5 Images which prove women are breaking the shackles of patriarchy | ये 5 तस्वीरें करती हैं साबित महिलाएँ तोड़ रही हैं पितृसत्ता की जंजीरें
women liberation and 5 viral images of women

कठुआ-उन्नाव गैंगरेप से लेकर हॉलीवुड के #MeToo हैशटैग मूवमेंट से सामने आ रही कहानियों को पढ़-सुन कर अगर आप सोचने लगे हैं कि दुनिया महिलाओं के लिए पहले से बुरी होती जा रही है तो शायद आप पूरी तरह सही नहीं हैं। जहाँ एक तरफ महिलाओं के संग होने वाले अपराध मानवता को शर्मसार कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ इंटरनेट पर इसी साल वायरल हुई पाँच तस्वीरें इस बात का प्रमाण हैं कि महिलाएँ कदम दर कदम पितृसत्ता की जंजीरें तोड़ती जा रही हैं। तमाम महिला-विरोधी खबरों के बीच आइए देखते हैं वो पांच तस्वीरें जिनमें सुनायी देती है बदलाव की आहट।

1- फुटबॉल देखने वाली 5 ईरानी महिलाएँ-

इसी महीने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर और वीडियो वायरल हो गये। तस्वीर में पाँच लड़कियाँ दिख रही थीं जिन्होंने नकली दाढ़ी और मूँछ लगा रखी थीं।  यह तस्वीर अप्रैल के आखिरी शुक्रवार को ईरान के आजादी स्टेडियम में एक फुटबॉल मैच के दौरान ली गयी थी। दुनिया भर के मीडिया और सोशल मीडिया में इस तस्वीर ने हंगामा मचा दिया। इन साधारण सी दिखने वाली लड़कियों ने इस्लामिक मुल्क ईरान का दकियानूसी कानून तोड़ दिया था। ईरान में महिलाओं के पुरुषों के स्पोर्ट स्टेडियम में जाकर देखने की इजाजत नहीं है। इन महिलाओं ने अपनी हिम्मत से न केवल ईरान के इस्लामिक कानून बल्कि हजारों साल पुरानी पितृसत्तात्मक सोच को भी झकझोर दिया।

2-  हॉकी खिलाड़ी सारा स्माल का अपने बच्चे को स्तनपान कराना-

कनाडा की हॉकी की खिलाड़ी सारा स्माल को जरा भी अंदाजा नहीं था कि उनकी एक सिंपल सी तस्वीर उन्हें इंटरनेशल स्टार बना देगी। 24 वर्षीय सारा हॉकी खिलाड़ी हैं, टीचर हैं और एक नवजात बच्चे की माँ हैं। मार्च के आखिरी हफ्ते में सारा एक हॉकी मैच के दौरान हुए ब्रेक में ही लॉकर रूम में अपनी आठ हफ्ते की बच्ची को दूध पिलाने लगीं। सारा टीशर्ट उताकर अपने बच्चे को दूध पिला रही थीं और उनकी साथी खिलाड़ी अपने काम में मशगूल थीं। फेसबुक पर शेयर की गयी सारा की यह तस्वीर आधुनिक नारी के सौंदर्य का प्रतीक बन गयी। सारा की तस्वीर ने साबित कर दिया कि स्त्री के लिए पैशन और माँ का प्यार दोनों एक दूसरे के पूरक हैं। 

3- मक्का मस्जिद में बोर्ड गेम खेलती मुस्लिम महिलाएँ-

सऊदी अरब में स्थित मक्का मस्जिद मुसलमानों का सबसे पवित्र धार्मिक स्थल है। बहुत सारे लोगों के मन में ये धारणा है कि इस्लामिक देशों में महिलांओं पर ज्यादा पाबंदी है। सऊदी अरब में इस साल ही महिलाओं को ड्राइविंग का अधिकार मिला है। इसी साल सऊदी में महिलाओं को पुरुषों के मैच स्टेडियम में जाकर देखने की इजाजत मिली है। ऐसे में महिलाएँ मक्का मस्जिद के अहाते में बैठकर बोर्डगेम खेलती बुर्केनशीं महिलाओं को तस्वीर से हंगामा मचना ही था। फरवरी के आखिरी हफ्ते में ली गयी तस्वीर को लेकर सोशल मीडिया दो फाड़ हो गया। कुछ लोगों ने इन महिलाओं पर मक्का की पवित्रता का ख्याल न रखने का आरोप लगाया तो कुछ लोगों ने इसे उनकी स्वतंत्रता का प्रतीक माना। 

4- मदर मैरी कॉम, चैंपियन मैरी कॉम-

भारतीय बॉक्सर मैरी कॉम जीवित लीजेंड बन चुकी हैं। पाँच बार वर्ल्ड एमैच्योर बॉक्सिंग चैंपियन रह चुकी मैरी ने जब अप्रैल में कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 के दौरान गोल्ड मेडल जीता तो उनकी उपलब्धियों में एक सितारा जुड़ गया। ओलंपिक समेत दुनिया के विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी मैरी कॉम जब कॉमनवेल्थ गोल्ड जीतने के बाद देश अपने बच्चे के साथ पब्लिक में नजर आईं तो उनकी ये तस्वीर देखते ही देखते इंटरनेट पर वायरल हो गयी। मैरी कॉम ने एक बार फिर साबित कर दिया कि अपने करियर में सफलता हासिल करने के लिए मातृत्व की कुर्बानी देना जरूरी नहीं। मैरी कॉम ने साबित कर दिया कि माँ होना शक्ति का प्रतीक है न कि दुर्बलता का।    

5- मर्दों की दुनिया में दो भारतीय महिलाएँ- सुषमा स्वराज और निर्मला सीतारमन 

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हाल ही में इंटरनेट पर भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और भारतीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन की शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन सम्मेलन के दौरान ली गयी तस्वीरें शेयर की। ये तस्वीरें चीन के शंघाई में ली गयी थीं। इन तस्वीरों ने भारतीय सोशल मीडिया यूजर्स का दिल जीत लिया। ये तस्वीरें इसलिए खास बन गई थी कि दोनों तस्वीरों में एससीओ के बाकी सदस्य देशों के पुरुष विदेश मंत्रियों और पुरुष रक्षा मंत्रियों के बीच भारतीय विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री एकमात्र महिलाएँ थीं। जाहिर है हर भारतवासी के लिए ये तस्वीरें गर्व महसूस कराने वाली हैं। पीयूष गोयल ने तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट में लिखा- यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवताः (जहाँ नारी की पूजा होती है वहाँ देवता निवास करते हैं)।

लोकमत न्यूज के लेटेस्ट यूट्यूब वीडियो और स्पेशल पैकेज के लिए यहाँ क्लिक कर के सब्सक्राइब करें

 


Web Title: 5 Images which prove women are breaking the shackles of patriarchy
ज़रा हटके से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे