Rajasthan Jaipur Police IPL betting 4.19 crore recovered four arrested | राजस्थानः जयपुर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, आईपीएल सट्टे पर नकेल, 4.19 करोड़ बरामद, चार अरेस्ट
बताया जा रहा है कि सट्टे के लिए बनाए गए वाट्स अप गु्रप में 200 से अधिक लोग जुडे़ हुए थे।

Highlightsकार्रवाई को अंजाम देते हुए 4 करोड़ 19 लाख रुपये के नोटों के बंडल बरामद करते हुए 4 लोगों को गिरफ्तार किया है।गिरफ्तार किये गये आरोपी भी इस बारे में जवाब देने से बच रहे हैं कि चार करोड़ की रकम यहां कैसे पहुंची। चार आरोपियों में से दो मुख्य आरोपी राजकोट निवासी रणवीर सिंह और अजमेर निवासी कृपाल सिंह रिश्तेदार हैं।

जयपुरः राजस्थान की राजधानी जयपुर में पुलिस ने आईपीएल के मैचों पर होने सट्टे के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए 4 करोड़ 19 लाख रुपये के नोटों के बंडल बरामद करते हुए 4 लोगों को गिरफ्तार किया है।

इतनी भारी मात्रा में नकदी को देखकर पुलिस कमिश्नरेट के उच्च अधिकारी दंग रह गये। आरोपियों के पास से नोट गिनने की दो मशीने भी बरामद हुई हैं। उल्लेखनीय है कि पुलिस कमिश्नरेट की स्पेशल टीम ने 20 अक्टूबर की रात ही आरोपियों की 4.19 करोड़ के सट्टे की राशि के साथ गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन इसका खुलासा देर रात पुलिस ने क्यों किया इसका जवाब देने से आला अधिकारी भी कतरा रहे है।

वहीं गिरफ्तार किये गये आरोपी भी इस बारे में जवाब देने से बच रहे हैं कि चार करोड़ की रकम यहां कैसे पहुंची। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आरोपियों से पूछताछ के बाद ही मामले का खुलासा होगा।पुलिस के अनुसार मामले में गिरफ्तार चार आरोपियों में से दो मुख्य आरोपी राजकोट निवासी रणवीर सिंह और अजमेर निवासी कृपाल सिंह रिश्तेदार हैं।

जबकि दो अन्य आरोपियों को भी हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने 20 अक्टूबर की रात किशनपोल बाजार की दुकान संख्या 66 में बने काॅम्प्लेक्स में से इन आरोपियों को गिरफ्तार कर इनके कब्जे ने नौ मोबाइल बरामद किये ।इन मोबाइलों पर पुलिस कार्रवाई के दौरान भी भाव पूछने के लिए लगातार फोन आते रहे। आखिर पुलिस को ये मोबाइल बंद करने पड़े।

गिरफ्तार आरोपियों में से दो लोगों मैसेज के जरिये लोगों के सवालों का जवाब दे रहे थे वहीं दो लोग नोट गिन रहे थे। बरामद की गई राशि में इन आरोपियों का कितना हिस्सा था इसकी जांच की जा रही है। बताया जा रहा है कि सट्टे के लिए बनाए गए वाट्स अप गु्रप में 200 से अधिक लोग जुडे़ हुए थे।

चारों आरोपी सटोरियों से भाव लेकर वाट्सअप गु्रप के जरिये सट्टा खिला रहे थे।  इस गैंग के सरगना राकेश द्वारा सट्टे के कारोबारे से होने वाली कमाई की मोटी रकम को खुर्द-बुर्द करने के लिए आरसी एन्टरप्राइजेज नाम से एक कंपनी खोल रही थी। जिसमें बैंकिंग कारोबार की आड़ में सट्टे लगाते जाते थे। सटोरियों ने इस कंपनी की देशभर में 321 शाखाएं खोल रखी थीं।

पुलिस ने बताया कि सटोरियों ने वाट्सअप पर 20 से 25 गु्रप सट्टा लगाने के लिए बना रखे थे और किसी को उन पर संदेह न हो इस लिए उन्होंने इन गु्रप के नाम भगवानों के नाम पर रख रखे थे। सटोरिये रकम के लेनदेन के लिए दुबर्ह से कोड वर्ड में बात करते थे। कोड में एक लाख को एक किलो और एक करोड को एक किलो चिकन का कोड वर्ड दिया गया था।

पुलिस ने आईपीएल मैच में सट्टा लगाते पिता-पुत्र सहित तीन लोगों को किया गिरफ्तार

राजस्थान के टोंक जिले के निवाई कस्बे में पुलिस ने आईपीएल मैच में सट्टा लगाते हुए पिता-पुत्र सहित तीन व्यक्तियों को हिरासत में लेकर उनके पास से 5 लाख 63 हजार से अधिक नकद और 15 लाख 20 हजार से अधिक के हिसाब की पर्चियां जब्त की है। पुलिस को आरोपियों के कब्जे से लेपटाॅप व 21 मोबाईल भी मिले है।

निवासी निवासी तीनों ही आरोपी लोगों को बड़े मुनाफे का लालच देकर ऑनलाइन सट्टा लगवाते थे। पुलिस ने बताया कि उन्हें निवाई की कसाई गली में आईपीएल मैच पर सट्टा लगाए जाने की सूचना मिली थी। टोंक एसपी ओमप्रकाश के निर्देश पर गठित पुलिस की विशेष टीम ने कसाई गली स्थित एक मकान पर छापा मारकर सट्टा लगाते तीन लोगों को गिरफ्तार किया।

पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गये आरोपियों में से दो आरोपी पिता-पुत्र हैं। तीनों एक मकान की छत पर बने कमरे में राजस्थान और हैदराबाद टीम के मध्य चल रहे क्रिकेट मैच पर मोबाइल के द्वारा सट्टा लगा रहे थे। पुलिस ने गिरफ्तार किये गये आरोपियों से 21 मोबाइल, लैपटॉप, 15 लाख 20 हजार 280 के सट्टे के हिसाब-किताब  और 5 लाख से अधिक का कैश बरामद हुआ है। 

Web Title: Rajasthan Jaipur Police IPL betting 4.19 crore recovered four arrested

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे