Seraikela Kharsawan 60 people gang raped 30 days 22 years old woman drug injection needle hostage jharkhand  | सरायकेला-खरसावां में 30 दिन तक नशे की सुई देकर युवती से 60 लोगों ने किया रेप, शरीर पर जख्मों के निशान
घटना की सूचना मिलने के बाद चांडिल इंस्पेक्टर पास्कल टोपनो एवं थाना प्रभारी सनोज चौधरी ने कांदरबेड़ा जाकर मामले की छानबीन की। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Highlightsएक महीने तक बंधक बनाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म को अंजाम दिया।स्थानीय लोगों ने युवती को चांडिल पुलिस को सौंप दिया।चांडिल थाना की पुलिस के पास मामला तब संज्ञान में आया जब युवती ने आपबीती सुनाई। 

रांचीः झारखंड में पूर्वी सिंहभूम जिले के जमशेदपुर स्थित परसुडीह थाना क्षेत्र की एक 22 वर्षीय युवती का अपहरण कर सरायकेला-खरसावां जिले के चांडिल थाना क्षेत्र के कांदरबेड़ा में बंधक बनाकर एक माह तक 60 लोगों के द्वारा नशीली सुई देकर सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का मामला प्रकाश में आया है।

चांडिल थाना की पुलिस के पास मामला तब संज्ञान में आया जब युवती ने आपबीती सुनाई। युवती ने आरोप लगाया है कि एक माह से 60 लोगों ने नशीली सुई लगाकर उसके साथ दुष्कर्म किया है। किसी तरह वह दरिंदों के चंगुल से बचकर बाहर निकली। स्थानीय लोगों ने युवती को चांडिल पुलिस को सौंप दिया।

घटना की सूचना मिलने के बाद चांडिल इंस्पेक्टर पास्कल टोपनो एवं थाना प्रभारी सनोज चौधरी ने कांदरबेड़ा जाकर मामले की छानबीन की। पुलिस ने युवती को चांडिल अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया है।इस सबंध में पुलिस फिलहाल दो युवकों से पूछताछ कर रही है, उसने सुई देने से शरीर में हुए जख्म को भी दिखाया।

वह ये भी बता रही कि दो लोगों को वह पहचानती है, जो उसे एक कमरे में बंधक बनाकर रखते थे। वह बाथरूम जाने के बहाने कमरे से निकल कर आज भागने में सफल रही। वहीं, युवती को बंधक बनाकर बीते एक माह से सामूहिक दुष्कर्म किए जाने की घटना को सरायकेला-खरसावां एसपी मो. अर्शी ने गंभीरता से लिया है।

एसपी के निर्देश पर चांडिल, चौका, कपाली और गम्हिरया थाना की पुलिस मामले की सत्यता की जांच कर रही है। युवती ने अपने पिता के नाम बताएं हैं और कहा कि उसकी मां नहीं है। पुलिस अधिकारियों के सामने वह रो-रोकर कहती रही कि उसे न्याय चाहिए, वहीं चांडिल एसडीपीओ संजय कुमार सिंह ने बताया कि युवती मानसिक रूप से अस्वस्थ है।

अभी उसे इलाज की जरूरत है। स्वास्थ्य होने पर ही मामले की सही जानकारी मिल सकती है. वह जमशेदपुर से चांडिल कैसे पहुंची? किसी के साथ पहुंची या भटकर आई इसकी जानकारी ली जा रही है। परिजन का पता लगाया जा रहा है. युवती ने बताया है कि वह सोनारी में एक परिवार के यहां दाई का काम करती है।

करीब एक माह पूर्व वह सब्जी लाने के लिए टेंपो में बैठी थी कि पहले से टेंपो में बैठे एक व्यक्ति ने सुई देकर उसे बेहोश कर दिया। इसके बाद कांदरबेडा स्थित एक गैरेज में उसे बंधक बनाकर रखा गया था. उसे नशे की सुई दी जाती थी। सुई देने के बाद कई युवक मिलकर उसके साथ दुष्कर्म करते थे. विरोध करने पर उसके साथ मारपीट भी की जाती थी।

उसके शरीर पर कई जगह चोट के निशान भी हैं। युवती ने पुलिस को बताया कि गुरुवार अहले सुबह जब युवक शौच करने कमरे से निकला तो वह किसी तरह वहां से निकलने में कामयाब हो गई। चांडिल थाना प्रभारी सनोज चौधरी ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। पुलिस गैरेज में रहने वाले युवकों से पूछताछ कर रही है. हर बिंदू पर अनुसंधान किया जा रहा है। मामले की पूरी तरह से जांच के बाद ही इस सबंध में कुछ कहा जा सकता है।

Web Title: Seraikela Kharsawan 60 people gang raped 30 days 22 years old woman drug injection needle hostage jharkhand 

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे