Asansol Lok Sabha Election Result: आसनसोल में भाजपा को ’खामोश’ करने वाले बिहारी बाबू फिर पहुंचे संसद, केंद्र सरकार पर हल्ला बोलेंगे...

By एस पी सिन्हा | Published: April 16, 2022 05:48 PM2022-04-16T17:48:23+5:302022-04-16T18:12:22+5:30

Asansol Bypoll Results: शत्रुघ्न सिन्हा लोकसभा और राज्यसभा दोनों से ही सांसद रह चुके हैं. केन्द्र सरकार में मंत्री का पद भी संभाल चुके हैं. अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में जनवरी 2003 से मई 2004 तक शत्रुघ्न सिन्हा स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री थे.

Asansol Lok Sabha Election Result TMC Shatrughan Sinha wins record margin BJP Agnimitra Paul | Asansol Lok Sabha Election Result: आसनसोल में भाजपा को ’खामोश’ करने वाले बिहारी बाबू फिर पहुंचे संसद, केंद्र सरकार पर हल्ला बोलेंगे...

दो बार सांसद रह चुके शत्रुघ्न सिन्‍हा का 2015 में हुए विधानसभा चुनावों के बाद से भाजपा से मोहभंग हो गया था.

Next
Highlights2009 में शत्रुघ्न सिन्हा पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र से पन्द्रहवीं लोकसभा के लिए चुने गए थे.कांग्रेस उम्मीदवार शेखर सुमन को भारी मतों से परास्त किया था.2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हो गए थे.

Asansol Bypoll Results: पश्चिम बंगाल के आसनसोल लोकसभा क्षेत्र से तृणमूल उम्मीदवार के तौर पर चुनावी मैदान में उतरे अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने यहां भाजपा को ’खामोश’ करा दिया है. उन्होंने 3,03,209 के अंतर से ऐतिहासिक जीत दर्ज करते हुए भाजपा उम्मीदवार अग्निमित्र पॉल को परास्त कर दिया.

शत्रुघ्न सिन्हा लोकसभा और राज्यसभा दोनों से ही सांसद रह चुके हैं. इसके अलावा केन्द्र सरकार में मंत्री का पद भी संभाल चुके हैं. उल्लेखनीय है कि अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में जनवरी 2003 से मई 2004 तक शत्रुघ्न सिन्हा स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री थे. 2009 में शत्रुघ्न सिन्हा पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र से पन्द्रहवीं लोकसभा के लिए चुने गए थे.

उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार शेखर सुमन को भारी मतों से परास्त किया था. उसके बाद 2014 में हुए लोकसभा के चुनाव में उन्होंने दोबारा पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र से ही विजय हासिल किया और कांग्रेस उम्मीदवार कुणाल सिंह को परास्त किया था. लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव के समय वह भाजपा को छोड़ कांग्रेस में शामिल हो गए थे.

इसके बाद कांग्रेस के टिकट पर उन्होंने अपने पैतृक स्थान पटना साहिब निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ा था. लेकिन 2019 में वह केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद से बडे़ अंतर से हार गए थे. रविशंकर ने दो लाख 85 हजार से भी ज्यादा वोटों से शत्रुघ्न को हराया था. असल में दो बार सांसद रह चुके शत्रुघ्न सिन्‍हा का 2015 में हुए विधानसभा चुनावों के बाद से भाजपा से मोहभंग हो गया था.

इसके बाद से उन्‍होंने कई मुद्दों पर भाजपा की खुलकर आलोचना किया था. भगवा पार्टी से बाहर निकलने से पहले शत्रुघ्न ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ कई परोक्ष टिप्पणियां की थीं. यहां त‍क कि विपक्षी नेताओं के साथ उन्होंने मंच भी साझा किया था.

उन्‍होंने अपने ट्वीट में 'चौकीदार' वाले मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की थी. लोकसभा हारने के बाद 2020 के विधानसभा चुनाव में शत्रुघ्न सिन्हा के पुत्र लव सिन्हा को पटना के बांकीपुर विधानसभा का उम्मीदवार बनाया गया था.

इस चुनाव में पिता और मां ने भी प्रचार किया पर भाजपा के नितिन नवीन ने उन्हें शिकस्त दी थी. इसके बाद कांग्रेस होते हुए उन्होंने तृणमूल की शरण ली और अब आसनसोल में भाजपा को खामोश करते हुए वह संसद में अपनी आवाज बुलंद करेंगे. 

Web Title: Asansol Lok Sabha Election Result TMC Shatrughan Sinha wins record margin BJP Agnimitra Paul

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे