Trump may avoid impeachment hearing if Democrats don't have numbers in Senate | सीनेट में डेमोक्रेट के पास संख्या नहीं होने से महाभियोग की सुनवाई से बच सकते हैं ट्रंप
सीनेट में डेमोक्रेट के पास संख्या नहीं होने से महाभियोग की सुनवाई से बच सकते हैं ट्रंप

(ललित के झा)

वाशिंगटन, 27 जनवरी अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप महाभियोग की सुनवाई से बच सकते हैं क्योंकि डेमोक्रेटिक पार्टी इसके लिए रिपब्लिक पार्टी के सांसदों का पर्याप्त समर्थन नहीं जुटा पाई है।

डेमोक्रेटिक पार्टी ने ‘‘विद्रोह भड़काने’’ के आरोप में ट्रंप के खिलाफ प्रतिनिधिसभा में महाभियोग पारित किया है लेकिन महाभियोग पर सुनवाई के लिए उसे सीनेट में दो तिहाई मतों की जरूरत होगी। वर्तमान में सौ सीटों वाली सीनेट में डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन दोनों के 50-50 सदस्य हैं।

दो तिहाई बहुमत के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी को रिपब्लिकन पार्टी के कम से कम 17 सांसदों के समर्थन की जरूरत होगी।

रिपब्लिकन सांसद जॉन बूजमैन ने कहा, ‘‘ मुझे नहीं पता आप 17 सदस्य कहां से लाएंगे।’’

उन्होंने यह बात तक कही जब रिपब्लिकन पार्टी के 50 में से 45 सांसदों ने उस प्रस्ताव पर मतदान किया कि राष्ट्रपति पद छोड़ने के बाद ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की सुनवाई असंवैधानिक है।

रिपब्लिकन सांसद केविन क्रेमर ने कहा सीनेट को महाभियोग की सुनवाई में वक्त नहीं गंवाना चाहिए।

सीनेट में बहुमत के नेता चक शूमर ने तर्क दिया कि पद छोड़ने के बाद भी ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्रवाई की जा सकती है, और यह संवैधानिक है।

उन्होंने कहा, ‘‘ पूर्व राष्ट्रपति ने अमेरिकी के किसी भी राष्ट्रपति के मुकाबले अब तक का सर्वाधिक बड़ा अपराध किया है। मैं और बहुत से लोग ऐसा मानते हैं। सीनेट पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ सुनवाई करेगी और सीनेटर उनके आचरण पर अपना फैसला सुनाएंगे।’’

वहीं सीनेटर रोजर विकार ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग की कार्रवाई एक गलती है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Trump may avoid impeachment hearing if Democrats don't have numbers in Senate

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे