बिहार: जातिगत जनगणना पर जल्द हो सकती है सर्वदलीय बैठक, नीतीश कुमार ने कहा- कुछ दलों के जवाब का इंतजार

By विशाल कुमार | Published: May 23, 2022 01:58 PM2022-05-23T13:58:59+5:302022-05-23T14:01:46+5:30

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि जाति आधारित जनगणना को लेकर सभी की राय लेने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई जाएगी। इसके बाद प्रस्ताव को राज्य मंत्रिमंडल के समक्ष पेश किया जाएगा।

bihar caste-census cm-nitish-kumar all-party-meeting | बिहार: जातिगत जनगणना पर जल्द हो सकती है सर्वदलीय बैठक, नीतीश कुमार ने कहा- कुछ दलों के जवाब का इंतजार

बिहार: जातिगत जनगणना पर जल्द हो सकती है सर्वदलीय बैठक, नीतीश कुमार ने कहा- कुछ दलों के जवाब का इंतजार

Next
Highlightsनीतीश कुमार ने कहा कि 27 (मई) को बैठक आयोजित करने के लिए कुछ दलों के साथ बातचीत हुई।करीब 10 दिन पहले राजद नेता तेजस्वी यादव ने इस मुद्दे पर उनसे मुलाकात की थी।पिछले हफ्ते, बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा था कि इस मामले में लंबा समय नहीं लगेगा।

पटना:बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि जाति आधारित जनगणना पर सर्वदलीय बैठक करने के लिए बातचीत चल रही है।

नीतीश कुमार ने कहा कि जाति आधारित जनगणना को लेकर सभी की राय लेने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई जाएगी। इसके बाद प्रस्ताव को राज्य मंत्रिमंडल के समक्ष पेश किया जाएगा। 27 (मई) को बैठक आयोजित करने के लिए कुछ दलों के साथ बातचीत हुई, लेकिन कुछ से प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा की जा रही है।

बता दें कि, करीब 10 दिन पहले राजद नेता तेजस्वी यादव ने इस मुद्दे पर उनसे मुलाकात की थी। तब यादव ने कहा था कि उन्होंने (नीतीश कुमार) मुझसे कहा कि सरकार इस मुद्दे पर गंभीर है। वह जातिगत जनगणना की व्यापक रूपरेखा तैयार करने के लिए सभी दलों से बात करना चाहते हैं। चूंकि मामले को कैबिनेट की मंजूरी की आवश्यकता है, वह सभी पक्षों से परामर्श करना चाहते हैं।

20 दिनों में तीसरी मुलाकात के कारण सत्ता परिवर्तन की अफवाहों पर यादव ने आगे कहा था कि इस मुलाकात का कोई राजनीतिक मतलब नहीं है। यह केवल जाति जनगणना और अन्य मुद्दों पर चर्चा करने के लिए था। मैंने बेरोजगारी का मुद्दा भी उठाया और उनसे रिक्त पदों को भरने का अनुरोध किया। उसने मुझे उस पर विश्वास रखने के लिए कहा।

पिछले हफ्ते, बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा था कि इस मामले में लंबा समय नहीं लगेगा। नीतीश कुमार की जदयू राज्य में भाजपा के साथ गठबंधन में शासन कर रही है।

विपक्ष की आलोचना के बीच, भाजपा के सुशील मोदी ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि हमने जाति जनगणना पर एक प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया जब इसे ओडिशा में पारित किया गया था। जब तेलंगाना और कर्नाटक में राज्य-विशिष्ट जाति सर्वेक्षण किए गए तो हमने उसका विरोध नहीं किया। संसद के रिकॉर्ड इस बात का सबूत हैं कि हमारे दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे ने जाति जनगणना का पुरजोर समर्थन किया था, जब 2010 में इस मुद्दे पर बहस हुई थी, जबकि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सत्ता में थी।

Web Title: bihar caste-census cm-nitish-kumar all-party-meeting

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे