There is no 'ceasefire plan' in Afghanistan: Taliban | अफगानिस्तान में ‘संघर्ष विराम की कोई योजना नहीं’ हैः तालिबान
हमले में मारे गए 14 लोगों में से 13 सरकार समर्थित मिलिशिया के सदस्य थे और एक पुलिसकर्मी था।

Highlightsसोमवार को सरकार समर्थित मिलिशिया के परिसर पर हमला किया जिसमें अफगान सुरक्षा बलों के 14 सदस्यों की मौत हो गई। एक स्थानीय अधिकारी ने यह जानकारी दी। तालिबान ने फौरन हमले की जिम्मेदारी ले ली।

तालिबान ने अफगानिस्तान में किसी भी संघर्ष विराम पर सहमत होने संबंधी खबरों को सोमवार को खारिज किया।

तालिबान ने एक बयान में कहा, ‘‘कुछ मीडिया पिछले कुछ दिनों में संघर्ष विराम के बारे में गलत खबरें जारी कर रहे है...तथ्य यह है कि अफगानिस्तान इस्लामी अमीरात की संघर्ष विराम की कोई योजना नहीं है।’’ तालिबान ने उत्तरी अफगानिस्तान में सुबह होने से पहले सोमवार को सरकार समर्थित मिलिशिया के परिसर पर हमला किया जिसमें अफगान सुरक्षा बलों के 14 सदस्यों की मौत हो गई।

एक स्थानीय अधिकारी ने यह जानकारी दी। तालिबान ने फौरन हमले की जिम्मेदारी ले ली। इस हमले से कुछ घंटे पहले तालिबान ने बताया था कि उनके काउंसिल के नेताओं के बीच अस्थायी देशव्यापी संघर्ष विराम पर सहमति बनी है। यह स्पष्ट नहीं था कि संघर्ष विराम कब से प्रभावी होगा।

गवर्नर के प्रवक्ता अब्दुल मारूफ अजेर ने बताया कि जौज़जान प्रांत में हुए हमले में मारे गए 14 लोगों में से 13 सरकार समर्थित मिलिशिया के सदस्य थे और एक पुलिसकर्मी था। उन्होंने बताया कि हमले में पांच अन्य मिलिशिया सदस्य जख्मी हो गए और दो लापता हैं।

उन्होंने बताया कि अतिरिक्त बल बाद में इलाके में पहुंच पाए और अब यह परिसर पूरी तरह से सरकार के नियंत्रण में है। इस बीच, अमेरिकी सेना ने अफगान सुरक्षा बलों के साथ सैन्य अभियानों की रातभर की रिपोर्ट में कहा कि देशभर में तालिबान के 30 लड़ाके मारे गए और कई अन्य आतंकवादियों को हिरासत में लिया गया है। तालिबान ने हाल के दिनों में उत्तरी अफगानिस्तान में अपने हमले तेज कर दिए हैं। 

Web Title: There is no 'ceasefire plan' in Afghanistan: Taliban
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे