पति को था पत्नी के चरित्र पर शक, मार डाला जान से, जानिए हैवानियत की पूरी कहानी

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: June 20, 2022 10:42 PM2022-06-20T22:42:21+5:302022-06-20T22:46:20+5:30

मुंबई के तिलक नगर पुलिस थाने की ओर से दी गई जानकारी मुताबिक 40 साल के सतीश जवाले को उनकी 30 साल की पत्नी दीपाली की हत्या के आरोप में एक अन्य व्यक्ति के साथ गिरफ्तार किया गया है। सतीश ने दीपाली कत्ल सिर्फ इसलिए कर दिया क्योंकि उसे दीपाली के चरित्र पर शक था।

A husband killed his wife in Mumbai just because he doubted her character | पति को था पत्नी के चरित्र पर शक, मार डाला जान से, जानिए हैवानियत की पूरी कहानी

सांकेतिक तस्वीर

Next
Highlightsअवैध संबंध के वहम में पति ने मार डाला पत्नी को आरोपी पति सतीश जवाले ने अपने दोस्त के साथ मिलकर पत्नी दीपाली की चाकू से हत्या कर दीदीपाली की पांच साल की बेटी इस बात से बेखबर है कि उसके पिता ने ही उसकी मां को मार डाला

मुंबई: एक कातिल पति ने अपने पत्नी को केवल इसलिए मौत के घाट उतार दिया क्योंकि उसे इस बात का वहम था कि उसकी पत्नी का किसी और अवैध संबंध था। इंसानी रिश्तों की सबसे मजबूत बंधन, जिसे विवाह कहते हैं। उसमें बंधने वाले पति ने अपनी पत्नी को महज इसलिए चाकू मारकर मौत की नींद सुला दिया क्योंकि उसे सिर्फ शक था कि पत्नी का किसी और से अफेयर चल रहा है।

जी हां, इस क्रूर घटना के बारे में जानकारी देते हुए तिलक नगर पुलिस ने बताया कि 40 साल के सतीश जवाले को उनकी 30 साल की पत्नी दीपाली की हत्या के आरोप में एक अन्य व्यक्ति के साथ गिरफ्तार किया गया है।

मुंबई पुलिस के मुताबिक आरोपी पति सतीश जवाले ने इस घटना को तब अंजाम दिया, जब पीड़िता एक चाय की दुकान पर अपनी मां का इंतजार कर रही थी। इस वारदात में सबसे दुखद पहलू यह है कि सतीश और दीपाली की एक 5 साल की बेटी भी है, जो इस बात से बेकबर है कि उसके पिता ने ही उसकी मां का कत्ल कर दिया है।

इस मामले में दीपाली की मां नंदा भिंगारे ने तिलक नगर पुलिस स्टेशन में जो शिकायत दर्ज कराई है, उसके मुताबिक दीपाली के पति सतीश और उसके दोस्त स्वप्निल पवार ने मिलकर उनकी बेटी की चाकू मारकर हत्या की है।

नंदा भिंगारे ने बताया कि उन्होंने साल 2012 में सतीश जवाले के साथ अपनी बेटी दीपाली की शादी बड़े ही धूमधाम से की। शादी के बाद दीपाली अपने सतीश के साथ वर्ली के सेंचुरी मिल कंपाउंड के पास रहने लगी। इस बीच उनकी एक बेटी हुई, जो आज की तारीख में 5 साल की है।

मां का आरोप है कि शादी के एक साल बाद ही सतीश दीपाली से झगड़ा करने लगा और बात-बात पर उसकी पिटाई करता था। रोज की मारपीट से तंग आकर दीपाली ने इस बात की सिकायत अपने मां से की।

लगातार हो रही मारपीट और हिंसा को झेलते हुए दीपाली पूरी तरह से टूट चूकी थी। अंत में पति सतीश से हारकर वो अप्रैल अप्रैल 2022 में अपने मायके विद्याविहार में अपनी मां के पास आकर रहने लगी। दीपाली एक ब्यूटीशियन थीं और इसी हुनर की बदौलत उसे कई शादियों और समारोहों में ऑर्डर मिलते थे, जिससे वो अपना और अपनी बेटी का खर्च आसानी से चला लेती थी।

लेकिन जब से दीपाली अपने मां के घर विद्याविहार में शिफ्ट हुई थी, सतीश को पैसों की तंगी होने लगी और वो अक्सर विद्याविहार आकर उससे वापस लौटने की गुहार लगाने लगा। सतीश ने दीपाली से वादा किया कि वो कभी भी उस पर हाथ नहीं उठायेगा।

सतीश की बीतों पर भरोसा करके दीपाली जून 2022 में फिर से अपने पति सतीश के साथ रहने चली गई। मां नंदा भिंगारे ने कहा, "लेकिन सतीश में कोई सुधार नहीं हुआ। 10-12 दिनों तक सब कुछ सही रहा लेकिन उसके बाद सतीश फिर से दीपाली की पिटाई करने लगा।"

जब सतीश ने 12 जून को दीपाली की पिटाई की तो उसने मां को फोन करके सतीश द्वारा की गई हिंसा की जानकारी दी। इसके बाद दीपाली की मां वर्ली थाने गई और वहां सतीश के खिलाफ केस करके दीपाली को अपने साथ विद्याविहार ले गई।

नंदा भिंगारे ने बताया कि 19 जून को रात करीब 9.15 बजे दीपाली घर के पास ही एक चाय की दुकान पर मेरा इंतजार कर रही थी, तभी सतीश अपने दोस्त स्वप्निल पवारके साथ बाइक पर पहुंचा और चाकू से दीपाली पर हमला कर दिया।

घटना के बारे में तिलक नगर पुलिस स्टेशन के प्रभारी ने बताया, "सतीश ने चाकू से दीपाली के गर्दन और गाल पर कई वार किये और उसके बाद अपने दोस्त स्वप्निल पवार के साथ बाइक से फरार हो गया।"

वहीं दीपाली पर हुए हमले के बाद मचे शोर के कारण उसकी मां भी फौरन चाय की दुकान पर पहुंच गई और देखा की अपनी बेटी दीपाली खून से लथपथ जमीन पर गिरी है। स्थानीय लोगों ने फौरन नंदा भिंगारे की मदद की और दीपाली को नजदीक के राजावाड़ी अस्पताल ले गये, जहां डॉक्टरों ने दीपाली को मृत घोषित कर दिया।

वहीं दूसरी ओर हमले के समय वहां खड़े चश्मदीदों ने इसे चेन स्नैचिंग का मामला समझा और बाइक सवार सतीश और उसके दोस्त स्वप्निल पवार का पीछा किया। पीछा करने के क्रम में स्वप्निल पवार की बाइक जैसे ही पंत नगर पहुंची तो सतीश बाइक से फिसल कर जमीन पर गिर गया और बिगड़े बैलेंस के कारण बाइक चला रहा उसका दोस्त स्वप्निल पवार भी नीचे गिर गया।

मौके पर लोगों ने दोनों को पकड़ा और उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया। पकड़े जाने के बाद सतीश ने बताया कि वो मृत दीपाली का पति है और इस तरह से पुलिस के सामने सारा राज खुल गया और पिर पुलिस ने दोनों आरोपियों पर आईपीसी की धारा 302 (हत्या) 34 (समान मंशा) के तहत मामला दर्ज करते हुए गिरप्तार कर लिया और जेल बेजने की तैयारी कर रही है।

Web Title: A husband killed his wife in Mumbai just because he doubted her character

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे