों की जीत हुई है और नरेंद्र मोदी की हार हुई है. अहंकार की हार हुई है. जब तक समर्थन मूल्य किसानों के मानक अनुसार निर्धारित नहीं होगा तब तक यह आंदोलन रुकने वाला नहीं है.

हमें लड़ना है. इस लड़ाई को लड़ते रहना है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने मेरे जेल में रहते हुए बिहार के जनादेश पर डाका डाल लिया. मैं जेल में था और 2020 के विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार ने क्या खेल किया यह बात किसी से छिपी नहीं है. हमारी सरकार बन चुकी थी, हमारे 75 विधायक हैं. हमसे बड़ी ताकत बिहार में किसी के पास नहीं आज नहीं तो कल हमारी सरकार बिहार में बनकर रहेगी.

लालू ने कहा कि जिस रेलवे पुल को मैंने बनवाया, उसका क्रेडिट लोग लेने का काम कर रहे हैं. आज खुद से जीप चलाने पर उन्होंने कहा कि 1977 में इस जीप को पांच हजार रुपये में खरीदे थे. जब हम जीप तेज चलाते थे तब हमारे नेता कर्पूरी ठाकुर जी कहा करते थे कि ड्राइवर बहुत अच्छा है. वे समझाते थे कि गाड़ी को आराम से चलाए.

उन्होंने कहा कि आप लोग महिलाओं को आगे नहीं आने देते हैं. मैं जब सभा करता था तो महिलाओं को आगे बैठता था. लालू ने कहा कि आगे से यह ध्यान रखा जाए की जहां भी कोई कार्यक्रम या सभा हो महिलाओं को आगे बैठाया जाए. उन्होंने कहा कि जगदानंद सिंह के नेतृत्व में पार्टी अनुशासन के साथ चल रही है. यह देखकर हमें अच्छा लगा.

जगदानंद सिंह को बधाई देता हूं कि उन्होंने राजद दफ्तर में कई बदलाव किए. उन्होंने पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर एनडीए के खिलाफ खडा रहने के लिए कहा. लालू यादव ने कहा कि आज देश का आम आदमी केंद्र सरकार की गलत नीतियों की वजह से परेशान है. लोग महंगाई की मार झेल रहे हैं और बिहार में सुशासन के नाम पर केवल भ्रष्टाचार हो रहा है.

यहां बता दें कि राजद कार्यालय में आज से लालटेन जलती रहेगी. यह लालटेन सामान्‍य नहीं बल्कि खास है. एक तो इसका वजन साढे छह टन है तो दूसरी ओर राजस्‍थान के गुलाबी संगमरमर से यह बनी है. इसकी खास बात यह कि इसकी लौ हमेशा जलती रहेगी. लालू यादव के आने को लेकर पार्टी कार्यालय को बेहतर ढंग से सजाया-संवारा गया था.

बैनर-पोस्‍टर से कार्यालय और आसपास की दीवारों को पाट दिया गया था. लालू के स्‍वागत के शब्‍दों वाले बडे़-बडे़ पोस्‍टर लगाए गए थे. वहीं, लालू यादव के आगमन को लेकर समर्थकों में कमाल का जोश और उत्साह देखने को मिला. इसबीच जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने आज एक बार फिर लालू-राबड़ी के शासनकाल की खूब चर्चा की.

ललन सिंह के निशाने पर लालू यादव रहे तो वहीं नीतीश कुमार की तरफ से बिहार में किए गए कामों की उन्होंने खूब चर्चा की. उन्होंने कहा कि लालू राज में केवल अपहरण उद्योग था, फिरौती की रकम वसूलने के लिए जगह फिक्स था, जोरू का भाई भाई भी इस धंधे में खूब सहयोग करते थे, सभी मिलकर वसूली करते थे.

ललन सिंह ने कहा कि 16 साल पहले बिहार जब नीतीश कुमार के हाथों में आया था तो लालू-राबड़ी के शासनकाल में इसका कबाड़ा कर दिया था. बर्बाद बिहार अपने हाथों में पाने के बावजूद नीतीश कुमार ने बेहद धैर्य से काम लिया. नीतीश कुमार ने हर क्षेत्र में एक-एक कर काम किया और अब 15 वर्षों में बिहार कितना बदला है कि यह फर्क महसूस किया जा सकता है.

ललन सिंह ने कहा कि बिहार में जो परिवर्तन हुआ है उसे अंधा भी महसूस कर सकता है. शिक्षा से लेकर कानून व्यवस्था और कृषि से लेकर अन्य क्षेत्रों में किए गए बदलाव की देन है कि बिहार आज देश के अग्रणी राज्यों में शामिल है.

Web Title: Bihar Lalu Prasad Yadav Weight 6 tons height lantern 11 feet reached RJD office after 4 years watch video

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे