Highlightsपार्थ ने कोरोना के दौरान खुद के बचाव के लिए एक अनोखी मोटर साइकिल तैयार कर दी। इसके लिए पार्थ ने एक पुरानी बाइक खरीदी और उसके फ्रेम को बढ़ाकर बड़ा कर दिया जिससे जब बाइक में दो लोग बैठें तो उनके बीच कम से कम 1 मीटर की दूरी रहे। पार्थ का कहना है कि अब वो अपनी आठ साल की बेटी के साथ सुरक्षित दूरी बनाए रखते हुए इस बाइक पर कहीं भी जा सकते हैं। इस वाहन को उन्होंने 'कोविड-19 बाइक' नाम दिया है।

कोरोना वायरस से बचाव के लिए सबसे ज्यादा फिजिकल डिस्टेंस (एक-दूसरे से शारीरिक दूरी) बनाए रखने पर जोर दिया जा रहा है। त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में एक व्यक्ति ने कोरोनो वायरस महामारी के दौरान इसी दूरी के महत्व को बताने के लिए एक ऐसी इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल बनाई है जिसमें चालक और सवार के बीच एक मीटर की दूरी रहती है। इस अनोखे मॉडल को बनाने वाले पार्थ साहा की वहां के मुख्यमंत्री ने तारीफ भी की है।

कई बार बिना किसी बड़ी डिग्री और डिप्लोमा वाले लोग भी कुछ ऐसा अविष्कार कर देते हैं कि लोग देखते रह जाते हैं। ऐसा ही अविष्कार किया है स्कूली पढ़ाई पूरी न कर पाने वाले 39 साल के पार्थ साहा। 

पार्थ ने कोरोना के दौरान खुद के बचाव के लिए एक अनोखी मोटर साइकिल तैयार कर दी। इसके लिए पार्थ ने एक पुरानी बाइक खरीदी और उसके फ्रेम को बढ़ाकर बड़ा कर दिया जिससे जब बाइक में दो लोग बैठें तो उनके बीच कम से कम 1 मीटर की दूरी रहे। 

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए पार्थ ने कहा कि उनका उद्देश्य इस बाइक को कॉमर्शियल प्रॉडक्ट के तौर पर लोकप्रिय करने का नहीं है और न ही उन्होंने इसके लिए ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट से किसी तरह की इजाजत ली है। लेकिन इसके जरिए वो लोगों को डिस्टेंसिंग के लिए जागरूक करना चाहते हैं। 

पार्थ का कहना है कि अब वो अपनी आठ साल की बेटी के साथ सुरक्षित दूरी बनाए रखते हुए इस बाइक पर कहीं भी जा सकते हैं। इस वाहन को उन्होंने 'कोविड-19 बाइक' नाम दिया है। इसको बनाने के लिए उन्होंने इस बाइक के पेट्रोल इंजन को निकाल कर उसकी जगह 750 वॉट की डीसी मोटर लगा दिया और मोटर को पॉवर देने के लिए 48 वोल्ट की बैटरी का इस्तेमाल किया। 

लॉकडाउन खत्म होने के बाद वे इस वाहन से अपनी बेटी को स्कूल छोड़ने और लाने के लिए इस्तेमाल करने के बारे में सोच रहे हैं। साहा ने कहा, "मैं नहीं चाहता था कि वह स्कूल बस से आए या जाए, क्योंकि उसमें भीड़ होगी।" 

पार्थ ने कहा कि बैटरी को चार्ज करने में तीन घंटे लगते हैं, जिससे बाइक 80 किलोमीटर तक की यात्रा कर सकती है। उनकी इस बाइक की अधिकतम रफ्तार 40 किलोमीटर प्रति घंटा है। उन्होंने कहा, इसे एक बार चार्ज करने की लागत लगभग 10 रुपये आती है। साहा अपने इस नए वाहन में सड़कों पर यात्रा कर चुके हैं और लोग उनके इस आविष्कार को देखकर आश्चर्यचकित रह गए।

पार्थ अपना खुद का यूट्यूब चैनल टेक्निकल पार्थ नाम से चलाते हैं। इनके 3 लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर्स हैं मिलियन व्यूज हैं। पार्थ ने बताया कि वो 50,000 रुपये अपने यूट्यूब चैनल से कमाते हैं। हालांकि पार्थ ने अपनी कोविड-19 बाइक को अभी तक अपने चैनल पर पोस्ट नहीं किया है।

Web Title: In times of social distancing Tripura man designs bike with seats 1-metre apart

हॉट व्हील्स से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे