jharkhand corpse found Giridih identified Satyendranath Mishra Bhadohi arrested | गिरिडीह में मिली सिर कटी लाश की पहचान भदोही के सत्येंद्रनाथ मिश्र के रूप में हुई, अरेस्ट, जानिए क्या है मामला
मखसूद सत्येंन्द्र को भदोही से यहां लेकर आया और हत्या के पहले सत्येंद्र को खूब शराब पिलाई गई।

Highlightsपहचान उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के रहने वाले सत्येंद्र नाथ मिश्र के रूप में की गयी है।मखसूद भदोही में 10 वर्षो से राजमिस्त्री का काम करता था जिससे उसकी सत्येंद्र से पहचान हो गयी थी।जांच में पता चला है कि मखसूद की पत्नी से सत्येंद्र का अवैध संबंध था और यही उसकी हत्या की मुख्य वजह बनी।

गिरिडीहः झारखंड के गिरिडीह जिले में परसन थाना क्षेत्र के जंगलों में 29 अगस्त को जिस व्यक्ति की गला काट कर निर्मम हत्या की गई थी उसकी पहचान उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के रहने वाले सत्येंद्र नाथ मिश्र के रूप में की गयी है।

इस बीच, पुलिस ने हत्या में शामिल आधा दर्जन अपराधियों में से एक को यहां से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। गिरिडीह के पुलिस अधीक्षक अमित रेणु ने शनिवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में बताया कि सत्येंद्रनाथ मिश्र को मुहर्रम दिखाने के बहाने उसका मित्र मखसूद उत्तर प्रदेश के भदोही से अपने साथ गिरिडीह लाया था।

मखसूद भदोही में 10 वर्षो से राजमिस्त्री का काम करता था जिससे उसकी सत्येंद्र से पहचान हो गयी थी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अब तक की जांच में पता चला है कि मखसूद की पत्नी से सत्येंद्र का अवैध संबंध था और यही उसकी हत्या की मुख्य वजह बनी। उन्होंने बताया कि हत्या के उद्देश्य से ही मखसूद सत्येंन्द्र को भदोही से यहां लेकर आया और हत्या के पहले सत्येंद्र को खूब शराब पिलाई गई।

उन्होंने बताया कि करीब आधे दर्जन लोगों ने मिलकर सत्येंद्र नाथ मिश्र की गोश्त काटने वाले चाकू से गर्दन काटकर नृशंस हत्या की। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक पहचान छिपाने के लिए सत्येंद्र के सिर को धड़ से अलग कर दोनों हिस्सों को एकदूसरे से आधे किलोमीटर दूर फेंका गया। पुलिस को उसका धड़ मिलने के दो दिनों बाद सिर मिला था।

अमित रेणु ने बताया कि मखसूद के दोस्त इब्राहिम नाम के व्यक्ति को मुखबिर की सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया है। मखसूद समेत अन्य सभी हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है। उन्होंने बताया कि इब्राहिम की सूचना के आधार पर जब सत्येंद्रनाथ मिश्र की पहचान की जा सकी।

इसके बाद उनके भदोही निवासी भाई हरेन्द्र नाथ मिश्र को यहां बुलाकर सत्येंद्र के शव की पहचान करायी गयी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस मामले के खुलासे के लिए अनुमंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) खोरीमहुआ नवीन कुमार सिंह के नेतृत्व में एक विशेष जांच टीम (एसआईटी) गठित की गई थी। 

Web Title: jharkhand corpse found Giridih identified Satyendranath Mishra Bhadohi arrested
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे