हिंदू महिला ने विवाह के 12 साल बाद किया 'मुस्लिम' होने का दावा, पति को मिल रही है 'इस्लाम' कबूल करने की धमकी

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: September 23, 2022 04:17 PM2022-09-23T16:17:43+5:302022-09-23T16:35:25+5:30

यूपी के अयोध्या स्थित शाहनवाजपुर गांव में पूजा नाम की एक महिला ने शादी के 12 साल बाद दावा किया है कि उसका नाम हसीना बानो है और वह हिंदू न होकर मुसलमान है। 

Hindu woman claims to be 'Muslim' after 12 years in Ayodhya, UP, husband is getting threats to accept 'Islam' | हिंदू महिला ने विवाह के 12 साल बाद किया 'मुस्लिम' होने का दावा, पति को मिल रही है 'इस्लाम' कबूल करने की धमकी

हिंदू महिला ने विवाह के 12 साल बाद किया 'मुस्लिम' होने का दावा, पति को मिल रही है 'इस्लाम' कबूल करने की धमकी

Next
Highlightsयूपी के अयोध्या में हिंदू महिला ने 12 वर्ष बाद मुस्लिम होने का अनोखा दावा किया है महिला के हिंदू पति पर भी इस्लाम कबूल करने के लिए कथित तौर पर दबाव डाला जा रहा हैमहिला ने पति के विरोध के बावजूद बेटे का इस्लामिक प्रथा के अनुसार खतना भी करवा दिया है

अयोध्या: उत्तर प्रदेश के अयोध्या में धर्म परिवर्तन का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे सुनने के बाद सभी हैरत में हैं। जानकारी के मुताबिक एक हिंदू महिला ने विवाद के 12 वर्ष बाद इस बात का दावा किया है कि उसका असली धर्म हिंदू न होकर इस्लाम है और इस कारण अब उसके पति पर इस्लाम कबूल करने के लिए कथित तौर पर दबाव दिया जा रहा है।

खबरों के अनुसार यह विवाद अयोध्या के शाहनवाजपुर गांव का है। जहां पूजा नाम की महिला ने शादी के 12 साल बाद दावा किया है कि उसका नाम हसीना बानो है और वह हिंदू न होकर मुसलमान है। समाचार वेबसाइट 'ऑपइंडिया' की रिपोर्ट की मानें तो पूजा उर्फ हसीन बानो के पति जगबीर कोरी को अब इस्लाम कबूल करने की बाकायदा धमकी दी जा रही है।

जगबीर का कहना है कि कथित हसीन बानो के परिवार वाले उसे परिवार सहित इस्लाम कबूल न करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। धमकी मिलने के बाद जगबीर ने मामले में पुलिस शिकायत दर्ज कराई है और शिकायत मिलने के बाद पुलिस आरोपों के आधार पर मामले की पड़ताल कर रही है।

जगबीर कोरी ने जो लिखित पुलिस शिकायत दी है। उसमें उसने बताया कि वो एक दलित परिवार से आते हैं और अयोध्या के शाहनवाजपुर हलकारा के निवासी हैं। जगबीर के मुताबिक उसकी पत्नी पूजा अब 12 साल बाद दावा कर रही है कि वो हसीना बानो है। बकौल जगबीर लगभग 12 साल पहले पूजा उसे रेलवे स्टेशन पर अनाथ अवस्था में मिली थी। वो पूजा को अपने घर लाया और कुछ समय बाद पूजा से विवाह कर लिया।

शादी के कुछ समय के बाद दोनों का एक बेटा और एक बेटी हुई। जगबीर के मुताबिक पूजा का व्यवहार बीते दो साल से बदलने लगा। उसने बच्चों को इस्लामिक शिक्षा के लिअए मदरसे में भेजना शुरू कर दिया। उसके बाद इस्लामिक प्रथा के अनुसार बेटे का खतना भी करवा दिया।

जब जगबीर ने विरोध किया तो पूजा ने कहा कि वो हसीना बानो है और इस्लाम की मान्यता के अनुसार बच्चे का खतना करवा रही है। शक होने पर उसने घर में रखे अपनी पत्नी पूजा के बक्सों की तलाशी ली, जिसमें उसे कुछ कागजात मिले, जिसमें उसकी पत्नी का नाम पूजा नहीं, बल्कि हसीना बानो लिखा था। वहीं एक कागज पर जगबीर को हसीन बानो पुत्री अमानतुल्ला निवासी बुढ़नपुर जिला आजमगढ़ भी लिखा हुआ मिला।

इसी विवाद के बीच हसीन बानो का एक कथित रिश्तेदार आया, जिसने जगबीर को अपना नाम राजू बताया। कुछ दिनों बाद राजू ने जगबीर से कहा कि हिंदू नहीं है और उसका असली नाम निसार है। अब जगबीर राजू उर्फ निसार के पचड़े को समझने का प्रयास कर रहा था कि एक दिन अचानक हसीन के कथित अम्मी-अब्बू भी जगबीर के घर पर आ गए और उस पर इस्लाम कबूल करने के लिए दबाव बनाने लगे।

जगबीर का कहना है कि उनकी पत्नी के सभी रिश्तेदार दबाव बना रहा हैं कि अगर उसने इस्लाम अपनाने से इनकार किया तो वो उस जान से मार देंगे। इस संबंध में जगबीर ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत यूपी पुलिस से इंसाफ की गुहार लगाई है। मामले में अयोध्या पुलिस का कहना है कि वो जगबीर की शिकायत पर मामले की जांच कर रहे हैं और जांच रिपोर्ट आने के बाद तथ्यों के आधार पर कानून सम्मत कार्रवाई करेंगे।

Web Title: Hindu woman claims to be 'Muslim' after 12 years in Ayodhya, UP, husband is getting threats to accept 'Islam'

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे