प्रकृति में स्वास्थ्य का खजाना छुपा होता है। प्रकृति में कई ऐसी चीजें पाई जाती है जिनका इस्तेमाल दवा के रूप में कर सकते हैं। इनमें से एक सदाबहार फूल है। इसका पौधा आपको किसी भी गार्डन में नजर आ सकता है। इस पौधे पर गुलाबी और सफेद रंग के छोटे-छोटे फूल आते हैं। इन फूलों का पारंपरिक दवा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। 

इसमें विन्डोलिन नामक तत्व पाया जाता है, जो ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में सहायक है। इसके अलावा इसमें विनब्लास्टिन और विनक्रिस्टिन तत्व भी पाए जाते हैं, जो कैंसर विरोधी हैं। एक नई रिसर्च के अनुसार, इस पौधे में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो कैंसर कोशिकाओं की पहचान करने और उन्हें उसी क्षण नष्ट करने में सहायक हैं। सदाबहार का पौधा किस तरह से फायदेमंद है, चलिए जानते हैं।

कैंसर कोशिकाओं को करता है नष्ट

आईआईटी रूड़की ने कैंसर कोशिकाओं की पहचान करने और उन्हें उसी क्षण नष्ट करने के लिए 'फ्लूरोसेंट कार्बन नैनोडॉट्स' विकसित किया है। नैनो कार्बन सामग्री सदाबाहर फूल के पौधे की पत्तियों से निकाली गई है। इस पौधे का आयुर्वेद में कई बीमारियों के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है।  

ब्लड प्रेशर रखता है कंट्रोल

ब्लड प्रेशर के मरीज के लिए यह पौधा बहुत ही लाभकारी है। सदाबहार के पौधे की जड़ में अज्मलसिने नामक एल्कलॉइड पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में सहायक होता है। जिन व्यक्तियों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है, वह अगर सदाबहार के पौधे की जड़ को सुबह-सुबह चबाकर खाएं, तो उनको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से छुटकारा मिलता है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए वरदान

सदाबहार के पौधे में पाए जाने वाले एल्कलॉइड, पैंक्रियाज की बीटा सेल्स को मजबूत करता है, जिसके फलस्वरूप शरीर में इंसुलिन की सही मात्रा बनने लगती है। अतः जिन व्यक्तियों को डायबिटीज की समस्या होती है, वह अगर सदाबहार के पत्ते के रस को पीते हैं, या इसकी पत्तियों को चबाकर खाते हैं उनको डाय-बिटीज में लाभ मिलता है।

त्वचा रोगों से बचाने में सहायक

अगर किसी व्यक्ति को खुजली की समस्या होती है, तो यदि वह व्यक्ति सदाबहार की पत्तियों को पीसकर प्रभावित जगह पर लगाता है, तो व्यक्ति को खुजली की समस्या से आराम मिलता है। इसके आलावा त्वचा में होने वाली अन्य समस्याओं जैसे कील, मुंहासे, झुर्रियों, दानों आदि को खत्म कर सकता है।

किडनी की पथरी का रामबाण इलाज

एक मुट्ठी पत्तियां लें और उन्हें अच्छी तरह धोकर तीन कप पानी में उबाल लें। पानी को इतना उबालें कि वो आधा ही रह जाए। इस पानी को दिन में दो बार पियें। दूसरे दिन नया मिश्रण तैयार करें। 

हाइपरटेंशन करते हैं कम

अगर आप हाई बीपी के शिकार हैं, तो यह छोटी-छोटी पत्तियों वाले फूल आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं। इनसे आपको बीपी को कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है। इसके लिए आपको 6 से 7 फूलों के पत्तों को एक गिलास पानी में मिक्स करना है और इस पानी को रात को सोने से पहले पीना है।

इस बात का रखें ध्यान

ऊपर बताई गई गंभीर समस्याओं से बचने के लिए यह एक घरेलू उपाय है और इसका इस्तेमाल करने से पहले आपको किसी एक्सपर्ट से सलाह लेनी चाहिए। गलत तरीके से इसका इस्तेमाल कई दुष्प्रभावों को जन्म दे सकता है।


Web Title: Healthy Diet tips : herbs and foods to get rid of diabetes, cancer, kidney stones, hypertension, skin problems in Hindi
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे