9 stray animals, not given in the way of CM Yogi, given responsibility to 9 officers | CM योगी की राह में ना आए आवारा पशु, 9 अधिकारियों को दी गई जिम्मेदारी
CM योगी की राह में ना आए आवारा पशु, 9 अधिकारियों को दी गई जिम्मेदारी

Highlightsअपने प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत 29 जनवरी को मिर्जापुर जाने वाले हैं। सीएम योगी के काफिला के सामने आवारा पशु ना आए इसके लिए प्रशासन ने तैयारी कर रखी है।

उत्तर प्रदेश में इन दिनों मुख्यमंत्री सीएम योगी गंगा यात्रा कर रहे हैं। सीएम का यह गंगा यात्रा प्रदेश के 27 जिलों होकर गुजरेगा। अपने प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत 29 जनवरी को मिर्जापुर जाने वाले हैं। सीएम योगी के काफिला के सामने आवारा पशु ना आए इसके लिए प्रशासन ने तैयारी कर रखी है।

cow_012820090840.png

प्रशासन ने इसके लिए 9 सरकारी अधिकारी को इसका जिम्मा सौंपा है। दरअसल, सभी सरकारी अधिकारी इंजीनिर हैं। इसके लिए सर्कुलेशन जारी कर प्रशासन ने लिखा है कि ये अधिकारी यात्रा के दौरान इस बात का ध्यान रखेंगे कि कोई पशु काफिला के बीच में ना आ जाए। 

दरअसल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को यहां गंगा यात्रा का शुभारंभ करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की तरह दिल्ली सरकार भी कर्तव्य का निर्वहन करती तो यमुना भी उतनी निर्मल हो जाती जितनी कानपुर मे गंगा। मुख्यमंत्री ने गंगा पूजन के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जब 2014 में काशी चुनाव लड़ने गये थे तो उन्होंने कहा था कि मुझे मां गंगा ने बुलाया है।

उन्होंने गंगा को स्वच्छ करने के लिए अपना वादा निभाते हुए नमामि गंगे परियोजना बनाई जिसकी वजह से कानपुर मे भी गंगा निर्मल हो गयी। उन्होंने कहा कि कानपुर में सीवेज का इतना गंदा पानी गिरता था कि पानी में ऑक्सीजन स्तर बहुत कम हो गया था और इससे वहां जलीय जीवों का अस्तित्व ही नहीं रहा था। उन्होंने बताया कि इसीलिए बिजनौर और बलिया से आज निकल रही दोनों गंगा यात्रा 31 जनवरी को कानपुर मे मिलेंगी क्योंकि कानपुर नमामि गंगे का सबसे महत्वपूर्ण बिंदु था।

मुख्यमंत्री ने गंगा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि गंगा से लगे इलाकों की जमीन इतनी उर्वर है कि विश्व की 40 प्रतिशत आबादी का पेट भर सकती है। उन्होंने गंगा किनारे के गांवो के किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए बताया कि गंगा किनारे के हर जिले मे एक नर्सरी खुलेगी जिससे किसान खेत की मेड़ पर लगाने के लिए मुफ्त फलदार वृक्ष ले सकेंगे और मार्केटिंग भी सरकार कराएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगा किनारे का जो किसान पूरी खेती मे फलदार वृक्ष लगाएगा उसे तीन वर्ष तक फल आने तक हर माह सरकार अनुदान देगी। उन्होंने कहा कि गंगा किनारे के गांवो मे गौ आधारित खेती को प्रोत्साहित किया जाएगा तथा हर गांव मे गंगा मैदान, गंगा तालाब बनेंगे और नगर निकायों मे गंगा पार्क बनाए जाएंगे।

English summary :
9 stray animals, not given in the way of CM Yogi, given responsibility to 9 officers


Web Title: 9 stray animals, not given in the way of CM Yogi, given responsibility to 9 officers
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे