पत्रकार खशोगी हत्या केस: अमेरिका ने दिया सऊदी क्राउन प्रिंस का साथ, मोहम्मद बिन सलमान को बचाने के लिए उठाया यह कदम

By भाषा | Published: November 18, 2022 12:34 PM2022-11-18T12:34:23+5:302022-11-18T12:45:11+5:30

मामले में राज्य विभाग ने गुरुवार को खशोगी की हत्या में सऊदी क्राउन प्रिंस को अमेरिकी अदालतों से बचाने की कोशिश करने के प्रशासन के फैसले को “विशुद्ध रूप से एक कानूनी दृढ़ संकल्प” करार दिया है।

Journalist Khashoggi murder casAmerica supported Saudi Crown Prince took step save Mohammed bin Salman | पत्रकार खशोगी हत्या केस: अमेरिका ने दिया सऊदी क्राउन प्रिंस का साथ, मोहम्मद बिन सलमान को बचाने के लिए उठाया यह कदम

फोटो सोर्स: ANI फाइल फोटो

Next
Highlightsयूएस पत्रकार खशोगी हत्या केस में अमेरिका ने सऊदी क्राउन प्रिंस का साथ दिया है।मामले में राष्ट्रपति जो बाइडन प्रशासन ने कहा है कि इस मुकदमे में क्राउन प्रिंस को प्रतिरक्षा मिलनी चाहिए। इस पर मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के साथ कई और अमेरिकी सांसदों ने कड़ी नाराजगी भी जताई है।

वाशिंगटन डीसी: राष्ट्रपति जो बाइडन प्रशासन ने गुरुवार को घोषणा की कि सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस के कार्यालय को उन्हें अमेरिका के पत्रकार की हत्या मामले में उनकी भूमिका के लिए मुकदमों से बचाना चाहिए। यह एक बड़ा बदलाव है क्योंकि इस नृशंस हत्या को लेकर प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की निंदा के लिए जो बाइडन ने जोरदार आभियान चला चुके हैं। 

क्राउन प्रिंस को मुकदमे में प्रतिरक्षा मिलनी की कही गई है बात 

प्रशासन ने कहा कि प्रिंस की आधिकारिक स्थिति से उन्हें ‘वाशिंगटन पोस्ट’ के मारे गये लेखक जमाल खशोगी की मंगेतर और उनके द्वारा स्थापित अधिकार समूह ‘डेमोक्रेसी फॉर द अरब वर्ल्ड नाउ’ द्वारा दायर मुकदमे में प्रतिरक्षा मिलनी चाहिए। 

आपको बता दें कि राज्य विभाग ने गुरुवार को खशोगी की हत्या में सऊदी क्राउन प्रिंस को अमेरिकी अदालतों से बचाने की कोशिश करने के प्रशासन के फैसले को “विशुद्ध रूप से एक कानूनी दृढ़ संकल्प” करार दिया है। 

इस पर मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और कई अमेरिकी सांसदों ने जताई नाराजगी

साथ ही कहा कि अनुरोध गैर-बाध्यकारी है और एक न्यायाधीश अंततः निर्णय करेगा कि प्रतिरक्षा प्रदान की जाए या नहीं। लेकिन इससे मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और कई अमेरिकी सांसदों का नाराज होना तय है। 

क्योंकि सऊदी अरब ने देश और विदेश में शांतिपूर्ण आलोचकों के खिलाफ कारावास और अन्य जवाबी कार्रवाई को कड़ा करने समेत तेल उत्पादन में कटौती कर दी है। तेल में कटौती के इस कदम को अमेरिका और उसके सहयोगियों के उस दमनकारी प्रयास के रूप में देखा जा रहा है जिसका मकसद यूक्रेन के खिलाफ युद्ध के लिए रूस को दंडित करना है।

Web Title: Journalist Khashoggi murder casAmerica supported Saudi Crown Prince took step save Mohammed bin Salman

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे