Online Examination: Students in Kashmir suffer as internet is suspended frequently during encounters | दिल्ली यूनिवर्सिटी ऑनलाइन परीक्षा: कश्मीर में धीमी गति की इंटरनेट सेवा छात्रों के लिए परेशानी का सबब
जम्मू-कश्मीर के छात्रों को स्लो इंटरनेट के कारण डर सता रहा है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Highlightsइंटरनेट की धीमी गति के कारण फाइलें डाउनलोड करने में भी परेशानी आती है।ऑनलाइन परीक्षा देने वाले कश्मीरी छात्रों को इस दौरान यही डर सताता रहता है।

नई दिल्ली।दिल्ली विश्वविद्यालय में स्नातक पाठ्यक्रमों के अंतिम वर्ष के लिए सोमवार से शुरू हुई ऑनलाइन ओपन बुक परीक्षाएं (ओबीई) कश्मीर के छात्रों के लिए एक अलग तरह की दिक्कत लेकर सामने आई हैं। इस केंद्र शासित प्रदेश में धीमी गति की टूजी इंटरनेट सेवाएं उपलब्ध होने के कारण ऑनलाइन परीक्षा देने वाले कश्मीरी छात्रों को इस दौरान यही डर सताता रहता है कि कहीं इंटरनेट बीच में ही धोखा नहीं दे जाए और इंटरनेट की धीमी गति के कारण फाइलें डाउनलोड करने में भी परेशानी आती है।

मिरांडा हाउस कॉलेज की प्रोफेसर आभा देव हबीब ने कहा, ''हमारे कॉलेज के कश्मीरी छात्रों ने कहा कि वे शिक्षा चाहते हैं, तनाव नहीं।'' उन्होंने कहा कि अगर कश्मीरी छात्र किसी तरह टूजी इंटरनेट सेवा के जरिए जुड़ भी जाते हैं तो उन्हें भारी ऐप्लिकेशन डाउनलोड करने में परेशानी का सामना करना पड़ता है क्योंकि इंटरनेट कभी भी चला जाता है।

जाकिर हुसैन कॉलेज की छात्रा बुशरा ने कहा, ''मैं राजौरी जिले से हूं। हमारे पास यहां टूजी इंटरनेट सेवा है। मैंने परीक्षा देने के लिए अपने दोस्त के घर जाने की योजना बनाई थी, लेकिन वह भी करीब चार किलोमीटर दूर है और महामारी के दौरान यह भी संभव नहीं है। मेरे इलाके में लॉकडाउन के कारण साइबर कैफे भी बंद हैं। मैं यही प्रार्थना कर रही हूं कि मेरा टूजी नेटवर्क मुझे धोखा नहीं दे और मैं परीक्षा दे पाऊं।''

Web Title: Online Examination: Students in Kashmir suffer as internet is suspended frequently during encounters
पाठशाला से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे