WPI inflation eases to 6 month low of 2.84% in January | खाद्य पदार्थ और तेल के दाम में नरमी से थोक महंगाई घटी

नई दिल्ली, 15 फरवरी। देश में खाद्य पदार्थों व तेल के दाम में नरमी रहने से बीते महीने थोक महंगाई दर में थोड़ी राहत मिली। सरकार की ओर से गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, जनवरी में भारत की वार्षिक थोक महंगाई दर 2.84 फीसदी रही। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की ओर से जारी थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) के आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर 2017 में थोक महंगाई दर 3.58 फीसदी थी, जबकि पिछले साल जनवरी 4.26 फीसदी दर्ज की गई थी। 

क्रमिक आधार पर, डब्ल्यूपीआई में 22.62 फीसदी योगदान करने वाली प्राथमिक वस्तुओं पर खर्च में कमी आई है और इसकी वृद्धि दर जनवरी में 2.37 फीसदी रही है, जबकि दिसंबर में 3.86 फीसदी थी। 

इसी प्रकार, खाद्य पदार्थों की कीमतों में गिरावट आई है। डब्ल्यूपीआई सूचकांक में इस श्रेणी की वस्तुओं का भार 15.26 फीसदी होता है और इसमें वृद्धि दिसंबर 2017 की वृद्धि दर 4.72 फीसदी की तुलना में जनवरी 2018 में तीन फीसदी दर्ज की गई।

इसके अलावा, तेल और ऊर्जा की श्रेणी का भार डब्ल्यूपीआई में 13.15 फीसदी होता है और इस मद के खर्च में दिसंबर 2017 की 9.16 फीसदी की बढ़ोतरी की तुलना में जनवरी में महज 4.08 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

हालांकि विनिर्माण उत्पादों के मदों में खर्च में इजाफा हुआ है। जनवरी में इन उत्पादों पर खर्च में 2.78 फीसदी की बढ़ोतरी हुई, जबकि पिछले महीने यह दर सिर्फ 2.61 फीसदी थी।