बिहारः नीतीश कुमार के तेवर कड़े, पीएम मोदी सहित बीजेपी पर हमला, 2024 में मुख्यमंत्री पद छोड़ एनडीए को देंगे टक्कर!

By एस पी सिन्हा | Published: August 10, 2022 05:31 PM2022-08-10T17:31:59+5:302022-08-10T17:33:55+5:30

2024 में प्रधानमंत्री पद की दावेदारी पर बिहार सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि नहीं, हमारी किसी भी पद के लिए कोई दावेदारी नहीं है। लेकिन जो 2014 में आए वो 2024 के बाद रह पाएंगे या नहीं?

bihar cm nitish kumar oath attack bjp pm narendra modi opposition unity 2024 nda jdu jp nadda amit shah congress sonia gandhi | बिहारः नीतीश कुमार के तेवर कड़े, पीएम मोदी सहित बीजेपी पर हमला, 2024 में मुख्यमंत्री पद छोड़ एनडीए को देंगे टक्कर!

इसके लिए सभी विपक्षी दलों को एकजुट किया जाएगा।

Next
Highlightsराज्यपाल फागू चौहान ने नीतीश कुमार को राजभवन में बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई।नीतीश कुमार 2024 में बिहार के मुख्यमंत्री का पद छोड़ लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी को टक्कर देंगे।2024 के लोकसभा चुनाव के लिए पूरे देश में दौरा करेंगे।

पटनाः मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेने के तुरंत बाद नीतीश कुमार ने कहा कि वह प्रधानमंत्री पद के दावेदार नहीं हैं। लगे हाथ उन्‍होंने सभी व‍िपक्षी पार्टियों से वर्ष 2024 के लिए एकजुट होने का आह्वान किया। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए राष्ट्रीय राजनीति में जाने का संकेत दिया है।

उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर इशारों-इशारों निशाना साधते हुए कहा, जो 2014 में प्रधानमंत्री बने वे 2024 में रहेंगे कि नहीं इस उन्हें सोचना चाहिए कि वे रहेंगे या नहीं? इससे पहले चर्चा होने लगी है कि नीतीश कुमार 2024 में बिहार के मुख्यमंत्री का पद छोड़ लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी को टक्कर देंगे।

नीतीश कुमार ने इशारों-इशारों में कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए पूरे देश में दौरा करेंगे। इसके लिए सभी विपक्षी दलों को एकजुट किया जाएगा। फिर सभी मिलकर लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी को टक्कर देंगे। उन्होंने कहा कि हमारे दल के सभी लोगों की सहमति से ये फैसला लिया गया है।

नीतीश ने कहा कि 2020 का चुनाव हुआ, उसमें जदयू के साथ सही नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद मैं मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहता था। लेकिन चारों तरफ से दबाव था। मुझे कहा गया कि आप ही बिहार को संभालिए। लेकिन मेरे साथ जो कुछ किया गया वो ठीक नहीं लग रहा था।

नीतीश कुमार ने कहा कि मेरी पार्टी के लोगों से बात हुई तो कई बातों का खुलासा हुआ, जिसके बाद मैंने भाजपा से अलग होने का फैसला लिया। भाजपा के साथ जाने से हमें नुकसान हुआ। पिछले दो महीने से हालात ठीक नहीं थे। इस कारण भाजपा का साथ छोड़कर महागठबंधन में आने का फैसला करना पड़ा।

नीतीश कुमार से जब प्रधानमंत्री के पद को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि मेरी ऐसी कोई ख्वाहिश नहीं है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग विपक्ष के खत्म होने की बात कह रहे हैं, लेकिन विपक्ष खत्म नहीं होगा, लोगों को जो करना है वो करते रहेंगे। नीतीश कुमार ने कहा कि विपक्ष में हम पहले भी थे, आगे भी रहेंगे और साथ रहेंगे।

नीतीश कुमार ने कहा कि हमने चुनाव में उनको सपोर्ट किया, लेकिन बिहार में हुए विधानसभा चुनाव में हमारे नेताओं को हराया गया। उन्होंने कहा कि 2015 के विधानसभा चुनाव में हमने एक साथ लडकर कितनी सीटें जीती थीं, सबको पता है। अब जो लोग 2015 में साथ थे वो फिर से साथ हुए हैं।

Web Title: bihar cm nitish kumar oath attack bjp pm narendra modi opposition unity 2024 nda jdu jp nadda amit shah congress sonia gandhi

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे