Bihar Assembly Election Chirag Paswan attacks Nitish Kumar say not afraid of contesting election without NDA | बिहार चुनाव के लिए NDA से अलग होने में डर नहीं लगा, पापा कहते थे शेर का बच्चा होगा तो जंगल चीर कर निकलेगा: चिराग पासवान
नीतीश कुमार बांटों और राज करो की नीति में माहिर: चिराग पासवान (फोटो- एएनआई)

Highlightsमुख्यमंत्री नीतीश कुमार हर रोज मेरे और भाजपा के बीच दूरी बनाने का प्रयास कर रहे हैं: चिराग पासवान'पीएम नरेंद्र मोदी से कैसे रिश्ते, ये दिखाने की मुझे जरूरत नहीं, एनडीए से अलग होने के फैसले पर पछतावा नहीं है'

Bihar Assembly Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान चर्चाओं का केंद्र बने हुए हैं. विधानसभा चुनाव में एनडीए से अलग हो कर मैदान में उतरी लोजपा की जदयू और भाजपा से खटपट अब और बढ गई है. लगातार हो रहे हमलों से परेशान लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने रविवार को ये भी कह दिया कि वो भाजपा को धर्म संकट में नहीं डाल सकते. 

चिराग पासवान ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपना गठबंधन धर्म निभाएं. वो चाहें तो मेरे खिलाफ भी बोलें.' चिराग पासवान ने कहा, 'नीतीश कुमार ने प्रचार का पूरा जोर मेरे और प्रधानमंत्री जी के बीच दूरी दिखने में लगा रखा है. बांटों और राज करो की नीति में माहिर मुख्यमंत्री हर रोज मेरे और भाजपा के बीच दूरी बनाने का प्रयास कर रहे हैं.'

'पीएम मोदी से कैसे रिश्ते, ये दिखाने की मुझे जरूरत नहीं'

उन्होंने कहा, 'मेरे और प्रधानमंत्री के रिश्ते कैसे है मुझे यह प्रदर्शन करने की ज़रूरत नहीं है. पापा जब अस्पताल में थे, तब से लेकर उनकी अंतिम यात्रा तक उन्होंने मेरे लिए जो कुछ किया. उसे मैं कभी नहीं भूल सकता.' 

चिराग पासवान ने आगे कहा, 'मैं नहीं चाहता की मेरी वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी धर्मसंकट में पडें. वे अपना गठबंधन धर्म निभाए. नीतीश कुमार को संतुष्ट करने के लिए मेरे खिलाफ भी कुछ कहना पडे तो निस्संकोच कहें.' 

इससे पहले शनिवार शाम अमित शाह का लोजपा-भाजपा और जदयू के संबंधों पर बयान आया था. उन्होंने कहा था कि अलग होने का फैसला चिराग पासवान का था.

'एनडीए से अलग होने के फैसले पर पछतावा नहीं'

बिहार चुनाव में एनडीए से अलग होकर लड़ने और इसके परिणाम को लेकर पूछे गए सवाल पर चिराग पासवान ने कहा कि उन्हें एनडीए से अलग होने के फैसले पर पछतावा नहीं है, न ही यह फैसला लेने में उन्हें डर लगा. 

उन्होंने अपने पिता रामविलास पासवान की बातों को याद करते हुए कहा कि पापा बोलते थे कि अगर शेर का बच्चा होगा तो जंगल चीर कर निकलेगा अगर गीदड़ होगा तो वो मारा जाएगा. चिराग ने कहा, 'मैं भी अब खुद को परखने निकला हूं. शेर का बच्चा हूं तो जंगल चीर कर निकलूंगा. नहीं तो वहीं मारा जाउंगा.'

नीतीश कुमार पर चिराग पासवान का निशाना

वोटकटवा कहे जाने से आहत लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश पर एक बार फिर निशाना साधते हुए कहा कि ये शब्दावली भाजपा नेताओं की नहीं है बल्कि उनसे बुलवाया जा रहा है. चिराग ने कहा, 'मेरा मानना है कि नीतीश कुमार के पास अब आगे का विजन नहीं है. उन्होंने युवा नेताओं को खारिज कर दिया, जबकि वो खुद जेपी आंदोलन के बाद युवा नेता के तौर पर उभरे थे. हम लोग सतर्क हैं और बिहार के लिए सोच सकते हैं.' 

बता दें कि लोजपा बिहार में एनडीए गठबंधन से अलग होकर चुनाव लड़ रही है. हालांकि लोजपा केंद्र में अभी भी एनडीए के साथ ही है. लोजपा नेता चिराग पासवान एक ओर बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हैं, वहीं प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते नजर आ रहे हैं.

Web Title: Bihar Assembly Election Chirag Paswan attacks Nitish Kumar say not afraid of contesting election without NDA
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे