मध्य प्रदेश में दिव्यांग हिंदू बुजुर्ग की कथित तौर पर मुसलमान समझ कर की गई मॉब लिंचिंग, हत्या का आरोपी पूर्व भाजपा पार्षद का पति

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: May 21, 2022 03:42 PM2022-05-21T15:42:49+5:302022-05-21T15:48:05+5:30

मध्य प्रदेश के नीमच में पूर्व पार्षद के पति दिनेश कुशवाहा द्वारा दिव्यांग बुजुर्ग भंवर लाल जैन की पिटाई करके कथिततौर पर इसलिए हत्या कर दी गई क्योंकि उन्हें शक था कि भंवर लाल मुसलमान हैं। पिटाई के दौरान दिनेश कुशवाहा भवर लाल की पहचान की पुष्टि करने के लिए उसका आधार कार्ड मांग रहे थे।

Mob lynching of a handicapped Hindu elder in Madhya Pradesh, allegedly mistaking it for a Muslim, the husband of a former BJP councilor accused of murder | मध्य प्रदेश में दिव्यांग हिंदू बुजुर्ग की कथित तौर पर मुसलमान समझ कर की गई मॉब लिंचिंग, हत्या का आरोपी पूर्व भाजपा पार्षद का पति

मध्य प्रदेश में दिव्यांग हिंदू बुजुर्ग की कथित तौर पर मुसलमान समझ कर की गई मॉब लिंचिंग, हत्या का आरोपी पूर्व भाजपा पार्षद का पति

Next
Highlightsरतलाम जिले के लापता 65 साल के बुजुर्ग भंवर लाल जैन की लिंचिंग में हुई मौतइस हत्या का आरोप पूर्व भाजपा पार्षद के पति का दिनेश कुशवाहा पर लगा हैआरोप है कि दिवेश कुशवाहा ने भवर लाल की पिटाई मुसलमान होने के शक में की

नीमच: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के शासनकाल में मॉब लिंचिंग की ऐसी घटना सामने आयी है, जिसे जानने के बाद सभी लोग हैरत में हैं। जानकारी के मुताबिक रतलाम जिले के लापता 65 साल के बुजुर्ग भंवर लाल जैन की कथिततौर पर गलत पहचान के कारण एक पूर्व भाजपा पार्षद के पति ने पिटाई करके जान ले ली।

बताया जा रहा है कि पूर्व भाजपा पार्षद के पति का नाम दिनेश कुशवाहा है, जिन्होंने भंवर लाल जैन की पिटाई इस शक के आधार पर की क्योंकि वो उसे कथित तौर पर मुसलमान समझ रहे थे।

दिनेश कुशवाहा के हैवानियत भरे इस कृत्य का वीडियो सार्वजिनक होने के बाद पुलिस ने उनके खिलाफ बुजुर्ग भंवर लाल जैन की हत्या के आरोप में आईपीसी की धारा 302 के सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

इस विभत्स घटना पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करके कहा कि मुझे जानकारी मिली है कि भाजपा के दिनेश कुशवाह के खिलाफ धारा 302 के तहत जुर्म क़ायम कर लिया गया है, देखते हैं गिरफ़्तारी होती है या नहीं।

दिनेश कुशवाहा द्वारा बुजुर्ग की पिटाई का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वो भंवर लाल की पिटाई केवल इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उन्हें शक था कि वो मुसलमान थे और पिटाई के दौरान वो भंवर लाल से बार-बार उनका आधार कार्ड मांग रहे थे।

भंवर लाल जैन की हत्या के बाद उनके बड़े भाई राजेश जैन ने बताया कि भंवर लाल जैन बचपन से ही मंदबुद्धि थे, 15 मई को पूरे परिवार के साथ चित्तौड़गढ़ राजस्थान देवता पूजने के लिए गए थे। उसी दौरान 16 मई को देर शाम 5 बजे वे परिवार से बिछुड़ गए थे। जिनकी गुमशुदगी का मामला परिवार वालों ने चित्तौड़गढ़ थाने में दर्ज भी करवाया था।

वहीं घटना के बाद मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी केएल दांगी ने बताया कि "भवंर लाल पिटाई का जो कथित वीडियो वायरल हो रहा है, उस वीडियो में पिटाई करने वाले शख्स की पहचान की कोशिश की जा रही है। वीडियो में जो शख्स बुजुर्ग की पिटाई करता हुआ नजर आ रहा है, वो दिनेश कुशवाहा की शक्ल से मिलता-जुलता हुआ दिखाई दे रहा है। 

उन्होंने बताया कि शुरुआती जांच के आधार पर पुलिस ने दिनेश कुशवाहा के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है और सबूतों के आधार पर जल्द ही इस मामले में उचित कार्रवाई होगी।

इस घटना के बाद विपक्षी दल कांग्रेस सहित अन्य लोग यह प्रश्न कर रहे हैं कि क्या इस हत्या के लिए शिवराज सरकार भाजपा की पूर्व पार्षद के घर पर भी बुलडोजर चलाएगी क्योंकि बीते दिनों खरगोन में हुई एक सांप्रदायिक झड़प के बाद जिला प्रशासन के हिंसा के आरोपियों के घर पर बुलडोजर चलवा दिया था।

वहीं इसके साथ यह भी आरोप लग रहा है कि मध्यप्रदेश में सांप्रदायिक तनाव और इस तरह की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं, बीते कुछ दिनों पहले सिवनी में बजरंग दल के लोगों ने गोहत्या के शक में एक आदिवासी युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। 

Web Title: Mob lynching of a handicapped Hindu elder in Madhya Pradesh, allegedly mistaking it for a Muslim, the husband of a former BJP councilor accused of murder

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे